जीएसटी दरें घटाने पर विचार कर रही है सरकार, जल्द हो सकता है बड़ा ऐलान: वित्त राज्य मंत्री / जीएसटी दरें घटाने पर विचार कर रही है सरकार, जल्द हो सकता है बड़ा ऐलान: वित्त राज्य मंत्री

जनवरी में 54 सेवाओं, 29 वस्तुओं पर टैक्स घटाया था

DainikBhaskar.com

Jun 08, 2018, 10:21 AM IST
जीएसटी के 4 स्लैब के तहत अधिकतम 28% टैक्स लगता है।- सिंबॉलिक जीएसटी के 4 स्लैब के तहत अधिकतम 28% टैक्स लगता है।- सिंबॉलिक
नई दिल्ली. जीएसटी दरों में सरकार जल्द कमी कर सकती है। वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला के मुताबिक जीएसटी काउंसिल इस पर काम कर रही है। शुक्ला ने कहा कि इस बारे में जल्द बड़ी घोषणा की जाएगी। फिलहाल जीएसटी के 4 स्लैब हैं जिसके तहत अलग-अलग केटेगरी में शामिल उत्पादों पर 5, 12, 18 और 28% जीएसटी लगता है।

जनवरी में 54 सेवाओं, 29 वस्तुओं पर टैक्स घटाया
गुड्स एंड सर्विस टैक्स में सुधार की दिशा में सरकार लगातार कदम बढ़ा रही है। जीएसटी काउंसिल ने जनवरी की बैठक में भी 54 सेवाओं और 29 वस्तुओं पर टैक्स घटाने का फैसला लिया था। नंवबर 2017 की बैठक में 178 वस्तुओं को अधिकतम (28%) टैक्स के दायरे से बाहर कर दिया गया। साथ ही स्टार होटल्स के अलावा सभी रेस्टोरेंट में खाने पर टैक्स 5% कम किया गया।
एसएमई की ग्रोथ बढ़ाने पर फोकस
वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि छोटे और मध्यम उद्योग उत्पादन, रोजगार और एक्सपोर्ट समेत इकोनॉमी के लिए महत्वपूर्ण सेक्टर है। सरकार इनकी ग्रोथ बढ़ाने के लिए फोकस कर रही है।
पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी में लाना चाहती है सरकार
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक बार फिर उम्मीद जताई कि पेट्रो प्रोडक्ट्स को जीएसटी में शामिल किया जाएगा। इससे कीमतों में उतार-चढ़ाव रोकने में मदद मिलेगी। इसमें कितना वक्त लगेगा इस बारे में प्रधान ने जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि जीएसटी काउंसिल इस पर विचार कर रही है। पेट्रोलियम उत्पादों पर जीएसटी से राज्यों को बड़ा फायदा हो रहा है, इसलिए वो तैयार नहीं हो रहे। उन्होंने कहा कि तेल की ऊंची कीमतों की बड़ी वजह टैक्स भी है।
पेट्रोल-डीजल को आम आदमी की पहुंच से दूर नहीं होने देंगे: प्रधान
पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि रिफॉर्म प्रक्रिया जारी रखते हुए सरकार स्थाई समाधान तलाश रही है। राज्यों को जितना हो सके उतना कम टैक्स लगाना चाहिए। पिछले साल अक्टूबर में केंद्र ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी घटाई थी जिसके बाद कुछ राज्यों ने भी वैट कम किया था।
पेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए एक्साइज ड्यूटी लगती है।- फाइल पेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए एक्साइज ड्यूटी लगती है।- फाइल
X
जीएसटी के 4 स्लैब के तहत अधिकतम 28% टैक्स लगता है।- सिंबॉलिकजीएसटी के 4 स्लैब के तहत अधिकतम 28% टैक्स लगता है।- सिंबॉलिक
पेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए एक्साइज ड्यूटी लगती है।- फाइलपेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए एक्साइज ड्यूटी लगती है।- फाइल
COMMENT