विज्ञापन

सुबह उठते ही 10 स्टेप्स में करें सूर्य का एक उपाय, बुरे से बुरा समय हो सकता है दूर

dainikbhaskar.com

Jun 08, 2018, 04:06 PM IST

10 June को एकादशी और रविवार का योग बन रहा है, इस योग में विष्णुजी के साथ ही सूर्य की पूजा भी जरूर करें।

Ekadashi and sunday on 10 june, surya puja ke upay, how to worship to lord sun
  • comment

रिलिजन डेस्क। रविवार, 10 जून को ज्येष्ठ मास के अधिक मास की एकादशी है। रविवार को एकादशी होने से ये तिथि बहुत खास हो गई है। अधिक मास में और एकादशी तिथि पर भगवान विष्णु की पूजा विशेष रूप से की जाती है। ज्योतिष में सूर्य को रविवार का कारक ग्रह माना गया है। एकादशी और रविवार के योग में विष्णुजी के साथ ही सूर्य के उपाय भी किए जाए तो बुरा समय दूर हो सकता है।

उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी पं. सुनील नागर के अनुसार जानिए एकादशी पर सूर्य पूजा करने की सामान्य विधि। ये विधि 10 स्टेप्स में बताई गई है। इस विधि से आप रोज सूर्य को जल चढ़ा सकते हैं।

1. सुबह जल्दी उठें और स्नान के बाद सूर्य पूजा के लिए तांबे की थाली और तांबे के लोटे का लें। किसी ऐसे स्थान पर जाएं जहां से सूर्य देव आसानी दिख रहे हैं।

2. लोटे में साफ जल भरें और थाली में लाल चंदन, लाल फूल, चावल, प्रसाद के लिए गुड़ और अन्य पूजन सामग्री रखें। एक दीपक रखें।

3. लोटे में जल के साथ एक चुटकी लाल चंदन पाउडर मिला लें। लोटे में लाल फूल भी डाल लें। थाली में दीपक जलाएं और लोटा रख लें। थाली नीचे जमीन पर रखें।

4. इसके बाद ऊँ सूर्याय नमः मंत्र का जाप करते हुए सूर्यदेव को प्रणाम करें।

5. लोटे से सूर्य देवता को जल चढ़ाएं। सूर्य मंत्र का जाप करते रहें। इस प्रकार से सूर्य को जल चढ़ाना सूर्य को अर्घ्य देना कहलाता है।

6. अर्घ समर्पित करते समय लोटे से गिरने वाली जल की धारा से सूर्य को देखें।

7. ऊँ सूर्याय नमः अर्घ्यं समर्पयामि कहते हुए पूरा जल सूर्यदेव को चढ़ाएं।

8. सूर्य को अर्घ्य देने के बाद सूर्य देव की आरती करें। गुड़ का प्रसाद चढ़ाएं।

9. सूर्य का ध्यान करते हुए सात प्रदक्षिणा करें और हाथ जोड़कर प्रणाम करें।

10. पूजा के बाद गुड़ का प्रसाद घर के लोगों में वितरित करें।

X
Ekadashi and sunday on 10 june, surya puja ke upay, how to worship to lord sun
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन