Hindi News »Sports »Other Sports »Others» Gold Coast Commonwealth Games Indian Contingent Finish Its Campaign

कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के 26 में से 10 गोल्ड रेलवे एथलीट्स ने जीते, भारतीय दल में थी 25% हिस्सेदारी

69 मेडल जीतने के बावजूद भारत 2002 मैनचेस्टर कॉमनवेल्थ गेम्स में चौथे स्थान पर रहा था।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 15, 2018, 04:48 PM IST

  • कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के 26 में से 10 गोल्ड रेलवे एथलीट्स ने जीते, भारतीय दल में थी 25% हिस्सेदारी, sports news in hindi, sports news
    +3और स्लाइड देखें

    नई दिल्ली. 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का सफर शानदार रहा। भारत ने यहां 26 गोल्ड के साथ 66 मेडल जीते। इनमें 10 (40%) मेडल रेलवे एथलीट्स के हैं। 217 भारतीय खिलाड़ियों के दल में रेलवे के खिलाड़ियों की हिस्सेदारी 25% थी। इस बार मेडल टैली में भारत ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बाद तीसरे नंबर पर रहा। इन गेम्स में यह उसका तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। भारत ने 2002 मैनचेस्टर में 69 गोल्ड और 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ में 101 मेडल जीते थे। बता दें कि भारत ने इस बार 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं। अगले कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में बर्मिंघम (इंग्लैंड) में होंगे।

    40% गोल्ड मेडल लाना गर्व की बात- रेलवे

    - रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड की एग्जीक्यूटिव चेयरमैन रेखा यादव ने कहा, "भारतीय दल द्वारा जीते गए गोल्ड में से 40% यानी 26 में से 10 मेडल रेलवे के खिलाड़ी लेकर आए हैं। ये गर्व की बात है। रेलवे एथलीट्स ने 10 गोल्ड एक सिल्वर और चार ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं। हमारे 49 एथलीट्स ने सीडब्ल्यूजी 2018 में हिस्सा लिया। वेटलिफ्टिंग, रेसलिंग, एथलेटिक्स, बास्केटबॉल और जिमनास्टिक में हमारे खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। हॉकी की पूरी टीम में रेलवे की लड़कियों की अहम हिस्सेदारी थी।"

    11वें दिन: भारत ने जीते 6 मेडल

    - भारत ने 11वें दिन 1 गोल्ड, 4 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज समेत 7 मेडल जीते।

    - भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में 84 साल के अपने सफर में 500 पदकों के आंकड़े को भी पार लिया।

    कुल मेडलगोल्डसिल्वरब्रॉन्ज
    504181175148

    कॉमनवेल्थ गेम्स: 84 साल के इतिहास में तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

    सालकॉमनवेल्थ गेम्समेडलमेडल टैली में स्थान
    2018गोल्ड कोस्ट66तीसरा
    2010दिल्ली101दूसरा
    2002मैनचेस्टर69चौथा

    - कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत 1930 में हुई थी। भारत पहली बार 1934 शामिल हुआ। तब से अब तक 20 कॉमनवेल्थ गेम्स हो चुके हैं। इनमें दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में वह अंक तालिका में दूसरे नंबर पर था।

    - विदेश में वह पहली बार (गोल्ड कोस्ट) टॉप 3 में जगह बनाने में सफल रहा।

    गोल्ड कोस्ट में भारत के 66 मेडल, सबसे ज्यादा 16 शूटिंग में

    खेलगोल्डसिल्वरब्रॉन्जकुल
    शूटिंग74516
    रेसलिंग53412
    वेटलिफ्टिंग5229
    बॉक्सिंग3339
    टेबल टेनिस3238
    बैडमिंटन2316
    एथलेटिक्स1113
    स्क्वैश0202
    पैरा पॉवरलिफ्टिंग0011
    कुल26202066

    पदक तालिका: टॉप 5 देश

    देशगोल्डसिल्वरब्रॉन्जकुल
    ऑस्ट्रेलिया805959198
    इंग्लैंड454546136
    भारत26

    20

    2066
    कनाडा15402782
    न्यूजीलैंड141615

    45

  • कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के 26 में से 10 गोल्ड रेलवे एथलीट्स ने जीते, भारतीय दल में थी 25% हिस्सेदारी, sports news in hindi, sports news
    +3और स्लाइड देखें
  • कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के 26 में से 10 गोल्ड रेलवे एथलीट्स ने जीते, भारतीय दल में थी 25% हिस्सेदारी, sports news in hindi, sports news
    +3और स्लाइड देखें
  • कॉमनवेल्थ गेम्स: भारत के 26 में से 10 गोल्ड रेलवे एथलीट्स ने जीते, भारतीय दल में थी 25% हिस्सेदारी, sports news in hindi, sports news
    +3और स्लाइड देखें
    शटलर अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्‌डी ने वुमेन्स डबल्स का ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Gold Coast Commonwealth Games Indian Contingent Finish Its Campaign
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Others

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×