--Advertisement--

विश्व कप: पहली बार इंग्लैंड पेनल्टी शूट आउट में जीता, कोलंबिया को 4-3 से हराकर 12 साल बाद आखिरी 8 में पहुंचा

इग्लैंड आखिरी बार 2006 में क्वार्टर फाइनल में पहुंचा था। उसके बाद 2 विश्व कप में वह नाकाम रहा था।

Dainik Bhaskar

Jul 04, 2018, 03:07 AM IST
कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी रोकते इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड। कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी रोकते इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड।

  • कोलंबिया विश्व कप के लगातार 9वें मैच में गोल करने में सफल रहा
  • इस विश्व कप में कोलंबिया की टीम ने 6 और इंग्लैंड ने 9 गोल किए
  • कोलंबिया के जेम्स रोड्रिगेज चोट के कारण टीम में शामिल नहीं किए गए
  • हैरी केन एक विश्व कप में पेनल्टी से 3 गोल करने वाले इंग्लैंड के पहले खिलाड़ी बने
  • निर्धारित समय खत्म होने के बाद इंजरी टाइम में इंग्लैंड ने पहली बार गोल खाया

मॉस्को (रूस). विश्व कप के 8वें और आखिरी प्री-क्वार्टर फाइनल में मंगलवार को इंग्लैंड ने कोलंबिया को पेनल्टी शूट आउट में 4-3 से हरा दिया। इसके साथ ही वह 12 साल बाद विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गया। जहां उसका मुकाबला 7 जुलाई को स्वीडन से होगा। विश्व कप इतिहास में इंग्लैंड पहली बार पेनल्टी शूट आउट में जीता। इससे पहले निर्धारित समय तक दोनों टीमें 1-1 से बराबर थीं। इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन ने 58वें मिनट में पेनल्टी से गोल किया। उनके इस विश्व कप में 6 गोल हो गए हैं। इनमें से 3 गोल पेनल्टी से आए हैं। वहीं फुल टाइम के बाद 90+3 मिनट में कोलंबिया के येरी मिना ने गोलकर टीम को बराबरी दिलाई। एक्सट्रा टाइम में दोनों टीमें कोई भी गोल नहीं कर सकीं।

पेनल्टी शूट आउट में कोलंबिया के दो और इंग्लैंड के एक खिलाड़ी चूके

पेनल्टी संख्या कोलंबिया इंग्लैंड
1 फल्काओ-सफल हैरी केन-सफल
2 कुआड्राडो-सफल रैशफोर्ड-सफल
3 मुरिएल-सफल हैंडरसन-नाकाम
4 यूरिब-नाकाम ट्रिपिएर-सफल
5 बाका-नाकाम

डायर-सफल

इंग्लैंड बड़े टूर्नामेंट में 8 पेनल्टी शूट आउट में से सिर्फ दो बार जीता

टूर्नामेंट साल राउंड किसके खिलाफ नतीजा
विश्व कप 2018 प्री-क्वार्टर फाइनल कोलंबिया जीता
यूरो कप 2012 क्वार्टर फाइनल इटली हारा
विश्व कप 2006 क्वार्टर फाइनल पुर्तगाल हारा
यूरो कप 2004

क्वार्टर फाइनल

पुर्तगाल हारा
विश्व कप 1998 प्री-क्वार्टर फाइनल अर्जेंटीना हारा
यूरो कप 1996 सेमी फाइनल जर्मनी हारा
यूरो कप 1996 क्वार्टर फाइनल स्पेन जीता
विश्व कप 1990 सेमी फाइनल पश्चिमी जर्मनी हारा

लगातार 6 मैच में हैरी केन ने किया गोलः 1939 के बाद लगातार 6 मैच में गोल करने वाले हैरी केन पहले इंग्लिश खिलाड़ी बने, इससे पहले टॉमी लॉटन ने किया था। केन एक विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल करने वाले अपने देश के संयुक्त रूप से नंबर एक खिलाड़ी बन गए। उन्होंने गैरी लिनेकर की बराबरी की। लिनेकर ने 1990 विश्व कप में 6 गोल किए थे। साथ ही विश्व कप में इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा 10 गोल का रिकॉर्ड भी लिनेकर के नाम है। उनके बाद अब केन दूसरे नंबर पर हैं।

16 साल बाद किसी खिलाड़ी ने हेडर से तीन गोल किए: कोलंबिया के येरी मिना ने इस विश्व कप में अब तक 3 गोल किए और तीनों हेडर से आए। इससे पहले जर्मनी के मिरोस्लाव क्लोस ने 2002 में हेडर से 3 गोल किए थे। मिना का ये गोल विश्व कप इतिहास में 90वें मिनट में किया गया 99वां गोल है। 1966 के बाद से मिना एक विश्व कप में 3 से ज्यादा गोल करने वाले 5वें डिफेंडर हैं। साथ ही इस लिस्ट में वे अकेले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने तीनों गोल हेडर से ही किए।

कोलंबिया को सिर्फ 2 कॉर्नर मिले, जिसमें 1 को गोल में बदला

टीम गोल का प्रयास कॉर्नर बॉल पजेशन पास पास एक्यूरेसी यलो कार्ड
कोलंबिया 14 2 48% 516 78% 6
इंग्लैंड 16 7 52% 572

82%

2

कोलंबिया के 6 खिलाड़ियों को मिला यलो कार्ड: मैच के 41वें मिनट में कोलंबिया के बारिओस को मैच का पहला यलो कार्ड मिला। उसके बाद कोलंबिया के ही एरियास को 52वें, कार्लोस सांचेज को 54वें, फल्काओ को 63वें, बाका को 64वें और कुआड्राडो को 118वें मिनट में यलो कार्ड दिया गया। इंग्लैंड के हैंडरसन को 56वें और लिंगार्ड को 69वें मिनट में रेफरी ने यलो कार्ड दिखाया।

कोलंबिया ने मैच में पहला बदलाव करते हुए 61वें मिनट में लेरमा की जगह बाका को मैदान पर भेजा। उसके बाद उसने 79वें मिनट में कार्लोस सांचेज की जगह यूरिब, 88वें मिनट में क्विंतेरो की जगह मुरिएल और 116वें मिनट एरियास की जगह जपाटा को मैदान पर उतारा। इग्लैंड ने 81वें मिनट में डेले अली की जगह डायर, 88वें मिनट में स्टर्लिंग की जगह वार्डी, 102वें मिनट में यंग की जगह रोज और 113वें मिनट में वाल्कर की जगह रेशफोर्ड को मैदान पर उतारा।

टीमें:

कोलंबिया (शुरुआती एकादश): ओस्पिना, एरियास, बारिओस, कार्लोस सांचेज, फल्काओ, कुआड्राडो, यूरी मीना, लेरमा, मोजिका, क्विंतेरो, डेविंसन सांचेज।

इंग्लैंड (शुरुआती एकादश): पिकफोर्ड, वाल्कर, स्टोंस, मैगुआएर, लिंगार्ड, हैंडरसन, ट्रिपिएर, यंग, डेले अली, हैरी केन, रहीम स्टर्लिंग।

कोलंबिया के लिए मैच में पहला गोल करने के बाद खुशी मनाते येरी मीना (13 नंबर की जर्सी में)। कोलंबिया के लिए मैच में पहला गोल करने के बाद खुशी मनाते येरी मीना (13 नंबर की जर्सी में)।
इस विश्व कप में अपना छठा गोल करने के बाद खुशी मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन। इस विश्व कप में अपना छठा गोल करने के बाद खुशी मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन।
कोलंबिया के कप्तान फल्काओ (9 नबंर की पीली जर्सी में) को समझाते मैच रेफरी। कोलंबिया के कप्तान फल्काओ (9 नबंर की पीली जर्सी में) को समझाते मैच रेफरी।
कोलंबिया और इंग्लैंड का मैच अपने चेहरे को पेंट कराकर देखने पहु्ंचा एक प्रशंसक। कोलंबिया और इंग्लैंड का मैच अपने चेहरे को पेंट कराकर देखने पहु्ंचा एक प्रशंसक।
X
कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी रोकते इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड।कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी रोकते इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड।
कोलंबिया के लिए मैच में पहला गोल करने के बाद खुशी मनाते येरी मीना (13 नंबर की जर्सी में)।कोलंबिया के लिए मैच में पहला गोल करने के बाद खुशी मनाते येरी मीना (13 नंबर की जर्सी में)।
इस विश्व कप में अपना छठा गोल करने के बाद खुशी मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन।इस विश्व कप में अपना छठा गोल करने के बाद खुशी मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन।
कोलंबिया के कप्तान फल्काओ (9 नबंर की पीली जर्सी में) को समझाते मैच रेफरी।कोलंबिया के कप्तान फल्काओ (9 नबंर की पीली जर्सी में) को समझाते मैच रेफरी।
कोलंबिया और इंग्लैंड का मैच अपने चेहरे को पेंट कराकर देखने पहु्ंचा एक प्रशंसक।कोलंबिया और इंग्लैंड का मैच अपने चेहरे को पेंट कराकर देखने पहु्ंचा एक प्रशंसक।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..