इनकम टैक्स के नाम पर मैसेज भेजकर मांगी जा रही है अकाउंट डिटेल्स, कहीं आपको भी तो नहीं मिला ऐसा मैसेज?

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नो फेक न्यूज डेस्क. कई बार हमारे पास बैंक अकाउंट की डिटेल अपडेट करने को लेकर कई तरह के मैसेज आते हैं, लेकिन उनमें से ज्यादातर फर्जी ही निकलते हैं। अब ऐसा ही एक मैसेज इनकम टैक्स रिफंड को लेकर आ रहा है। लोगों को इनकम टैक्स के नाम पर मैसेज भेजे जा रहे हैं और अपनी डिटेल अपडेट करने को कहा जा रहा है।

 

हालांकि, हमारी पड़ताल में साबित हुआ कि जो मैसेज लोगों को भेजे जा रहे हैं वो पूरी तरह से फर्जी हैं। इन मैसेज को लेकर आईटी मंत्रालय के अधीन आने वाले इंडियन कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (CERT-In) ने भी चेतावनी जारी की थी।

 

क्या है मैसेज में?

  • ये मैसेज ज्यादातर लोगों को पर्सनल मैसेज पर ही भेजा जा रहा है, जिसे अब व्हाट्सऐप पर भी कुछ लोग चेतावनी के तौर पर एक-दूसरे को भेज रहे हैं। अंग्रेजी में आए इस मैसेज में लिखा है कि आपका इनकम टैक्स रिफंड एप्रूव किया जा चुका है।
  • इसके साथ एक अकाउंट नंबर भी दिया जाता है, जिसे वेरिफाय करने को कहा जाता है। इसके अलावा नीचे एक लिंक दी गई है, जहां पर अकाउंट नंबर गलत होने पर वहां अपडेट कर सकते हैं।

Dear Sir / Madam, 

your income tax refund of Rs.15,480 has been approved and your bank a/c will be credited shortly. Do kindly verify your a/c no 5XXXXX6755. If the same is incorrect, quickly follow the link below to update your bank record on file. https://bit.ly/2OwpYK6

\"fake\"


पड़ताल : क्यों फर्जी है ये मैसेज?

  • इस मैसेज की पड़ताल करने के लिए हमने गूगल पर इस मैसेज को कॉपी-पेस्ट कर दिया, जिसके बाद हमें पता चला कि ये मैसेज पूरी तरह से फर्जी है। इसके साथ ही ये भी पता चला कि ये मैसेज अगस्त में लोगों को भेजा जा रहा था, लेकिन व्हाट्सऐप पर अभी भी कुछ लोगों को इस तरह के मैसेज मिल रहे हैं।
  • इसके बारे में सर्च करने पर हमें अगस्त में इंडियन कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (CERT-In) की चेतावनी का नोटिस मिला। इस संस्था को भारत की टॉप साइबर सिक्योरिटी एजेंसी में गिना जाता है, जो आईटी मंत्रालय के अधीन काम करती है।
  • CERT-In ने इस चेतावनी को 7 अगस्त 2018 को जारी किया था। इस चेतावनी में साफ-साफ लिखा गया है कि इनकम टैक्स के नाम से जो मैसेज आ रहा है, वो फर्जी है। 

\"CERT\"

  • इसके अलावा इस चेतावनी में ये भी लिखा है कि जैसे ही आप इस मैसेज में दी गई लिंक पर क्लिक करेंगे, वैसे ही आपसे अकाउंट नंबर और लॉग-इन आइडी पूछी जाएगी। इतना करते ही साइबर क्रिमिनल्स के पास आपके अकाउंट की डिटेल और आपकी निजी जानकारियां पहुंच सकती है, जिनका वे गलत इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इस चेतावनी में ये भी लिखा गया था कि ऐसे मैसेज आने पर न ही इनका रिप्लाय करें और न ही लिंक को खोलें। 
  • इसके अलावा हमने इस मैसेज के नीचे दी गई लिंक को खोलने की कोशिश की, लेकिन उसे ब्लॉक कर दिया गया है, जिस वजह से वो लिंक नहीं खुली। 

\"fake\"

  • हमने कई लोगों के मैसेज देखे जिनमें एक ही अकाउंट नंबर 5XXXXX6755 था। हालांकि ऊपर लिखा गया अमाउंट बदल दिया जाता था और जिसे भेजा गया, उसका नाम भी लिखा गया। 
  • इससे पता चलता है कि जो भी मैसेज इनकम टैक्स के नाम पर भेजा जा रहा है, वो फर्जी है। अगर इस तरह के कोई भी मैसेज आए तो उसकी शिकायत करें या डिलीट कर दें, लेकिन कभी भी इनपर भरोसा नहीं करें क्योंकि ऐसे मैसेज पर भरोसा कर लोग धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं।

 

अगर आपके पास भी कोई फेक न्यूज है तो  हमारे साथ साझा कीजिए। हम उसकी पड़ताल कर उसकी सच्चाई आप तक पहुंचाएंगे।  हमें dbnofakenews@gmail.com पर ईमेल करें।