विज्ञापन

भगवान कृष्ण की भक्ति घर में लाती है लक्ष्मी, दूर होता है कुंडली का हर दोष, रोज लगाएं माखन-मिश्री का भोग, चंदन का तिलक लगाएं

Dainik Bhaskar

Jun 26, 2018, 04:22 PM IST

घर में बाल गोपाल की मूर्ति है तो मोरपंख सहित 5 चीजें जरूर रखें...

keep 5 things in the temple of home with Bal gopal idol
  • comment

रिलिजन डेस्क। वैष्णव संप्रदाय में कृष्ण की भक्ति मुख्य है। माना जाता है भगवान कृष्ण के बाल रुप (बालगोपाल) की पूजा और सेवा से घर में लक्ष्मी का स्थायी निवास होता है। श्रीकृष्ण के बाल स्वरुप की सबसे ज्यादा पूजा की जाती है। भगवान कृष्ण को रोज माखन-मिश्री का भोग लगाने, पूरा श्रंगार करने से घर में सुख-शांति आती है। हमारे ग्रंथों ने भगवान कृष्ण की महिमा का सबसे ज्यादा बखान किया है। महाभारत, भागवत से लेकर ब्रह्मवैवर्त पुराण तक भगवान कृष्ण की महिमा से भरे हुए हैं।

भागवत सहित कई पुराणों ने श्रीकृष्ण की भक्ति के लिए कुछ नियम दिए हैं। पहला नियम ये है कि अगर घर में बाल गोपाल की मूर्ति है तो उसकी सेवा वैसे ही होनी चाहिए जैसे घर में किसी छोटे बच्चे की होती है। सुबह-शाम भोग, सुबह स्नान, नए कपड़े पहनाना, मोर मुकुट आदि से सिंगार करना आदि। इससे घर में पूरे समय सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। घर के सदस्यों में आपसी प्रेम और सामंजस्य रहता है। आर्थिक तंगी नहीं आती।

ये पांच चीजें बाल गोपाल के साथ जरूर रखें

मोरपंख - जहां भी भगवान कृष्ण को विराजित किया जाता है, वहां मोरपंख जरूर रखना चाहिए। इससे घर की नेगेटिविटी दूर होती है, ये भगवान कृष्ण के मुकुट में भी लगाया जाता है।

बांसुरी - भगवान कृष्ण को बांसुरी सबसे अधिक प्रिय है। वास्तु में भी बांसुरी को दोषों का निवारण करने वाला माना गया है। बांस से बनी या चांदी की बांसुरी आप भगवान कृष्ण के पास रख सकते हैं। इससे घर के वास्तु दोषों का निवारण होगा।

गाय की मूर्ति - भगवान कृष्ण के साथ गाय की एक मूर्ति भी रखें, जिसमें वो बछड़े को दूध पीला रही हो। ये घर में सम्पन्नता लाती है।

शंख - घर के मंदिर में शंख भी भगवान कृष्ण के पास रखें। शंख आसपास के वातावरण की नेगेटिव एनर्जी को खत्म करता है।

गरुड़ घंटी - मंदिर ऐसी घंटी रखनी चाहिए जिसके ऊपर गरुड़ बने हों, गरुड़ भगवान विष्णु के वाहन हैं। आनंद और उत्साह का माहौल बनाते हैं।

X
keep 5 things in the temple of home with Bal gopal idol
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें