मिलिट्री, पैरा मिलिट्री के मेडिकल ऑफिसरों व पैरा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं लेगा हिमाचल

Shimla News - कोरोनावायरस से बचाव के लिए प्रदेश सरकार ने सभी कार्यालय 31 मार्च तक बंद रखने का एलान किया है। इस संबंध में वीरवार...

Mar 27, 2020, 07:21 AM IST

कोरोनावायरस से बचाव के लिए प्रदेश सरकार ने सभी कार्यालय 31 मार्च तक बंद रखने का एलान किया है। इस संबंध में वीरवार को आदेश जारी कर दिए गए। पहले ये कार्यालय 26 मार्च तक बंद रखे गए थे, लेकिन अब यह अवधि 31 मार्च तक बढ़ा दी है। इस दौरान सभी सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे। अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान ने इस संबंध में आदेश जारी करते हुए कहा कि इस दौरान केवल वे ही विभाग खुले रहेंगे जो आवश्यक श्रेणी में आते हैं।

उन्होंने कहा कि जिन कर्मचारियों को घर पर ही रहने को कहा है वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और शहर को छोड़कर कहीं न जाएं, क्योंकि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें किसी भी वक्त बुलाया भी जा सकता है। सुबह सात बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई है। सरकार अब मिलिट्री और पैरा मिलिट्री फोर्स के रिटायर मेडिकल आफिसर और पैरा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं लेगी। सरकार ने इसे लेकर इन अधिकारियों से आवेदन मांग लिए हैं। इन्हें पहली अप्रैल से ज्वाइन करने के लिए नियुक्ति पत्र जारी कर दिए जाएंगे। सरकार ने इसे लेकर वीरवार को आदेश जारी कर दिए। इन आदेशों के तहत आईटीबीपी, बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, सैनिक और अर्धसैनिक बलों के सेवानिवृत्त सभी पैरामेडिकल स्टाफ इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। डाॅक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की कमी को देखते हुए मिलिट्री और पैरा मिलिट्री फोर्स में चिकित्सा सेवा से रिटायर हुए जवानों की मदद लेने का निर्णय लिया है।

इनकी नियुक्ति अगले आदेशों तक के लिए की जाएगी। इन सभी को संबंधित जिलों के सीएमओ और मेडिकल कालेजों के प्रिंसिपलों के पास आवेदन करना होगा। सरकार ने सीएमओ और मेडिकल काॅलेजों के प्रिंसिपलों को इन्हें नियुक्त करने को अधिकृत किया है। इनको दिया जाने वाले मानदेय सेवारत अवधि के दौरान रिटायर होने के वक्त जो वेतन मिलता था, उसके आधार पर मिलेगा। इन सभी को मिलने वाले मानदेय रोगी कल्याण समिति (आरकेएस), डिजास्टर मैनेजमेंट फंड से जारी होगा।

फेक लिस्ट जारी करने पर पुलिस ने किया केस दर्ज


शिमला पुलिस ने कोविड कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण को रोकने के निगरानी में रखे गए लोगों की फेक सूची जारी करने पर केस दर्ज किया है। सोशल मीडिया में एक लिस्ट जारी हुई है जिसमें विदेश और देश के विभिन्न राज्यों से शिमला में आए लोगों का नाम, पता व फोन आदि दिखाए गए हैं। इसमें कसुम्पटी में रह रहे एक युवक को कोरोना के लक्षण वाला दिखाया गया है, जबकि ऐसा नहीं है। जांच में पाया है कि लिस्ट फेक है और इसे जान बुझकर सर्कुलेट किया जा रहा है।

तीन स्वास्थ्य अधिकारियों को दी एक्सटेंशन

स्वास्थ्य विभाग में अधिकारियों की कमी को देखते हुए सरकार ने तीन स्वास्थ्य अधिकारियों को तीन माह की एक्सटेंशन दी है। ये तीन अधिकारी इसी माह 31 मार्च को रिटायर होने थे, लेकिन अब ये 30 जून को रिटायर होंगे। सरकार ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए इनकी सेवाएं जारी रखने का निर्णय लिया है। इनमें संयुक्त निदेशक डॉ. आरके धरोच, बीएमओ किलाड़ डॉ. मोहिंद्र सिंह और बीएमओ गोपालपुर डॉ. सुभाष शर्मा शामिल हैं।

हिमाचल में अब तक 133 सैंपल में से 130 नेगेटिव

शिमला| काेराेनावायरस के खाैफ में अब तक हिमाचल में 133 लाेगाें के सैंपल लिए गए िजसमें से 130 की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई। यह राज्य के लिए अच्छी खबर है। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य अारडी धीमान ने बताया कि वीरवार काे प्रदेश में 34 लोगों के कोविड-19 के प्रति जांच के नमूने लिए गए तथा सभी की जांच रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई है। उन्होंने यह भी बताया कि अब तक प्रदेश में कुल 2257 लोगों को निगरानी पर रखा गया, जिनमें से 636 लोगों ने 28 दिन की जरूरी निगरानी अवधि को पूरा कर लिया है।

कर्फ्यू उल्लंघन करने पर 40 केस दर्ज, 54 गिरफ्तार

शिमला| पुलिस ने कर्फ्यू का उल्लंघन करने के मामले में राज्य में 40 केस दर्ज किए हैं, इसके लिए 54 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें शिमला जिला में 12 केस , सिरमौर में सात, ऊना में चार और मंडी जिला में तीन केस दर्ज किए गए हैं। बिलासपुर में छह केस, चंबा व सोलन में दो-दो, हमीरपुर, कागड़ा, किन्नौर, कुल्लू में एक-एक लोगों को गिरफ्तार किया गया। वहीं 3 लोगों को प्रिवेंटिव सेक्शन के तहत गिरफ्तार किया गया। पुष्टि एसपी लॉ एंड ऑर्डर डा. खुशहाल शर्मा ने की।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना