• Hindi News
  • Haryana
  • Yamunanagar
  • Yamunanagar News haryana news the shrines of temples will open on social media devotees will be able to see live morning and evening

सोशल मीडिया पर खुलेंगे मंदिरों के कपाट, भक्त कर सकेंगे सुबह-शाम लाइव दर्शन

Yamunanagar News - कोरोना सेे बचाव में लॉकडाउन से लोग घरों में हैं। नवरात्र पर व्रतधारी व अन्य श्रद्धालु बाहर मंदिरों में...

Mar 27, 2020, 08:45 AM IST

कोरोना सेे बचाव में लॉकडाउन से लोग घरों में हैं। नवरात्र पर व्रतधारी व अन्य श्रद्धालु बाहर मंदिरों में पूजा-अर्चना करने नहीं जा पा रहे। वहीं मंदिरों में भी मेले सहित अन्य आयोजन रद्द हैं। ऐसे में मंदिर समितियां घर बैठे श्रद्धालुओं को मां के दर्शन व आरती में शामिल करने के लिए हाइटेक पहल कर रही हैं। हालांकि दर्शनों के लिए भी मंदिरों के कपाट बंद है, जो सोशल मीडिया के जरिए सुबह-शाम मां के दर्शन व आरती के लिए खुलेंगे। इसके लिए समितियों ने फेसबुक पर मंदिर के नाम पर पेज बनाया है, जहां लाइव दर्शन व आरती दिखाई व सुनाई जाएगी।

नवरात्र पर इस बार प्राचीन मंदिरों में मां के दर्शन व पूजा-अर्चना न कर पाने वाले घर बैठे श्रद्धालुओं के लिए गांव भगवानपुर शिवालिक की पहाड़ी पर प्राचीन मंत्रा देवी मंदिर और पुराना रादौर रोड स्थित प्राचीन श्रीदेवी मंदिर, दोनों की समितियों ने अनोखी पहल की है। दोनों मंदिरों के फेसबुक पर पेज बनाया है, जिस पर जुड़कर श्रद्धालु घर बैठे ही मां के लाइव दर्शन व आरती में शामिल हो सकेंगे। इनका प्रयास सुनकर कई अन्य मंदिरों की समितियां भी खुद को सोशल मीडिया से जोड़ लोगों को अपने यहां से मां के दर्शन व आरती लाइव दिखाने की तैयारी में है।

शाम सात से साढ़े सात बजे मंदिर से पेज पर होंगे लाइव| पुराना रादौर रोड स्थित प्राचीन श्रीदेवी मंदिर के मैनेजर देवेंद्र ने कहा कि मंदिर से स्थानीय समेत आसपास के जिलों के लोगों की आस्था जुड़ी है, जो कोरोना से बचाव में हुए लॉकडाउन में मां के दर्शन व आरती में इस बार शामिल नहीं हो पा रहे हैं इसलिए उन्हें घर बैठे मां के दर्शन कराने व आरती में शामिल करने को फेसबुक पर श्रीदेवी मंदिर ट्रस्ट यमुनानगर नाम से पेज बनाया है। जहां शाम 7 से साढ़े सात बजे तक मां के दर्शन व आरती लाइव होंगे। यहां 55 वर्षों से जल रही 11 अखंड ज्योति के भी दर्शन कराएंगे।

कलेसर नेशनल पार्क को पर्यटकों के लिए किया बंद

खिजराबाद | कोरोना वायरस के चलते कलेसर नेशनल पार्क को आगामी आदेशों तक पर्यटन के लिए बंद कर दिया गया है। नेशनल पार्क के प्रवेश द्वार लाल ढांग व ताजेवाला चेक पोस्ट नाके पर बारहसिंघा व तेंदुए के हाई राइज साइन स्थापित किए गए हैं। एनएच पर ऊंचे पोल पर लगे जानवरों के हाई राइज साइन नेशनल पार्क की खूबसूरती को बयान कर रहे हैं। कोरोना वायरस की महामारी के चलते कलेसर नेशनल पार्क को एहतियात के तौर पर सैलानियों के लिए रोक लगा दी गई है।

वन्य प्राणी विभाग के जिला इंस्पेक्टर सुनील कुमार ने बताया कि आगामी आदेशों तक नेशनल पार्क में पर्यटकों के जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। हिमाचल की ओर से हरियाणा के प्रवेश द्वार लाल ढांग सीमा पर बारहसिंघा व जगाधरी की ओर से नेशनल पार्क की ओर प्रवेश करते समय ताजेवाला नाके पर लेपर्ड के हाई राइज साइन स्थापित किए गए हैं । पार्क में प्रवेश से पूर्व ही जंगली जानवरों के हाई राइज साइन नेशनल पार्क का एहसास करा देते हैं। जानवरों की सुरक्षा के लिए पांवटा एनएच पर जानवरों के क्रॉसिंग पॉइंट पर चित्र सहित चेतावनी बोर्ड लगाए गए हैं। सड़क दुर्घटनाओं से जानवरों की सुरक्षा के लिए वाहनों की स्पीड लिमिट निर्धारित की गई है।

बाकी मंदिर भी करें ऐसी पहल

गांव भगवानपुर में शिवालिक की पहाड़ी पर स्थित प्राचीन मां मंत्रा देवी मंदिर के सेवादार डॉ. बरखा राम ने कहा कि माता मंत्रा देवी मंदिर भगवानपुर के नाम से फेसबुक पर पेज बनाया है, क्योंकि यहां आए साल नवरात्र पर हरियाणा समेत हिमाचल, उत्तराखंड व यूपी के लोग आते थे। जो इस बार कोरोना के चलते नहीं आ पाए। उन्हें घर पर ही मां के दर्शन व आरती लाइव दिखाने का प्रयास है। उनकी अपील है बाकी मंदिर भी श्रद्धालुओं के लिए ऐसी पहल करें।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना