--Advertisement--

सूर्य ग्रहण : वृष और कुंभ राशि के लोगों को हो सकती है स्वास्थ्य संबंधी परेशानी, सिंह, कन्या और मीन राशि के लोगों को मिल सकता है लाभ

13 जुलाई को सूर्य ग्रहण : मेष से मीन तक, कैसा रहेगा सभी 12 राशियों पर असर

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 12:12 PM IST
शुक्रवार, 13 जुलाई को सूर्य ग्रह शुक्रवार, 13 जुलाई को सूर्य ग्रह

रिलिजन डेस्क. शुक्रवार, 13 जुलाई को सूर्य ग्रहण होगा। इस दिन सूर्य मिथुन राशि में रहेगा। सूर्य के साथ ही चंद्रमा भी इसी राशि में रहेगा। ये सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। इसलिए ग्रहण के सूतक का असर भारत में नहीं होगा। ग्रहण आस्ट्रेलिया, दक्षिणी विक्टोरिया, तस्मानिया, प्रशांत और हिंद महासागर में दिखाई देगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार सूर्य ग्रहण सुबह लगभग 7.19 बजे से शुरू होगा और 9.44 तक रहेगा। सूर्य ग्रहण का सभी 12 राशियों पर असर होगा। वृष और कुंभ राशि के लोगों को इससे स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो सकती है वहीं सिंह, कन्या और मीन राशि के लोगों के लिए लाभ के योग बन रहे हैं।
मेष : इस राशि के लोगों को मित्रों की मदद से लाभ मिल सकता है। आय में वृद्धि के योग बन रहे हैं। खान-पान में सावधानी रखें। परिवार के साथ सुखद वक्त व्यतीत होगा।
वृष : सूर्य ग्रहण की वजह से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती हैं। धन हानि के योग बन रहे हैं, सावधानी से काम करें।
मिथुन : इस राशि के लिए लाभ के अवसर बन रहे हैं। कार्यक्षेत्र में कोई बड़ा फायदा मिल सकता है। घर के लोगों के साथ विवाद न करें, वरना बात ज्यादा बिगड़ सकती है।
कर्क : घर-परिवार में मनमुटाव हो सकता है। वाहन चलाते समय सावधानी रखें, दुर्घटना के योग बन रहे हैं। मन शांत रखें।
सिंह : नौकरी में तरक्की के योग बन रहे हैं। जीवन साथी से सुख मिल सकता है। दोस्तों की मदद से लाभ मिलेगा, लेकिन मेहनत थोड़ी ज्यादा करनी पड़ेगी।
कन्‍या : आने वाले समय में आपके लिए कुछ अच्छे योग बन रहे हैं। वाद-विवाद में आपकी जीत होगी। व्यापारियों को सावधान होकर काम पड़ेगा।
तुला राशि : तुला राशि के लोगों को जीवन साथी की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। सावधानी से काम करें।
वृश्चिक : इस राशि के लोग सूर्य के कारण कार्य समय पर पूरे नहीं कर पाएंगे। उच्च अधिकारियों से वाद-विवाद हो सकता है। बातचीत करते समय सावधान रहें।
धनु : आपके लिए समय थोड़ा कठिन हो सकता है। इष्ट देव का ध्यान करें। धीरे-धीरे समय आपके पक्ष में हो जाएगा। धैर्य से काम लें।
मकर : सूर्य के कारण आपके खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है, लेकिन आय बढ़ने के भी योग हैं। वाहन चलाते समय और खान-पान के संबंध में सावधान रहें।
कुंभ : अनावश्यक खर्चों के कारण परेशानियां बढ़ सकती हैं। रक्त संबंधी बीमारी हो सकती है, लेकिन जल्दी ही स्वास्थ्य लाभ मिल सकता है।
मीन : सूर्य ग्रहण के कारण नौकरी में लाभ मिलने के योग हैं। संतान के मामले में कोई शुभ समाचार मिल सकता है। परिवार में सुखद वातावरण रहेगा।
सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभव से बचने के उपाय
- ग्रहण के समय मंत्रों का मानसिक जाप करना चाहिए। मानसिक जाप यानी धीरे-धीरे अपने इष्टदेव के मंत्रों का जाप करना चाहिए।
- सूर्य देव को जल चढ़ाएं और ऊँ सूर्याय नम: मंत्र का जाप 108 बार करें।
- गाय को हरी घास खिलाएं। किसी गरीब को धन का दान करें।
- सूर्य ग्रहण के बाद शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं।
न करें शुभ कार्य
- सूतक काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। सूतक काल में पूजा पाठ और देवी देवताओं की मूर्तियों को छूना वर्जित है।
- इस दौरान कोई शुभ कार्य शुरू करना अच्छा नहीं माना जाता।
- ग्रहण काल में पूजा-पाठ नहीं करना चाहिए। इसीलिए इस समय में मंदिर बंद कर दिए जाते हैं।
इनसे भी बचें
- गर्भवती स्त्री को ग्रहण काल में घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। अगर इस बात का ध्यान नहीं रखा जाता है तो गर्भ में पल रहे शिशु के स्वास्थ्य पर बुरा असर हो सकता है।
- ग्रहण काल में पति-पत्नी को दूरी बनाकर रखनी चाहिए। इस दौरान शारीरिक संबंध बनाने से बचना चाहिए। ग्रहण के समय बने संबंध से उत्पन्न होने वाली संतान को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
क्या होता है सूर्यग्रहण?
- पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमने के साथ-साथ सूर्य के चारों ओर भी चक्कर लगाती है।
- दूसरी ओर, चंद्रमा पृथ्वी का चक्कर लगता है, इसलिए, जब भी चंद्रमा चक्कर काटते-काटते सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है।
- तब पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से दिखना बंद हो जाता है। इसी घटना को सूर्यग्रहण कहा जाता है।
- इस खगोलीय स्थिति में सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी तीनों एक ही सीधी रेखा में आ जाते हैं।
- सूर्यग्रहण अमावस्या के दिन होता है,जबकि चंद्रग्रहण हमेशा पूर्णिमा के दिन पड़ता है।