--Advertisement--

जर्मनी की फुटबॉल टीम में नस्लवाद पर विवाद, मिडफील्डर मेसुत ओजिल ने देश की ओर से न खेलने का किया ऐलान

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2018, 07:01 PM IST

मेसुत ओजिल 2014 में फीफा वर्ल्ड कप जीतने वाली जर्मनी की टीम का हिस्सा थे

जर्मनी ने 2014 में फुटबॉल विश्व कप जीता था। उसने फाइनल में अर्जेंटीना को हराया था। - फाइल जर्मनी ने 2014 में फुटबॉल विश्व कप जीता था। उसने फाइनल में अर्जेंटीना को हराया था। - फाइल

  • ओजिल ने जर्मनी की ओर से 92 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले, इनमें 23 गोल किए
  • 2014 वर्ल्ड कप में अल्जीरिया के खिलाफ प्री-क्वार्टर मैच में ओजिल ने 1 गोल किया था

नई दिल्ली. जर्मनी के फुटबॉलर मेसुत ओजिल ने सोमवार को ऐलान किया कि अब वे राष्ट्रीय टीम से नहीं खेलेंगे। उनका आरोप है कि मूल रूप से तुर्की का होने के कारण उन पर नस्लवादी टिप्पणियां की जाती हैं और अपमान होता है। हालिया वर्षों में नस्लवाद के मुद्दे पर वे पहले खिलाड़ी हैं, जिसने इतना कड़ा फैसला लिया है। उनके बयान पर मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने मेसुत का समर्थन किया। सानिया ने कहा कि नस्लवाद नहीं होना चाहिए और किसी भी परिस्थिति में स्वीकार नहीं किया जाएगा।

विश्व कप विजेता टीम का रह चुके हैं हिस्साः 29 साल के ओजिल 2014 की फुटबॉल विश्व कप विजेता जर्मनी की टीम के प्रमुख खिलाड़ियों में थे। 2011 के बाद से फैन्स ने 5 बार टीम के प्लेयर के रूप में चुना है। लेकिन इस साल मई में उन्हें तुर्की के राष्ट्रपति तैय्यप एर्दोगन के साथ फोटो खिंचाना महंगा पड़ गया। घर लौटने पर इस मिडफील्डर को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। रूस में फीफा वर्ल्ड कप से पहले वॉर्म-अप मुकाबलों के दौरान जर्मनी की प्रशंसकों ने ओजिल और टीम में उनके साथी इल्के गुंडोगन का मजाक उड़ाया। गुंडोगन भी मूल रूप से तुर्की के हैं। गुंडोगन ने भी एर्दोगन के साथ तस्वीर खिंचाकर ट्विटर पर पोस्ट की थी।

जीतने पर जर्मन, हारने पर अप्रवासीः इंग्लिश प्रीमियर लीग के क्लब आर्सेनल से जुड़े ओजिल ने कहा कि जर्मनी फुटबॉल एसोसिएशन के प्रेसीडेंट रीनहार्ड ग्रिनडेल ने विश्व कप-2018 में जर्मनी के खराब प्रदर्शन के लिए उन्हें दोषी ठहराया है। ओजिल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक लंबी चौड़ी चिट्ठी पोस्ट की है। इसमें उन्होंने लिखा है, "ग्रिनडेल और उनके समर्थकों की निगाह में जब हम जीतते हैं तो मैं जर्मन हूं, लेकिन जब हम हारते हैं तो मैं एक अप्रवासी हो जाता हूं।"

जर्मनी के लोग मुझे स्वीकार नहीं पाएः ओजिल ने लिखा, विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा होने, टैक्स अदा करने, और जर्मनी के स्कूलों में दान देने के बावजूद उन्हें जर्मन समाज ने स्वीकार नहीं किया। हाल की घटनाओं के बाद यह बहत भारी मन और काफी सोच विचार के बाद लिया गया फैसला है। अब मैं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जर्मनी के लिए नहीं खेलूंगा, क्योंकि मैं सोच रहा हूं कि लोगों की मेरे प्रति नस्लवाद और अपमान की भावना है। मैं गर्व और जोश के साथ जर्मनी की जर्सी पहनने का आदी हूं, लेकिन अब मैं ऐसा नहीं करूंगा। मैं खुद को अवांछित महसूस कर रहा हूं। मुझे लगता है कि 2009 में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के बाद से मैंने जो हासिल किया, उसे भुला दिया गया है।

मेसुत ओजिल सामाजिक कार्यों से भी जुड़े रहे हैं। - फाइल मेसुत ओजिल सामाजिक कार्यों से भी जुड़े रहे हैं। - फाइल
आर्सेनल से खेलने वाले ओजिल रियाल मैड्रिड क्लब की ओर से भी खेल चुके हैं। - फाइल आर्सेनल से खेलने वाले ओजिल रियाल मैड्रिड क्लब की ओर से भी खेल चुके हैं। - फाइल
X
जर्मनी ने 2014 में फुटबॉल विश्व कप जीता था। उसने फाइनल में अर्जेंटीना को हराया था। - फाइलजर्मनी ने 2014 में फुटबॉल विश्व कप जीता था। उसने फाइनल में अर्जेंटीना को हराया था। - फाइल
मेसुत ओजिल सामाजिक कार्यों से भी जुड़े रहे हैं। - फाइलमेसुत ओजिल सामाजिक कार्यों से भी जुड़े रहे हैं। - फाइल
आर्सेनल से खेलने वाले ओजिल रियाल मैड्रिड क्लब की ओर से भी खेल चुके हैं। - फाइलआर्सेनल से खेलने वाले ओजिल रियाल मैड्रिड क्लब की ओर से भी खेल चुके हैं। - फाइल
Astrology

Recommended

Click to listen..