पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हौसले से जीतने वाली महिलाअाें ने साझा किए विचार

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रांची |अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर एचसीजी कैंसर अस्पताल ने रांची वीमेंस काॅलेज में महिला शक्तिकरण काे बढ़ावा देने के लिए इच टू इक्वल थीम पर अाधारित वूमेन इन चार्ज कार्यक्रम का अायाेजन किया। इसमें ने अपने संघर्ष की कहानियां बताकर लोगों को प्रेरित किया। भारतीय महिला हाॅकी टीम की पूर्व कप्तान अंसुता लकड़ा ने बताया कि गांव में किसी प्रकार के सुविधा न हाेने के बावजूद वह अाेलंपिक क्वालिफायर में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए पहुंचीं। कहा कि अार्थिक स्थिति खराब हाेने के कारण वह हाॅकी स्टीक के बदले पेड़ की टहनियों अाैर सूखे शरीफा काे गेंद बनाकर प्रयास किया करती थीं। लेकिन उन्हाेंने अपने लक्ष्य से कभी मुंह नहीं माेड़ा। 2005 में उन्हाेंने जूनियर विश्व कप, सीनियर विश्व कप अाैर दाे बार राष्ट्रमंडल खेलाें अाैर एशिया कप में भारत का प्रतिनिधित्व किया।
खबरें और भी हैं...