--Advertisement--

विश्व कपः क्रोएशिया के खिलाफ अर्जेंटीना का पलड़ा भारी, पहली बार आमने-सामने होंगे डेनमार्क-ऑस्ट्रेलिया

दक्षिण अमेरिकी टीमों के खिलाफ क्रोएशिया का रिकॉर्ड खराब रहा है। इन टीमों के खिलाफ उसे 4 बार हार का सामना करना पड़ा है।

Danik Bhaskar | Jun 21, 2018, 10:17 AM IST
अभ्यास के लिए अपने कप्तान लियोनेल मेसी के साथ यूकेतारिनबर्ग स्टेडियम पहुंचे अर्जेंटीनी टीम के खिलाड़ी। अभ्यास के लिए अपने कप्तान लियोनेल मेसी के साथ यूकेतारिनबर्ग स्टेडियम पहुंचे अर्जेंटीनी टीम के खिलाड़ी।

  • ग्रुप सी में फ्रांस और डेनमार्क 3-3 अंक के साथ पहले और दूसरे नंबर पर हैं
  • ग्रुप डी में क्रोएशिया 3 और अर्जेंटीना 1 अंक के साथ पहले और दूसरे नंबर पर हैं

मॉस्को. फुटबॉल विश्व कप में 8वें दिन गुरुवार को 3 मुकाबले होंगे। पहला- डेनमार्क-ऑस्ट्रेलिया, दूसरा- फ्रांस-पेरू, तीसरा- अर्जेंटीना-क्रोएशिया के बीच खेला जाएगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेनमार्क और पेरू के खिलाफ फ्रांस यदि मैच जीत जाते हैं तो दोनों की आखिरी 16 में जगह पक्की हो जाएगी। वहीं, अर्जेंटीना को यदि प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचना है तो उसे हर हाल में क्रोएशिया को हराना ही होगा। आंकड़े भी अर्जेंटीना के पक्ष में हैं।

21 जून को होने वाले मुकाबले

मुकाबला ग्रुप वेन्यू शुरुआत का भारतीय समय
डेनमार्क v/s ऑस्ट्रेलिया सी समारा एरिना शाम 5:30 बजे
फ्रांस v/s पेरू सी यूकेतारिनबर्ग एरिना शाम 8:30 बजे
अर्जेंटीना v/s क्रोएशिया डी निझमी नोवोग्राद स्टेडियम रात 11:30 बजे

16 साल से ग्रुप मुकाबलों में हारा नहीं है अर्जेंटीना
अर्जेंटीना 2002 से अपने ग्रुप में अजेय रहा है। तब से उसने 8 जीत हासिल कीं और 3 ड्रॉ खेले। 2002 में उसे इंग्लैंड ने 1-0 से हराया था। अर्जेंटीना 21 जून को विश्व कप में 5 मैच खेल चुका है। इसमें उसने 4 में जीत हासिल की, जबकि 1 मुकाबला ड्रॉ खेला। अर्जेंटीना और क्रोएशिया इससे पहले 4 बार आमने-सामने हुए हैं। इनमें अर्जेंटीना 2 और क्रोएशिया 1 मैच जीतने में सफल रहा। आखिरी बार दोनों 12 नवंबर, 2014 को लंदन में भिड़े थे। विश्व कप में दोनों दूसरी बार आमने-सामने होंगे। 1998 में अर्जेंटीना ने क्रोएशिया के खिलाफ 1-0 से जीत दर्ज की थी।

40 साल से विश्व कप में नहीं जीता है पेरू
इस मैच से पहले फ्रांस और पेरू का आमना-सामना 28 अप्रैल को हुए एक मैत्री मैच में हुआ था। तब पेरू ने 1-0 से जीत दर्ज की थी। पेरू ने 1978 के बाद फीफा वर्ल्ड कप में 7 मैच खेले हैं, लेकिन इनमें से एक भी नहीं जीता। 1978 में उसने ईरान को 4-1 से हराया था। यह तीसरा विश्व कप है जब फ्रांस 21 जून को अपना मैच खेलेगा। 1982 में उसने इसी दिन हुए मुकाबले में कुवैत को 4-1 से हराया था। वहीं 1986 में 21 जून को हुए क्वार्टर फाइनल में उसने ब्राजील को बाहर का रास्ता दिखाया था। वहीं, 40 साल पहले 21 जून के दिन पेरू को विश्व कप में सबसे बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। तब उसे दूसरे दौर में अर्जेंटीना ने 6-0 से हराया था। दक्षिण अमेरिकी टीम के खिलाफ फ्रांस ने अब तक 13 मैच खेले हैं। इनमें से उसने 4 जीते और 5 हारे हैं। हालांकि, 1978 में अर्जेंटीना से 2-0 से हारने के बाद से वह अपराजेय है।


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेनमार्क का सक्सेस रेट 75%
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेनमार्क का रिकॉर्ड बेहतर है। दोनों के बीच अब तक 3 मैच हुए हैं। इनमें से 2 डेनमार्क और 1 ऑस्ट्रेलिया ने जीता है। हालांकि, तीनों ही मैत्री मैच थे। विश्व कप में दोनों कभी भी एक दूसरे के खिलाफ नहीं खेले हैं। विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया पिछले लगातार 4 मैच हारा है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच से पहले समारा एरिना में अभ्यास करती डेनमार्क की टीम। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच से पहले समारा एरिना में अभ्यास करती डेनमार्क की टीम।
फ्रांस के खिलाफ मैच में अपनी टीम का हौसला बढ़ाने के लिए पेरू के प्रशंसक रूस पहुंच चुके हैं। फ्रांस के खिलाफ मैच में अपनी टीम का हौसला बढ़ाने के लिए पेरू के प्रशंसक रूस पहुंच चुके हैं।