--Advertisement--

Old Age Care : छोटी-छोटी बातें बुजुर्गों को अकेला महसूस कराती हैं, जाने 5 बातें कैसे रखें उनका ध्यान

बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे।

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 05:43 PM IST
बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे। उन्हें बाहर लोगों से मिलने दें और नए दोस्त बनाने दें। बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे। उन्हें बाहर लोगों से मिलने दें और नए दोस्त बनाने दें।

लाइफस्टाइल डेस्क. इस बदलती लाइफस्टाइल में लोगों के पास वक्त की इतनी कमी हो रही है कि वे घर के बुजुर्गों के साथ भी बैठ उठ नहीं पाते। जबकि बुजुर्गों को ढलती उम्र में अपनेपन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। अगर आपके घर में भी बुजुर्ग हैं तो उन्हें हेल्दी व फिट रखने के लिए इन 05 बातों पर ध्यान दें।

01. फिजिकली फिट
बुजुर्गों को व्यायाम और योग करने के लिए प्रेरित करते रहें। साथ भी खुद भी व्यायाम करें। इससे न केवल उनकी शारीरिक बीमारियां दूर भागेंगी बल्कि आपका अकेलापन भी दूर होगा और वह फिट भी रहेंगे। अगर कभी उनके शरीर में किसी तरह का दर्द हो तो उन्हें पहले फर्स्ट एड दें और सुधार न दिखने पर फौरन उन्हें डॉक्टर के पास ले जाएं।

02. नजर बनाए रखें
बुजुर्गों को अगर ज्यादा कमजोरी महसूस हो या फिर भूलने की आदत हो तो उनके बाहर जाने पर उन पर नजर रखें। उन्हें घर वापिस आने में देर हो जाए तो बाहर देखने जरूर जाएं। बड़े बुजुर्ग अगर कोई काम करना चाहते हैं तो उन्हें मना न करें। अगर आप उन्हें मना करते हैं तो उन्हें लगता है कि आप उन्हें रोक-टोक कर रहेे हैं।

03. नए दोस्त बनाने दें
बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे। उन्हें बाहर लोगों से मिलने दें और नए दोस्त बनाने दें। इससे उनका अकेलापन दूर होगा और वह हमेशा खुश रहेंगे। उनके अनुभव और कहानी को ध्यान से सुनें। शायद उनकी सुनाई कहानी से आपको जीवन की किसी परेशानी का हल मिल जाए।
04. एकसाथ खाना खाएं
उनसे वसीयत, पॉवर ऑफ अटार्नी के बारे में बेहिचक प्यार से बात करें। उनकी सलाह भी सुनें और उन्हें अपने मुताबिक सलाह भी दें। इससे रिश्तों में खुलापन आएगा। उन्हें उनके मन के मुताबिक निर्णय लेने दें। आपसी प्यार बढ़ाने के लिए एक साथ बैठ खाना खाएं। इससे उनका अकेलापन भी दूर होगा और रिश्तों में मिठास भी आएगी।

05. शॉपिंग करवाएं
उनके गुस्से को सहना सीखें। कभी भी उनका विरोध न करें। आप कभी ऐसे शब्द न बोलें जिससे उनके मन को ठेस पहुंचे। वे अपशब्द बोल दें तो चुपचाप सुन लें, पलटकर जवाब न दें। उन्हें कभी-कभी अपने साथ बाहर घूमने लेकर जाएं। इससे उनके मन को खुशी पहुंचेगी। उन्हें मॉल या मार्केट ले जाकर शॉपिंग भी करवा सकते हैं।

बुजुर्गों को व्यायाम और योग करने के लिए प्रेरित करते रहें। साथ भी खुद भी व्यायाम करें। बुजुर्गों को व्यायाम और योग करने के लिए प्रेरित करते रहें। साथ भी खुद भी व्यायाम करें।
X
बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे। उन्हें बाहर लोगों से मिलने दें और नए दोस्त बनाने दें।बुजुर्गों को हमेशा सम्मान दें। उन्हें कभी भी ऐसी बात न कहें जिससे उनके मन को ठेस लगे। उन्हें बाहर लोगों से मिलने दें और नए दोस्त बनाने दें।
बुजुर्गों को व्यायाम और योग करने के लिए प्रेरित करते रहें। साथ भी खुद भी व्यायाम करें।बुजुर्गों को व्यायाम और योग करने के लिए प्रेरित करते रहें। साथ भी खुद भी व्यायाम करें।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..