हर साल बिकता है कुट्टू का आटा, विभाग ने कई साल से सैंपल ही नहीं लिए

Yamunanagar News - कुट्टू का आटा हर साल नवरात्र में लोगों की सेहत बिगाड़ता है । इसके बाद भी इस पर रोक नहीं लगाई गई। अब जब 300 से ज्यादा...

Mar 27, 2020, 08:41 AM IST

कुट्टू का आटा हर साल नवरात्र में लोगों की सेहत बिगाड़ता है । इसके बाद भी इस पर रोक नहीं लगाई गई। अब जब 300 से ज्यादा लोगों की हालत बिगड़ी तो प्रशासन ने इसे बैन कर दिया, लेकिन सामने आया है कि इस पर हर साल सैंपल तक नहीं लिए जाते। कई साल से इसकी जांच नहीं हुई। इसलिए कुट्टू की कुटाई करने और आटे की सप्लाई वाले इसे आंखें बंद कर बेच देते हैं। चाहे किसी की हालत बिगड़े या फिर जान पर बने। इस बार भी ऐसा ही हुआ। यमुनानगर-जगाधरी में जहरीला आटा सपलाई कर दिया गया। इससे फूड पॉयजनिंग हो गई। फूड सेफ्टी अधिकारी डाॅक्टर प्रेम सिंह ने बताया कि कुट्टू के आटे में स्टार्च नहीं होता। इसमें प्रोटिन होता है। इससे लोग इसे व्रत में खाते हैं । इसकी तासीर गर्म होती है। खाली पेट इसे ज्यादा मात्र में खाने से तबीयत खराब हो जाती है। उनके अनुसार लोगों को फूड पॉयजनिंग हुई है।

क्या है कु़ट्टू : कु़ट्टू चावल की ही एक प्रजाति है और ये ठंडे व पहाड़ी इलाकों में होता है। कुटटू का बॉटनिकल नाम फैगोपाएरम-एफक्यूलैंटम है। यह एक हाई प्रोटीन फूड है। इसे स्टोर करके रखना खतरनाक होता है, क्योंकि नमी होने पर इसमें फंगस की संभावना बढ़ जाती है। कुट्टू की कुटाई करने वाले पहले से कुट्टू स्टोर कर रखते हैं। नवरात्र से पहले उसकी कुटाई कराते हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना