कोरोना वायरस और मौसम दोनों ने ही किसानों की चिंता बढ़ाई

Sirsa News - विश्वभर में कोरोना वायरस को लेकर बेशक लॉकडाउन की स्थिति देखने को मिल रही है, लेकिन देश का पेट पालने वाला किसान इस...

Mar 27, 2020, 08:31 AM IST
Sirsa News - haryana news corona virus and weather both raised farmers39 concerns

विश्वभर में कोरोना वायरस को लेकर बेशक लॉकडाउन की स्थिति देखने को मिल रही है, लेकिन देश का पेट पालने वाला किसान इस समय दोहरी पीड़ा से गुजर रहा है। मार्च के अंतिम सप्ताह के बीच सरसों की फसल की कटाई जोर पकड़ चुकी है। वहीं गेहूं की फसल भी पक कर तैयार हो चुकी है। ऐसे में मौसम का मिजाज बिगडऩा धरतीपुत्रों के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। कोरोना वायरस के चलते किसानों को फसल कटाई के लिए जहां मजदूर नहीं मिल रहे हैं और जो मजदूर मिल रहे हैं उनका दिहाड़ी ज्यादा होने के चलते उन्हें आर्थिक हानी उठानी पड़ रही है, वहीं प्रकृति भी उनका साथ नहीं दे रही है।

पल-पल बदलते मौसम ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं। यदि इस समय मौसम का रूख ऐसा ही बना रहा तो निश्चित रूप से ही किसान को दोहरी मार से गुजरना पड़ सकता है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो मौसम में बदलाव का यह दौर अभी आगामी दिनों में भी देखने को मिल सकता है।

सरसों की कटाई जोरों पर: जिला कृषि विभाग की ओर से इस बार सरसों की बिजाई को लेकर 60 हजार हैक्टेयर का लक्ष्य रखा गया था, लेकिन किसानों ने सरसों का रकबा कम करते हुए इस बार 54, 100 हैक्टेयर में ही बिजाई की है। हालांकि अब तक मौसम की मार से बची हुई सरसों की फसल अच्छे तरीके से पककर तैयार हो चुकी है।

मौसम अभी और सताएगा

हकृषि हिसार के कृषि मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से प्रदेशभर में 27 मार्च तक परिवर्तनशील मौसम रह सकता है। इस दौरान बीच-बीच में बादल, हवाएं चलने तथा कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना जताई जा रही है।

काेराेना वायरस के चलते मार्च के अंतिम सप्ताह के बीच सरसों की फसल की कटाई जोर पकड़ चुकी है, वहीं गेहूं की फसल भी पक कर तैयार हो चुकी है। एेसे में खेतों में सरसों की कटाई में जुटे मजदूर व किसान।

X
Sirsa News - haryana news corona virus and weather both raised farmers39 concerns

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना