• Home
  • Breaking News
  • जहाजों के उत्सर्जन घटाने आईएमओ की बैठक मंगलवार को
--Advertisement--

जहाजों के उत्सर्जन घटाने आईएमओ की बैठक मंगलवार को

जहाजों के उत्सर्जन घटाने आईएमओ की बैठक मंगलवार को

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 08:45 PM IST
जहाजों के उत्सर्जन घटाने आईएमओ की बैठक मंगलवार को

विशेषज्ञों ने रविवार को बताया कि यह साल भारत के लिए नौवहन से ग्रीनहाउस गैस उर्त्सन की बढ़ती समस्या को कम करने के लिए कदम उठाने की दिशा में भी निर्णायक हो सकता है।
भारत आईएमओ के आरंभिक दौर के सदस्यों में शुमार है। भारत 1959 में आईएमओ में शामिल हुआ था।
लंदन की बैठक में हिस्सा लेने जा रहे एक भारतीय वार्ताकार ने कहा, ""2016 से लेकर अबतक महत्वाकांक्षी लक्ष्य के पक्ष व विपक्ष में कई दलीलें दी जा चुकी हैं। चीन की अगुवाई में अति संरक्षणवादी दृष्टिकोण को भारत व ब्राजील के समर्थन मिलने से आंकड़े आधारित लक्ष्य व पेरिस समझौत के अनुरूप एक समान लेकिन अलग-अलग दायित्व सिद्धांत को अपनाने की मांग की जा रही है।""
चीन दुनिया का सबसे बड़ा जहाज संचालक है और कुलभार के मामले में वह दुनिया का तीसरा देश है।
पेरिस जलवायु समझौता 2015 से नौवहन को अलग कर दिया गया है, क्योंकि यह वैश्विक सीमापार उद्योग है, जिसमें किसी खास देश के योगदान को कम करना कठिन या असंभव है।
संयुक्त राष्ट्र की रपट के मुताबिक, चीन की तुलना में भारत और ब्राजील की भागीदारी नौवहन उद्योग में बहुत कम है। विश्व में इनकी हिस्सेदारी क्रमश: 1.21 फीसदी और 0.88 फीसदी है।
--आईएएनएस