--Advertisement--

हॉकी: चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत ने चार साल बाद पाकिस्तान को हराया, 4-0 से जीता मुकाबला

भारत विश्व रैंकिंग में छठे जबकि पाकिस्तान 13वें स्थान पर है।

Danik Bhaskar | Jun 24, 2018, 02:35 PM IST
भारत ने चौथे क्वार्टर में पाक के खिलाफ 3 गोल किए। भारत ने चौथे क्वार्टर में पाक के खिलाफ 3 गोल किए।

  • टूर्नामेंट में भारत का अगला मुकाबला 24 जून को ओलिंपिक चैम्पियन अर्जेंटीना से होना है
  • भारतीय खिलाड़ियों ने मैच के अंतिम 6 मिनटों में तीन गोल लगाए

ब्रेडा (नीदरलैंड). भारतीय हॉकी टीम ने शनिवार को चैम्पियंस ट्रॉफी के उद्घाटन मैच में पाकिस्तान को 4-0 से हरा दिया। भारत ने इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान के खिलाफ 4 साल बाद जीत दर्ज की। इससे पहले 2014 के सेमीफाइनल में दोनों टीमें आमने-सामने हुईं थी। तब पाकिस्तान ने भारत को 4-3 से हराया था। भारत की ओर से रमनदीप सिंह, दिलप्रीत सिंह, मनदीप सिंह और ललित उपाध्याय ने गोल किए।

पहला गोलः 25वें मिनट में सिमरनजीत के पास पर रमनदीप सिंह ने गोल किया।
दूसरा गोलः 54वें मिनट में दिलप्रीत सिंह ने बहुत दूर से सारे खिलाड़ियों को छकाते हुए गोलपोस्ट के पास तक आए और भारत को बढ़त दिला दी।
तीसरा गोलः 57वें मिनट में मनदीप सिंह ने गेंद को लेते हुए डी के अंदर तक पहुंचे और गोलपोस्ट में पहुंचा दिया।
चौथा गोलः 59वें मिनट में रमनदीप के पास पर ललित उपाध्याय ने डिफलेक्ट किया और गेंद गोलपोस्ट के अंदर पहुंच गई। हालांकि रेफरी को लगा कि गेंद हाथ से लगकर गोलपोस्ट में गई है। इसकी पुष्टि के लिए उन्हें रेफरल लिया और बाद में भारत के पक्ष में गोल दिया।

रेफरल के बाद पाकिस्तान से छीना गोल

तीसरे क्वार्टर के दूसरे मिनट में पाकिस्तान के अली शाह के तेज शॉट से गेंद भारत के गोलपोस्ट में चली गई। रेफरी ने पहले पाकिस्तान के पक्ष में गोल दे दिया, लेकिन भारत ने रेफरल मांगा। इसके बाद रेफरी ने अपना फैसला पलट दिया। पहले क्वार्टर के आखिरी क्षणों में भारत को एक पेनल्टी कॉर्नर भी मिला था, लेकिन हरमनप्रीत सिंह के शॉट को पाकिस्तानी गोलकीपर ने रोक लिया।

गोलकोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में पाकिस्तान को नहीं हरा पाया था भारत
इससे पहले गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में दोनों टीमें आमने-सामने हुईं थी। वह मुकाबला ड्रॉ रहा था। आठ बार की ओलिंपिक चैम्पियन भारतीय टीम गोल्ड कोस्ट में चौथे स्थान पर रही थी। इसके बाद हॉकी इंडिया ने शोर्ड मारिन को हटाकर हरेंद्र सिंह को कोच की जिम्मेदारी दी थी।

40 साल में एक बार भी चैम्पियन नहीं बना भारत

चैम्पियन ट्रॉफी 1978 में शुरू हुई थी। तब से इस टूर्नामेंट के 36 संस्करण हो चुके हैं, लेकिन भारत एक बार भी इसे जीतने में सफल नहीं हुआ। चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2016 में रहा था, तब भारत खिताबी मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया से पेनल्टी शूटआउट में हार गया था। पाकिस्तान 3 बार (1978, 1980 और 1994) चैम्पियंस ट्रॉफी जीत चुका है। हालांकि तीनों बार उसने घरेलू मैदान पर ही यह उपलब्धि अपने नाम की है।

भारत v/s पाकिस्तानः 2 साल में 9 मुकाबले, 8 जीता

- पिछले दो साल में भारत और पाकिस्तान की हॉकी टीमों के बीच 9 मैच हुए। इनमें कॉमनवेल्थ गेम्स का मुकाबला छोड़ दें तो सभी में भारत ने जीत दर्ज की है। यूं कहें कि पाकिस्तान के खिलाफ भारत का जीत का सिलसिला टूट गया।

टूर्नामेंट जगह तारीख स्कोर
अजलन शाह कप इपोह 12-04-2016 भारत 5, पाक 1
एशिया हॉकी चैम्पियंस कुआनतान 23-10-2016 भारत 3, पाक 2
एशिया हॉकी चैम्पियंस कुआनतान 30-10-2016 भारत 3, पाक 2
हॉकी वर्ल्ड लीग सेमी लंदन 18-06-2017 भारत 7, पाक 1
हॉकी वर्ल्ड लीग सेमी लंदन 24-06-2017 भारत 6, पाक 1
हॉकी एशिया कप ढाका 15-10-2017 भारत 3, पाक 1
हॉकी एशिया कप ढाका 21-10-2017 भारत 4, पाक 0
कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड कोस्ट 07-04-2018 भारत 2, पाक 2
चैम्पियंस ट्रॉफी नीदरलैंड 23-06-2018 भारत 3, पाक 0

पाकिस्तानी कोच का रह चुका है भारतीय टीम से नाता
- पाकिस्तानी हॉकी टीम के कोच रोलैंट ओल्टमैंस चार साल तक भारतीय हॉकी टीम से जुड़े रहे हैं। ओल्टमैंस पहले हॉकी इंडिया के हाई परफार्मेंस डायरेक्टर थे।
- 2015 में उन्हें टीम का मुख्य कोच बनाया गया। सितंबर 2017 में उन्हें हटा दिया गया।
- भारत ने पिछले जिन सात मैचों में पाकिस्तान के खिलाफ जीत दर्ज की है, उनमें से 5 में ओल्टमैंस भारत के कोच थे। ओल्टमैंस 2003-2004 में भी पाकिस्तानी हॉकी टीम के कोच रह चुके हैं।

टीमेंः
भारतः हरमनप्रीत सिंह, दिलप्रीत सिंह, जरमनप्रीत सिंह, सुरेंदर कुमार, मनप्रीत सिंह, सरदार सिंह, सिमरनजीत सिंह, मनदीप सिंह, ललित उपाध्याय, पी. श्रीजेश (कप्तान और गोलकीपर), पृथक कृष्णा, वरुण कुमार, सुनील सोमरपेट, बीरेंद्र लाकड़ा, चिंगलेनसाना कंगजुम, अमित रोहिदास, रमनदीप सिंह, विवेक प्रसाद। कोचः हरेंद्र सिंह।


पाकिस्तानः इमरान बट (गोलकीपर), बिलाल अलीम, मुबाशर अली, तौसीक अरशद, राशिद महमूद, मोहम्मद कादिर, मोहम्मद इरफान, शान अली, मोहम्मद रिजवान (कप्तान), मोहम्मद इरफान जूनियर, उमर भुट्टा, अम्माद बट, शफाकत रसूल, एजाज अहमद, तसवार अब्बास, अमजद अली, मोहम्मद अबु, मोहम्मद याकूब। कोचः आर. ओल्टमैंस।

कॉमनवेल्थ गेम्स में ड्रॉ से पहले भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ दो साल में खेले गए 8 मुकाबलों में जीत हासिल की थी। कॉमनवेल्थ गेम्स में ड्रॉ से पहले भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ दो साल में खेले गए 8 मुकाबलों में जीत हासिल की थी।
कॉमनवेल्थ गेम्स में टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद हॉकी टीम के कोच शोर्ड मारिन को हटाकर हरेंद्र सिंह को कोच बनाया गया है।   -फाइल कॉमनवेल्थ गेम्स में टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद हॉकी टीम के कोच शोर्ड मारिन को हटाकर हरेंद्र सिंह को कोच बनाया गया है। -फाइल
चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत-पाकिस्तान का मुकाबला देखने पहुंचे भारतीय समर्थक। चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत-पाकिस्तान का मुकाबला देखने पहुंचे भारतीय समर्थक।