कूड़ा पर्यावरण को खराब कर रहा है, सही निस्तारण किया जाना जरूरी : डॉ. श्यामला

News - देश में आने वाली किसी भी तरह की प्राकृतिक आपदा के इनसान ही जिम्मेदार है, क्योंकि प्रकृति तो पहले भी होती थी मगर इतना...

Oct 13, 2019, 07:20 AM IST
देश में आने वाली किसी भी तरह की प्राकृतिक आपदा के इनसान ही जिम्मेदार है, क्योंकि प्रकृति तो पहले भी होती थी मगर इतना नुकसान नहीं होता था। यह कहना है कि क्लाइमेट चेंज और आपदा प्रबंधन पर हुए राष्ट्रीय सेमिनार में आए विशेषज्ञों का। सेमिनार का आयोजन इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजास्टर मैनेजमेंट की ओर से किया गया। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स (एनआईयूएफ) में कार्यरत प्रोफेसर डॉ. श्यामला के. मनी ने कहा कि कूड़ा पर्यावरण को खराब करने का काम रहा है। इसके सही निस्तारण न करने की वजह से कूड़े के पहाड़ बनते जा रहे हैं। मौके पर कूड़े का निस्तारण इस समस्या का समाधान है। नगर निगम तो यह काम कर ही रहे हैं। लोगों को भी इसके लिए ध्यान देने की जरूरत है। लोग सतर्क नहीं रहेंगे तो यह समस्या बनी रहेगी। पर्यावरणविद नितिश कुमार ने कहा कि आपदा इंसान की पैदा की हुई है। प्राकृतिक संसाधनों का दोहन होने की वजह से यह समस्या बड़ी होती जा रही है। मगर आपदा आने पर उसके नुकसान को कम किया जा सकता है। सेना से रिटायर्ड कर्नल संजय श्रीवास्तव से तकनीक पर बात करते हुए कहा कि आकाशीय बिजली गिरने की वजह से पहले बहुत मौत होती थीं। मगर मौसम विभाग और एजेंसियों के बिजली गिरने की भविष्यवाणी करने की वजह से इसमें कमी आई है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना