--Advertisement--

वाइफ के साथ मिलकर मिठाई की दुकान चलाता था शख्स, अचानक वाइफ ने दुकान पर आना कर दिया बंद, लोगों ने पूछा तो सामने आई इमोशनल वजह

शख्स की मदद करने के लिए लोगों ने निकाला खास तरीका, ताकि वाइफ के पास जा सके वो

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 11:43 AM IST

सीलबीच. अमेरिका के कैलिफोर्निया स्टेट में रहने वाला एक शख्स अपनी वाइफ के साथ मिलकर डोनट (एक तरह की मिठाई) की शॉप चलाता था। कुछ हफ्ते पहले दुकान के रेगुलर कस्टमर्स ने नोटिस किया कि शख्स की वाइफ वहां नहीं दिख रही है और वो अकेला है। जिसके बाद उन्हें पता चला कि वो एक गंभीर बीमारी से जूझ रही थी, जिसकी वजह से उसका चलना-फिरना भी बंद हो गया है। ऐसे में इलाके के लोगों ने उस शख्स की मदद करने का फैसला किया और इसके लिए एक बेहद खास तरकीब भी निकाल ली। कई कस्टमर्स ने शख्स से आर्थिक मदद देने के बारे में भी पूछा, लेकिन उसने मना कर दिया।

दुकान पर दिख रहा था अकेला शख्स

- ये स्टोरी अमेरिका के सीलबीच शहर में रहने वाले जॉन चान और उसकी वाइफ स्टेला चान की है। ये कपल साल 1979 में कंबोडिया से शरणार्थी के रूप में अमेरिका आया था और यहां आने के 10 साल बाद उन्होंने 'डोनट सिटी' नाम की दुकान खरीदी थी।
- ये कपल पिछले कई सालों से डोनट की इस दुकान को चला रहा है, जो कि इलाके में काफी फेमस भी है। आमतौर पर ये दोनों दुकान पर दिखते हैं, लेकिन बीते कई हफ्तों से जॉन अकेला ही दुकान संभाल रहा था और ग्राहकों को डोनट्स दे रहा था।
- स्टेला के दुकान पर नहीं दिखने पर जब कई रेगुलर कस्टमर्स ने जॉन से उसके बारे में पूछा। तो उन्हें पता चला कि वो 'डब्लिटैटिंग ऐन्यरिज़म' नाम की एक दिमागी बीमारी से जूझ रही है। जिसकी वजह से उसका चलना फिरना बंद हो गया है।
- जॉन ने ग्राहकों को बताया कि वो रोजाना सुबह आकर डोनट्स बनाता है, और पूरे बिकने के बाद ही स्टेला के पास जा पाता है। ये बात जानने के बाद स्थानीय लोगों ने उसकी मदद करने का फैसला लिया। इसकी शुरुआत सबसे पहले डॉन केवियोला नाम की महिला ने की।
- केवियोला ने बताया, 'दिन गुजरते जा रहे थे और मैं जॉन की मदद करना चाहती थी। इस दौरान मैंने सोचा कि अगर बहुत से लोग मिलकर रोजाना ढेर सारे डोनट्स खरीद लें तो वो दुकान जल्दी बंद कर सकता है और वाइफ के साथ ज्यादा वक्त बिता सकता है।'
- इसके बाद केवियोला ने अपना आइडिया लोकल नेटवर्किंग सोशल साइट पर शेयर कर दिया और ये जल्द ही इलाके में रहने वाले सभी लोगों तक पहुंच गया। फिर तो जॉन की दुकान पर लोगों की भीड़ लगने लगी और कुछ ही घंटों में उसके सारे डोनट्स बिक जाने लगे। वो तीन घंटे पहले वाइफ के पास पहुंचने लगा।

भारी मात्रा में डोनट्स खरीदने लगे

- चान फैमिली की मदद करने के लिए कई ग्राहक बड़ी मात्रा में डोनट्स खरीदने लगे। कोई स्कूल के बच्चों के लिए ले जाने लगा तो कोई अपने स्टाफ के लिए उन्हें खरीदने लगा। जल्दी और ज्यादा बिकने की वजह से जॉन सुबह 10 बजे ही फ्री होने लगा। इस बात को लेकर वो लोगों का दिल से शुक्रिया अदा करता है।
- स्टेला की तबीयत 22 सितंबर को एक वेडिंग पार्टी के दौरान अचानक खराब हो गई थी। उस वक्त उसे चक्कर आ गए थे और वो बेहोश हो गई थी। जब उसे हॉस्पिटल ले जाया गया तो ब्रेन स्केन के दौरान उसे हुई बीमारी के बारे में पता चला था।
- अगले दो हफ्तों तक वो सोने जैसी हालत में रही, ना वो बोल पा रही थी और ना ही चल-फिर पा रही थी। हालांकि कुछ दिनों बाद जब वो बोलने लगी तो उसने कहा कि मुझे बहुत राहत मिली है और मैं लोगों की आभारी हूं।
- स्टेला की तबीयत अब भी पूरी तरह ठीक नहीं हुई है, वो धीरे-धीरे रिकवरी कर रही है। वाइफ के नहीं होने पर जॉन की बहन शेरोन दुकान पर आकर उसकी मदद करती है।

How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
X
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
How the Seal Beach community is helping this doughnut shop owner spend time with ailing wife
Bhaskar Whatsapp

Recommended