--Advertisement--

Google For India: गूगल असिस्टेंट अब मराठी में भी, पेमेंट ऐप Tez का नाम बदलकर Pay हुआ; 7 प्वॉइंट्स में जानें बड़ी घोषणाएं

गूगल का ये लगातार चौथा साल है, जब इस तरह का इवेंट हुआ। इस इवेंट में कई बड़ी घोषणाएं हुईं।

Danik Bhaskar | Aug 28, 2018, 02:15 PM IST

गैजेट डेस्क. अमेरिकी टेक कंपनी गूगल का सालाना इवेंट Google For India मंगलवार को नई दिल्ली में हुआ। ये लगातार चौथा साल है जब गूगल ने इस तरह का इवेंट किया। इस दौरान गूगल ने बताया कि भारत में 39 करोड़ मंथली एक्टिव इंटरनेट यूजर्स हैं, जिनमें से 45% महिलाएं हैं। इसके अलावा 50% से ज्यादा भारतीय मोबाइल फोन के जरिए गूगल सर्च का इस्तेमाल करते हैं। गूगल के मुताबिक, वॉयस सर्चिंग में 270% से ज्यादा की ग्रोथ दर्ज की गई।

7 प्वॉइंट्स में जानें बड़ी घोषणाएं :

1. प्रोजेक्ट नवलेखा : इस प्रोजेक्ट की मदद से कोई भी प्रिंट पब्लिशर अपनी खुद की वेबसाइट बना सकता है और इसके लिए कोई भी चार्ज नहीं लगेगा। इसकी मदद से अपना कंटेंट ऑनलाइन पब्लिश कर सकते हैं।

2. गूगल गो : ये सिर्फ एंड्रॉयड गो यूजर्स के लिए है, जिसकी मदद से अंग्रेजी, हिंदी, बंगाली, मराठी, मलयालम और तमिल भाषा में वेब पेज सर्च कर सकते हैं। इसके अलावा गूगल गो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंट (एआई) को भी सपोर्ट करेगा।

3. गूगल असिस्टेंट : अब इसमें हिंदी, अग्रेजी के अलावा मराठी भाषा का सपोर्ट भी मिलेगा। इसके साथ ही गूगल ने बताया कि जल्द ही 7 अन्य भारतीय भाषाएं भी इसमें शामिल की जाएंगी।

4. प्रोजेक्ट कोलकाता : इसके लिए कंपनी ने Plus Codes नाम से एक प्लेटफॉर्म शुरू किया है। इसकी मदद से जिन लोगों के पास कोई परमानेंट रेसिडेंट एड्रेस नहीं है, उन्हें एक एड्रेस दिया जाता है।

5. गूगल मैप्स : गूगल मैप्स गो में कंपनी ने टर्न-बाय-टर्न नेविगेशन फीचर एड किया है। इसके साथ ही गूगल ने रेडबस से समझौता किया है, ताकि ट्रांसपोर्ट की जानकारी मैप पर ही मिल जाए। इसके अलावा गूगल मैप्स गो पर टिकट की कीमत और बस टाइमिंग का भी पता कर सकेंगे।

6. गूगल स्टेशन : इसे सिर्फ आंध्र प्रदेश में शुरू किया है, जिसके तहत गूगल आंध्र प्रदेश के लोगों को फ्री वाई-फाई की सुविधा देगा।

7. गूगल पे : पेमेंट ऐप Google Tez का नाम बदलकर अब Google Pay हो जाएगा। हालांकि इसके फीचर्स में कोई बदलाव नहीं होगा।