• Hindi News
  • Haryana
  • Sonipat
  • Sonipat News haryana news liquor shops open in the district morsel can be snatched from the mouths of the poor

जिले में खुली शराब की दुकानें, गरीबों के मुंह से छीन सकता है निवाला

Sonipat News - केंद्र सरकार द्वारा देश में आवश्यक वस्तुओं की ही सप्लाई की इजाजत दी गई है। शहर में सभी बाजार और दुकानें बंद करवा...

Mar 27, 2020, 08:35 AM IST
Sonipat News - haryana news liquor shops open in the district morsel can be snatched from the mouths of the poor

केंद्र सरकार द्वारा देश में आवश्यक वस्तुओं की ही सप्लाई की इजाजत दी गई है। शहर में सभी बाजार और दुकानें बंद करवा दी गई हैं, लेकिन शराब ठेके लगातार खुले हैं। लोग अब सवाल उठा रहे हैं कि इस समय दवा जरूरी है या दारू। ठेके खुलेंगे तो लोग घर से बाहर निकलेंगे और लॉकडाउन की उल्लंघना होना तय है। शराब की वजह से बुधवार को पंचशील कॉलोनी में भी खूब हंगामा हुआ जब एक युवक नशे में गली में बड़बड़ाकर लोगों को परेशान करने लगा। लोगों ने इकट्‌ठा होकर उसकी धुनाई तक कर डाली।

प्रधानमत्री ने कम से कम 21 दिन का लॉकडाउन किया है। इस बीच दिहाड़ी मजदूर लोगों को कोई काम नहीं मिलने वाला है। ऐसे में उन्होंने पूर्ववत में जो कमाया है, उसी को खर्च करेंगे। शराब की नशा से शायद सभी वाकिफ होंगे कि जब इसकी तलब लगती है तो व्यक्ति को घर में रोटी के इंतजाम की फिक्र नहीं रहती है, वह पहले अपनी शराब का इंतजाम करता है। इसके बाद कुछ बच गया तो घर जाएगा, अन्यथा घर पर परिवार के सदस्य भूखे सोएंगे। क्या यही स्थिति जिले में आने वाली है। क्योंकि ठेके खुले होने से शराब के आदि पैसा हो या न हो अपने आपको रोक नहीं रहे हैं।

400 करोड़ रुपए का कारोबार है


जिले में शराब से प्रदेश सरकार को इस साल विभिन्न माध्यमों से करीब 400 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हआ है। जिसमें 281 करोड़ रुपए केवल ठेकों की नीलामी से मिला था। इसके अलावा परमिट फीस, लाइसेंस फीस सहित अवैध तरीके से पकड़ी जाने वाली शाराबाें पर जुर्माना और अन्य स्त्रोत शामिल है। जिसे इस समय भी सरकार और जिला प्रशासन बनाए रखना चाहता है।

ठेके बंद करने का कोई आदेश नहीं है


ठेके खुलेंगे तो लोग घर से बाहर निकलेंगे और लॉकडाउन की उल्लंघना होना तय

जिले भर में 144 शराब के ठेके हैं : पूरे सोनीपत में शहर और ग्रामीण मिलाकर 144 शराब के ठेके हैं। जिन पर फिलहाल शराब की बिक्री की जा रही है। पिछले साल छह जोन का ठेका बनाकर शराब ठेकों को 23 जोन में बेंचा गया था। जो 31 मार्च तक वैध है। क्योंकि साल का अंतिम दिल चल रहा है, ऐसे में शराब कारोबारियों को उनके हिस्से का कोटा उठाना होता है। जो भारी मात्रा में कई बार ठेकेदारों का बच जाता है, जिसके लिए वह इन दिनों छूट की घोषणा कर देते हैं।

सोनीपत. आईटीआई चौक पर शराब के ठेके से शराब खरीदते लोग।

X
Sonipat News - haryana news liquor shops open in the district morsel can be snatched from the mouths of the poor

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना