Hindi News »Business» First Time In 20 Years China Post Current Account Deficit On Half Yearly Basis

चीन को 20 साल में पहली बार छमाही आधार पर चालू खाते का घाटा, 1.94 लाख करोड़ रुपए पहुंचा आंकड़ा

जनवरी-मार्च तिमाही में चालू खाता घाटा 2.34 लाख करोड़ रुपए रहा था

DainikBhaskar.com | Last Modified - Aug 08, 2018, 03:11 PM IST

चीन को 20 साल में पहली बार छमाही आधार पर चालू खाते का घाटा, 1.94 लाख करोड़ रुपए पहुंचा आंकड़ा

बीजिंग. चीन ने 20 साल में पहली बार छमाही आधार पर चालू खाता घाटा (सीएडी) दर्ज किया है। 2018 के शुरुआती 6 महीने (जनवरी-जून) में यह 28.3 अरब डॉलर (1.94 लाख करोड़ रुपए) रहा। जनवरी-मार्च में सीएडी 34.1 अरब डॉलर (2.34 लाख करोड़ रुपए) रहा था। 17 साल में यह पहला तिमाही घाटा है। अमेरिका से चल रहा ट्रेड वॉर इसकी वजह मानी जा रही है।


सबसे बड़े एक्सपोर्टर की उम्मीदों को झटका : छमाही आधार पर चीन का सर्विस ट्रेड घाटा 147.3 अरब डॉलर हो गया है। तीन महीने पहले यह 73.6 अरब डॉलर था। चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक यात्राओं, ट्रांसपोर्ट और बौद्धिक संपदा अधिकार पर खर्च बढ़ने से व्यापार घाटे में बढ़ोतरी हुई है। इससे चीन के इस साल सबसे बड़े एक्सपोर्टर की उम्मीदों को भी झटका लगा है।
जीडीपी की तुलना में सरप्लस घटा : 2008 से चीन का चालू खाते का सरप्लस लगातार कम हो रहा है। घरेलू खपत लगातार बढ़ रही है। पिछले साल चीन की जीडीपी विकास दर 6.9% रही। इस साल के लिए वहां की सरकार ने 6.5% का लक्ष्य रखा है। दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था वाले चीन के व्यापार और चालू खाते का सरप्लस जीडीपी की तुलना में 2007 से लगातार घट रहा है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक चालू खाते का सरप्लस 2007 में जीडीपी का 9.9% था। 2017 में यह घटकर 1.3% रह गया। जानकारों के मुताबिक अमेरिका से ट्रेड वॉर की वजह से हालात और खराब होंगे।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×