‌~1200 व मोबाइल लूटने के बाद की थी चंकेश की हत्या

Sonipat News - रेवली गांव के पास जयपुर निवासी चंकेश पुत्र नंदलाल की 12 दिसंबर 2019 को सिर में राॅड मारकर हत्या की गई थी। चंकेश की...

Mar 27, 2020, 08:20 AM IST
Rai News - haryana news 1200 and chunkesh was murdered after robbing mobile

रेवली गांव के पास जयपुर निवासी चंकेश पुत्र नंदलाल की 12 दिसंबर 2019 को सिर में राॅड मारकर हत्या की गई थी। चंकेश की हत्या तीन युवकों ने मात्र 12 सौ रुपए व एक मोबाइल फोन लूटने के लिए की थी। आरोपियों में से पुलिस ने एक आरोपी प्रिंस निवासी मथूरा हाल जैनबाग कॉलोनी को गिरफ्तार कर लिया है। उसे मुरथल पुलिस ने तीन दिन के रिमांड पर लिया है। 12 दिसंबर 2019 को हुई थी जयपुर के चंकेश की रेवली के पास हत्या : जयपुर का चंकेश 11 दिसंबर को अपने दोस्त प्रदीप से मिलने सोनीपत आया था। 12 दिसंबर की शाम 10 बजे मुरथल के लिए निकला था। चंकेश का शव 13 दिसंबर को रेवली के पास मिला था। रेवली निवासी किसान अजय डागर ने पुलिस को सूचना दी थी कि वह सुबह अपने खेत में गया था। जब वह खेत में पहुंचा तो उसे सड़क किनारे खेत में एक युवक का शव दिखाई दिया था। उसने उसके पास जाकर देखा तो उसके सिर, माथे व आंख पर चोट के निशान थे। उसके सिर व माथे पर किसी तेजधार और ठोस हथियार से वार कर हत्या की गई थी। इसके बाद जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी में डोमिनोज पिज्जा सेंटर के मैनेजर प्रदीप ने अस्पताल में पहुंचकर शव की पहचान कर ली। प्रदीप ने बताया कि मृतक उसका दोस्त चंकेश पुत्र नंदलाल निवासी जयपुर है। चंकेश डेढ़ साल पहले सोनीपत के एमजी मॉल के पिज्जा सेंटर में मैनेजर था। उसने नौकरी छोड़ दी थी और जयपुर में ही अलग से काम करने लगा था। वह 11 दिसंबर को उससे मिलने सोनीपत आया था। 12 दिसंबर की शाम 10 बजे वह जयपुर जाने के लिए निकला था। उसे मुरथल से बस पकड़नी थी।

अवैध पिस्तौल के पास पकड़ा आरोपी तो उठा पर्दा


सीआईए-2 के एएसआई हरिओम छिल्लर ने बताया कि उनकी टीम देवीलाल पार्क के पास गश्त पर थी। इस बीच उन्होंने एक युवक को अवैध पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया था। आरोपी की पहचान प्रिंस के रूप में हुई। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उन्होंने चंकेश को लिफ्ट दी थी। हत्या को अंजाम देने वालों की पहचान सोनीपत के गढ़ी ब्राहमण निवासी कृष्ण व कर्मबीर के रूप में हुई है।

सिर व माथे पर किसी तेजधार और ठोस हथियार से वार कर हत्या की गई थी। इसके बाद जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी में डोमिनोज पिज्जा सेंटर के मैनेजर प्रदीप ने अस्पताल में पहुंचकर शव की पहचान कर ली। प्रदीप ने बताया कि मृतक उसका दोस्त चंकेश पुत्र नंदलाल निवासी जयपुर है। चंकेश डेढ़ साल पहले सोनीपत के एमजी मॉल के पिज्जा सेंटर में मैनेजर था। उसने नौकरी छोड़ दी थी और जयपुर में ही अलग से काम करने लगा था। वह 11 दिसंबर को उससे मिलने सोनीपत आया था। 12 दिसंबर की शाम 10 बजे वह जयपुर जाने के लिए निकला था। उसे मुरथल से बस पकड़नी थी।

ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझी**

राई. चंकेश की हत्या का आरोपी।

X
Rai News - haryana news 1200 and chunkesh was murdered after robbing mobile

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना