बेवजह घूमने पर करवाई उठक-बैठक

Jhajjar News - कोरोना वायरस से बचाव के लिए घर से बेवजह बाहर निकलने वाले लोगों को पुलिस ने गुरुवार से डंडे से समझाना शुरू कर दिया...

Mar 27, 2020, 07:26 AM IST

कोरोना वायरस से बचाव के लिए घर से बेवजह बाहर निकलने वाले लोगों को पुलिस ने गुरुवार से डंडे से समझाना शुरू कर दिया है। अभी तक पुलिस घरों से बाहर निकलने वाले लोगों को कोरोना वायरस से होने वाले नुकसान बताकर जागरूक कर रही थी। इसके बाद भी लोग के नहीं मानने पर भी गुरुवार से एक बार एक्शन मूड में आ गई है। साथ ही जरूरी काम से निकलने वाले लोगों से अपील कर रही है कि वह जितना हो सके घर से ही अपने सभी काम करें। गुरुवार को पुलिस ने डीएसपी अजायब सिंह व डीएसपी राहुल देव के साथ सभी थाना प्रभारियों व यातायात पुलिस ने मिलकर शहर का दिन भर दौरा किया। इस बीच काफी संख्या में लोग घरों पर रहने के कारण जागरूक हो रहे हैं। बाजार और सड़कें खाली हो रही है। पर तो कुछ लोग ऐसे भी हैं जो बिना किसी जरूरत के घर के बाहर घूम रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ बहादुरगढ़ में पुलिस प्रशासन ने सख्त रुख अपनाना शुरू कर दिया है। गुरुवार को तो यही देखने को मिला। पुलिस ने दिन भर नाकों पर सुबह घर से निकले लोगों से पुलिस ने पूछताछ की। इस दौरान गोल-मोल जवाब देने वालों को सजा भी दी गई। कई लोग सड़कों पर उठक-बैठक करते दिखाई दिए।

सड़कों के साथ गलियां तक पड़ी हैं सूनी

लॉकडाउन के दौरान गुरुवार को लोगों का घर से बाहर निकलना कम ही हो रहा है। सड़कों के साथ गलियां तक सूनी दिखाई पड़ रही हैं। झज्जर रोड, बादली रोड, नाहरा नाहरी रोड, रेलवे रोड व नजफगढ़ रोड जैसे व्यस्ततम इलाके में भी लोग कम दिखाई पड़ रह हैं। यहां तक की शहर के अंदर की सड़कों पर इक्का-दुक्का लोग ही नजर आ रहे हैं। इस दौरान शहर में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी भी तैनात किए हैं।

बेवजह घूम रहे 89 लोगों के चालान किए

भास्कर न्यूज | झज्जर

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जिले को लॉकडाउन किया हुआ है। इसके बाद कुछ लोग शहर में आवश्यक रूप से ट्रैफिक नियमों को तोड़ते हुए घूम रहे हैं। गुरुवार को ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस सख्त नजर आई और इस तरह के लोगों को न केवल सबक सिखाया गया बल्कि 89 चालान भी किए। बता दें कि लाॅकडाउन के चलते केवल उन लोगों को बाहर निकलने की अनुमति है। जो आवश्यक सेवाओं से जुड़े हुए हैं। शहर में कोई व्यक्ति बेवजह न घूमे इसके लिए धारा 144 लगाई गई है। डीसी का स्पष्ट रूप से कहना है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए डिस्टेंस मेंटेन करना बहुत जरूरी है। इसके लिए लोगों को चाहिए कि वे अपने घरों में रहें और बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें। डीसी की इन बातों का कुछ लोग हल्के में ले रहे थे। लेकिन गुरुवार को जिस प्रकार से एकाएक पुलिस सक्रिय हुई तब बेवजह घूमने वाले लोगों को पुलिस का शिकार होना पड़ा। ऐसे लोगों के न केवल चालान किए गए बल्कि दो दर्जन वाहनों को जप्त भी किया गया। इनमें स्कूटी, इको, मोटरसाइकिल व पिकअप आदि शामिल हैं। प्रशासन का कहना है कि जिन लोगों को आवश्यक काम से कहीं सामान लेने के लिए जाना है। ऐसे लोग कि पुलिस मदद करेगी, लेकिन जो लोग बगैर किसी काम से इधर-उधर घूमते हुए नजर आएंगे उनके खिलाफ सख्ती बरती जाएगी। आलम यह था कि सुबह ही पुलिस शहर के अलग-अलग चौक चौराहे पर नाके लगाकर बैठ गई। कुछ अन्य क्षेत्रों में गश्त के दौरान जो लोग इधर-उधर घूमते हुए नजर आए। उन पर डंडे चलाए गए। पुलिस उन लोगों पर ज्यादा सख्त नजर आई जो संख्या में 5 से अधिक लोग के रूप में निकल रहे थे और मास्क आदि के न होने से दूसरों के लिए खतरा बन रहे थे। पुलिस ने बगैर काम से घूमने वाले युवकों को भी काफी सबक सिखाया और इनकी कई जगह उठक बैठक भी लगवाई गई। पुलिस की सख्ती का ही असर देखने को मिला। शहर की किरयाणा दुकान व सब्जी मंडी में भी ग्राहकों की अधिक भीड़ नहीं थी और शहर की पूरी व्यवस्था सामान्य रूप से चलती हुई देखी गई।

कोरोना वायरस से बचाव की अपील : आपके लिए बाहर की जगह घर ही सुरक्षित, घर से ही करें सभी जरूरी काम


ये सख्ती सुरक्षा के लिए जरूरी...

मै समाज का दुश्मन हूं, पुलिस ने दिखाई सख्ती, घरों से बाहर निकलने वाले लोगों को थमाया पाेस्टर

एमअाईई क्षेत्र का भी दौरा किया: पुलिस अधिकारियों ने शहर का दौरा करने के बाद एमआईई क्षेत्र का भी दौरा किया। इस मौके पर देखा गया कि कोई भी फैक्ट्री खुली नहीं थी। यदि गुरुवार फैक्ट्री खुली मिलती को उसके संचालक के खिलाफ कठोर कार्यवाही होती। वहीं एमआईई क्षेत्र में जो लोग बिना किसी कारण से टहल रहे थे उन्हें भी पुलिस से डांट खानी पड़ी।

हिदायत देकर छोड़ा : लॉकडाउन के चौथे दिन सेक्टर 6 अाैर झज्जर रोड पर तैनात जवान लोगों के वाहनों की जांच के साथ उनसे घर से बाहर निकलने की वजह भी जान रहे हैं। सेक्टर छह में तो गुरुवार की सुबह सड़कों पर निकले एक-एक लोगों से पूछताछ की। इस दौरान कई लोग बेवजह एक बाइक पर दो लोग सवारी करते पाए गए। सजा के तौर पर उनको कान पकड़ कर सड़क पर ही उठक-बैठक लगानी पड़ी। ऐसे कई लोगों को पुलिस ने हिदायत देकर छोड़ दिया। पिछले दिनों के मुकाबले बहादुरगढ़ में गुरुवार को लॉकडाउन का खासा असर देखने को मिल रहा है।

प्रतिदिन चलेगा अभियान: डीएसपी अजायब सिंह व डीएसपी राहुल देव ने कहा कि इस तरह से अभियान लगातार जारी रहेगा। किसी को भी कोई परेशानी हो तो वह भी पुलिस से सहायता ले सकता है।

बहादुरगढ़ में बिना वजह घर से बाहर निकल रहे लोगों से उठक-बैठक लगवाती पुलिस।

बहादुरगढ़| लॉक डाउन में भी घरो से बाहर निकल रहे लोगो को सबक सिखाने के लिए पुलिस और सड़क सुरक्षा संघठन ने अनूठी पहल शुरू की है। यहां कोरोना वायरस की महामारी पर रोकथाम के लिए लगाए गए लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों को समाज का दुश्‍मन होने का पाेस्टर थमाया जा रहा है। गुरुवार को बेरोकटोक कार व बाइक लेकर सड़क पर घूमने वालों को इस तरह का संदेश लिखा हुआ पर्चा थमाया और उनकी तस्वीरें खींचकर उनकी समाज के प्रति जवाबदेही याद दिलाई। इस पर्चा में लिखा गया है कि मैं कोरोना का हितैषी हूं। मैं सड़क पर बेवजह गाड़ी चलाता हूं। मैं अपने परिवार और समाज का दुश्‍मन हूं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना