• Hindi News
  • Haryana
  • Rewari
  • Kosli News haryana news distancing circles built outside shops standing and shopping in them issued 350 passes for door to door vegetable

दुकानों के बाहर बनाए डिस्टेंसिंग सर्कल, इनमें खड़े होकर खरीददारी कर रहे, डोर-टू डोर सब्जी के लिए 350 पास जारी

Rewari News - एक से दूसरे इंसान में फैलने वाले कोरोना वायरस पर कंट्रोल के लिए सोशल डिस्टेंसिंग पर पूरा फोकस है। देश में...

Mar 27, 2020, 08:00 AM IST
Kosli News - haryana news distancing circles built outside shops standing and shopping in them issued 350 passes for door to door vegetable

एक से दूसरे इंसान में फैलने वाले कोरोना वायरस पर कंट्रोल के लिए सोशल डिस्टेंसिंग पर पूरा फोकस है। देश में लॉकडाउन होने के शुरूआती दो दिनों में सड़कों पर भीड़ रोकने को पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। मगर तीसरे दिन कुछ व्यवस्था बनती नजर आई। गुरुवार को शहर में दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सर्कल बना दिए गए। बेशक अधिकारियों और पुलिस की मॉनिटरिंग के डर से ही सही, मगर लोग इन सर्कल में खड़े होकर खरीददारी करते नजर आए। दुकानदारों में भी जागरूकता और कानूनी कार्रवाई का ये असर रहा कि वे लोगों को समझाते नजर आए कि बनाए गए सर्कल में खड़े होकर ही सामान खरीदें।

इस संकट के समय बाजारों में लोगों की भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने लोगों के घरों के दरवाजे तक राशन और सब्जी पहुंचाने की व्यवस्था की शुरूआत कर दी है। बुधवार को कुछ जगह सामान सप्लाई कर औपचारिकता की गई। गुरुवार से काफी जगह सामान पहुंचा। इसके लिए बाकायदा जिला प्रशासन के निर्देश पर नगर परिषद, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, कोसली उपमंडल तथा बावल व धारूहेड़ा नगर पालिकाओं द्वारा वेंडरों को पास दिए जा रहे हैं। जिला में सब्जी-फल विक्रेताओं काे ही 350 से ज्यादा पास दिए जा चुके हैं। जिलाधीश यशेन्द्र सिंह ने स्पष्ट कर दिया है कि आमजन को खाद्य सामग्री, पशु चारा व दवाईयों की कोई भी परेशानी नहीं होने दी जाएगी। लॉक डाउन के दौरान भी जिला में किराना, फल, सब्जी, दवाई, पशु चारा पोल्ट्री फीड की सभी दुकानें खुली रहेंगी।

बेफिक्र रहिये... लॉकडाउन में किराना, फल-सब्जी, दवाएं, पशुचारा व पोल्ट्री फीड की दुकानें खुली रहेंगी


जितना डिस्टेंस उतनी सुरक्षा... तीन नहीं कम से कम अब छह फीट की दूरी रखें

डीसी ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग ही कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी से बचाव के लिए कारगर उपाय है। इसलिए लोग बेहद जरूरत होने पर ही घरों से बाहर निकलें। एक-दूसरे से सम्पर्क न करें तथा बातचीत करते समय करीब 6 फीट का गैप मेनटेन करें। सीधे तौर पर समझ जाइए कि जितना सोशल डिस्टेंस मेनटेन करेंगे हम उतना ही ज्यादा कोरोना वायरस से बचे रहेंगे। लगातार संक्रमण के मरीज दुनियाभर में बढ़ रहे हैं, इसलिए यहां यह रोग पैर ना पसारे, सभी जागरूक हो जाएं।

पुलिस के डर से नहीं, खुद के जीवन के लिए करें आदेशों का पालन

संक्रमण राेकने के लिए डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन के आदेश हैं। बहुत से लोग पुलिस के डर से सरकारी आदेशों की पालना कर रहे हैं। घर से बाहर पुलिसिया कार्रवाई का डर इसलिए नहीं निकल रहे। जबकि ये सब लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए है। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि केन्द्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी पर कार्य करते हुए पूरी एहतियात बरती जा रही है, लोगों को चाहिए कि वे जिला प्रशासन का सहयोग करें और धैर्य व संयम बनाए रखें। जिला में आवश्यक खाद्य सामग्री, दूध, एलपीजी, एनर्जी, बिजली, पेयजल, दवाईयां, पशु चारा आदि की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

आपके अपने लिए हैं आदेश, राशन-सब्जी स्टॉक न करें, ताकि रेट न बढ़ें

जैसे ही लॉकडाउन के आदेश हुए लोगों ने राशन का स्टॉक करना शुरू कर दिया। सामान्य दिनों की तुलना में अनुमानित 80-90% तक ज्यादा राशन खरीदा गया। जबकि प्रशासन द्वारा आवश्यकता वस्तुओं पर रोक नहीं लगाई जाएगी। धारा-144 और लॉकडाउन में भी ये सामान व्यवस्था के साथ उपलब्ध कराया जा रहा है। स्टॉक से रेट बढ़ने का खतरा रहता है।

कोरोनो से जंग लॉकडाउन का तीसरा दिन

डाॅक्टरी सलाह के बिना नहीं बिकेंगी दवाएं

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जनहित में तुरंत प्रभाव से हायड्रोक्सीक्लोरोक्यूइन व क्लोरोक्यूइन की डॉक्टर के परामर्श के बिना बिक्री पर तुंरत प्रभाव से रोक लगा दी गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी एडवाइजरी और हरियाणा सरकार द्वारा जारी नोटिफिकेशन के तहत आमजन के स्वास्थ्य की सुरक्षा के हित में यह पाबंदी लागू की गई है। कैमिस्ट को पंजीकृत मैडिकल प्रेक्टिसनर के परामर्श पर उपरोक्त दवाई की बिक्री कर सकते हैं साथ ही कैमिस्ट को बिक्री का पूरा रिकार्ड रखना जरूरी है। इसकी मॉनिटरिंग भी होगी।

ये गलत है...

दुकानों पर लाइन न लगाएं

सामान खरीदने के लिए भी लोगों को दुकानों पर लाइनें लगाने की जरूरत नहीं है। चीनी, चावल समेत तमाम राशन लोगों को अपने मोहल्ले में ही मिल जाएगा। इसके लिए प्रशासन द्वारा पास जारी किए जा रहे हैं। ये वेंडर वार्डों में आकर सामान की बिक्री करेंगे। यह फैसला इसलिए लिया गया है ताकि सड़कों पर भीड़ ना रहे और व्यवस्था बनी रहे।

सब्जी मंडी में फड़ नहीं लगेंगी हररोज आएगी सब्जी

हर रोज सब्जी मंडी में खासी भीड़ रहती है। अब लॉकडाउन के समय ताे और भी हालत बिगड़ने की आशंका रहती है। इसलिए सब्जी मंडी में सुबह सब्जी आती है। यहां से रिटेलरों को सब्जी दे दी जाती है। हर रोज इस तरह की व्यवस्था रहेगी, मगर यहां फड़ लगाकर सब्जी बिक्री नहीं की जा सकती।

रेवाड़ी में परचून की दुकान से सामान लेने के लिए उमड़ी ग्राहकों की भीड़।

Kosli News - haryana news distancing circles built outside shops standing and shopping in them issued 350 passes for door to door vegetable
X
Kosli News - haryana news distancing circles built outside shops standing and shopping in them issued 350 passes for door to door vegetable
Kosli News - haryana news distancing circles built outside shops standing and shopping in them issued 350 passes for door to door vegetable

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना