Hindi News »Business» Eight Out Of Ten Car Purchases In India To Be Mobile Influenced By 2022 Says Report

मोबाइल मार्केटिंग से 2022 तक वाहन बिक्री 36 लाख यूनिट बढ़ सकती है: रिपोर्ट

व्हीकल खरीदने से पहले ग्राहक मोबाइल पर ज्यादा रिसर्च करते हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 05, 2018, 06:58 PM IST

मोबाइल मार्केटिंग से 2022 तक वाहन बिक्री 36 लाख यूनिट बढ़ सकती है: रिपोर्ट
  • 2022 तक 56 लाख कारों और 3.09 करोड़ दोपहिया वाहनों की बिक्री का अनुमान
  • 10 लाख कार, 26 लाख दोपहिया वाहन मोबाइल मार्केटिंग से बिकने की गुंजाइश

नई दिल्ली. देश की ऑटो इंडस्ट्री पर डिजिटल मार्केटिंग का असर 2022 तक करीब 81% बढ़ जाएगा। कारों की 81% और टू-व्हीलर की 68% बिक्री डिजिटल मार्केटिंग खासकर मोबाइल से किए जाने वाले प्रचार से प्रभावित होने की उम्मीद है। फेसबुक और केपीएमजी की रिपोर्ट में ये बात सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक देश के ऑटोमोबाइल बाजार में 2022 तक 56 लाख फोर-व्हीलर और 3.09 करोड़ दोपहिया वाहनों की बिक्री का अनुमान है। मोबाइल मार्केटिंग की मदद से वाहनों की बिक्री 36 लाख यूनिट तक बढ़ सकती है। साल 2022 तक संभावित वाहन बिक्री में 10 लाख कार और 26 लाख दोपहिया वाहन मोबाइल मार्केटिंग के जरिए बिकने की गुंजाइश है। मोबाइल मार्केटिंग का असर तब तक इतना बढ़ जाएगा कि 10 में से 8 कारों की बिक्री इससे प्रभावित होगी।

फेसबुक इंडिया के डायरेक्टर संदीप भूषण ने कहा कि वाहन खरीदने से पहले ग्राहक डीलर के पास जाने की बजाय मोबाइल पर रिसर्च करना पसंद करते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए कंपनियों को अपनी रणनीति बनानी चाहिए। केपीएमजी इंडिया (मीडिया एंड टेलीकॉम) के पार्टनर और हेड मृत्युंजय कुमार का कहना है कि, ये रिपोर्ट वाहन बनाने वाली कंपनियों और मार्केटिंग कंपनियों की मदद के मकसद से तैयार की गई है, ताकि वो इसके मुताबिक अपनी स्ट्रेटेजी बनाकर बिक्री बढ़ा सकें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×