• Hindi News
  • Haryana
  • Kaithal
  • Kaithal News haryana news representatives of the city government are performing the responsibilities some are spraying medicine and some are guarded in their colony

शहर की सरकार के प्रतिनिधि निभा रहे जिम्मेदारियां, कोई दवा का स्प्रे करवा रहा तो कोई अपनी कॉलोनी में दे रहा पहरा

Kaithal News - कोरोना वायरस के प्रभाव को रोकने के लिए शहर की सरकार के प्रतिनिधि यानी पार्षद अपने-अपने वार्ड में जिम्मेदारियां...

Mar 27, 2020, 07:50 AM IST

कोरोना वायरस के प्रभाव को रोकने के लिए शहर की सरकार के प्रतिनिधि यानी पार्षद अपने-अपने वार्ड में जिम्मेदारियां निभा रहे हैं। सभी पार्षद नगर परिषद व प्रशासन के सहयोग से मिली दवा को अपने-अपने वार्ड में स्प्रे करवा रहे हैं। इसमें पार्षद विशेष भूमिका अदा कर रहे हैं।

कहीं पार्षद पूरी काॅलाेनी वासियों को अपने घरों में ही रहने की अपील कर रहे हैं। वार्ड चार की पार्षद निशा गर्ग ने बताया कि वार्ड में स्प्रे करवाया जा रहा है। पहले फायर ब्रिगेड की गाड़ियों से स्प्रे करवाया गया। बाद में जो गलियां तंग थी, उनमें कर्मचारियों को लगाकर स्प्रे करवाया जा रहा है। पार्षद पति संजय गर्ग ने बताया कि वे स्वयं बाइक पर कर्मचारी को बैठा कर वार्ड में स्प्रे करवा रहे हैं ताकि लोग वायरस की चपेट में न आएं। इसके अलावा वार्ड 28 से पार्षद मोहन लाल शर्मा स्वयं स्प्रे कर रहे हैं। वार्ड 9 की पार्षद बबीता मित्तल ने बताया कि उन्होंने अपनी गोबिंद कॉलोनी को लॉकडाउन कर दिया है। पूरी काॅलोनी के सभी पांच गेट बंद कर दिए गए हैं। न तो किसी को अंदर जाने दिया जा रहा है, न किसी को विशेष कारण के बिना बाहर जाने दिया जा रहा है। केवल उन्हें लोगों को बाहर जाने की इजाजत दी जाती है, जिन्हें किसी खास चीज की जरूरत है, वो भी एक-एक व्यक्ति को। उन्होंने बताया कि काॅलोनी के मुख्य गेट पर वार्ड वासी दो-दो घंटे के लिए पहरा दे रहे हैं। ये ही लोग निर्णय लेते हैं कि किसी को बाहर भेजना है या नहीं। उन्होंने कहा कि वार्ड के अन्य हिस्सों को भी बंद करने के लिए एरिया वाइज लोगों से बातचीत की जा रहा है। वैसे उनका वार्ड लगभग बंद है। लोग प्रधानमंत्री की अपील का पूरा पालन कर रहे हैं।

अकारण घूमने वालों के कारण जरूरतमंद परेशान

शहर में अकारण घूमने वाले लोगों के कारण जरूरत के लिए घरों से निकलने वाले लोग परेशान हैं। कहीं-कहीं पुलिस बिना पूछे ही बाइक पर घूमने वाले लोगों को खासकर युवाओं को लाठियों से समझा रही है। इससे उन लोगों को भारी परेशानी हो रही है, जो जरूरत के लिए सामान लेने के लिए घरों से बाहर आते हैं। ऐसे ही एक स्थानीय युवक ने एक स्लोगन के माध्यम से अपनी बात कहीं। उसने एक फोटो में अपनी पीठ पर प|ी की ओर से लिखा है कि मेरा पति दूध और सब्जी लेने के लिए जा रहा है। आवारागर्दी के लिए नहीं। कृपया लठ न मारें। लेकिन एक अाैर तस्वीर है, जिसमें एक पुलिस कर्मचारी बाइक पर सवार एक व्यक्ति को हाथ जोड़ कर अपने घरों में रहने के लिए कहता दिखाई दे रहा है। ये तस्वीर स्थानीय पेहवा चौक की है। जहां लॉकडाउन के बाद भी लोग अपने घरों से निकल रहे हैं। इससे आम आदमी ही नहीं, पुलिस कर्मचारी भी परेशान हैं। रोकते हुए न जाने कौन सही और कौन गलत है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना