--Advertisement--

फोर्टिस हेल्थकेयर को 914 करोड़ का तिमाही घाटा, पूरे वित्त वर्ष में 934 करोड़ का नुकसान

तिमाही आधार पर आय 1123 करोड़ से घटकर 1086 करोड़ रह गई।

Danik Bhaskar | Jun 27, 2018, 01:12 PM IST
फोर्टिस हेल्थकेयर अपोलो के बाद देश की दूसरी सबसे बड़ी अस्पताल चेन है।- फाइल फोर्टिस हेल्थकेयर अपोलो के बाद देश की दूसरी सबसे बड़ी अस्पताल चेन है।- फाइल

  • दो दिन तक चली बोर्ड बैठक के बाद फोर्टिस ने नतीजे जारी किए
  • इससे पहले फोर्टिस बोर्ड ने तीन बार नतीजे टाल दिए थे
  • बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने कहा था कि समीक्षा के लिए और वक्त चाहिए

नई दिल्ली. फोर्टिस हेल्थकेयर को जनवरी-मार्च तिमाही में 914.32 करोड़ का घाटा हुआ है। पिछले वित्त वर्ष (2016-17) की इसी तिमाही में सिर्फ 37.52 करोड़ का घाटा रहा था। चौथी तिमाही में कंसोलिडेटेड इनकम 1,086.38 करोड़ रुपए रही है जो पिछले साल की तिमाही में 1,123.43 करोड़ थी। पूरे वित्त वर्ष में कंपनी को 934.42 करोड़ का नुकसान हुआ। पिछले वित्त वर्ष में ये 479.29 करोड़ रुपए था। फोर्टिस के मैनेजमेंट का कहना है कि कंपनी लगातार कारोबारी चुनौतियों का सामना कर रही है। रोहित भसीन ने स्वतंत्र निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है जिसे बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने स्वीकार कर लिया। इस्तीफे की वजह निजी बताई जा रही है। बुधवार को बीएसई फाइलिंग में कंपनी ने ये जानकारी दी है।

फोर्टिस को निवेशक की तलाश
नकदी की समस्या से जूझ रहे फोर्टिस हेल्थकेयर ने मैनेजमेंट बोर्ड में बदलाव के बाद पिछले महीने से फिर से बोली प्रक्रिया शुरू की थी। निवेशक 28 जून तक अपने प्रस्ताव दे सकते हैं। इससे पहले 14 जून की डेडलाइन थी जिसे बढ़ा दिया गया। फोर्टिस को खरीदने की रेस में फिलहाल मुंजाल-बर्मन, मनिपाल-टीजीपी कंसोर्टियम, मलेशिया की आईएचएच हेल्थकेयर और रेडिएंट लाइफ केयर शामिल हैं।

हाल ही में फोर्टिस हेल्थकेयर के बोर्ड में बदलाव हुआ है, चार पुराने डायरेक्टर बाहर हुए।- सिंबॉलिक हाल ही में फोर्टिस हेल्थकेयर के बोर्ड में बदलाव हुआ है, चार पुराने डायरेक्टर बाहर हुए।- सिंबॉलिक
फोर्टिस हेल्थकेयर के शेयर में बुधवार को 1% से ज्यादा तेजी दर्ज की गई।- सिंबॉलिक फोर्टिस हेल्थकेयर के शेयर में बुधवार को 1% से ज्यादा तेजी दर्ज की गई।- सिंबॉलिक