--Advertisement--

इस सावन सोमवार बनाइए साबूदाना की स्वादिष्ट खिचड़ी, रेसिपी बता रहे हैं संजीव कपूर

साबूदाना कार्बोहाडड्रेट का अच्छा सोर्स है जो दिनभर एनर्जी देने का काम करता है।

Danik Bhaskar | Aug 07, 2018, 03:51 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. आज सावन का दूसरा सोमावार है। भगवान शिव की पूजा करने वाले ज्यादातर लोग व्रत रखते हैं और दिन में एक बार ही भोजन लेते हैं। ऐसे में जरूरी है खाने में ऐसी डिश ली जाए तो आपको एनर्जी दे और भूख का अहसास न कराए। ऐसी ही डिश हैं साबूदाने की खिचड़ी। डाइटीशियन इंदू टॉक के अनुसार व्रत में साबूदाना कमजोरी आने से रोकता है। इसमें प्रोटीन, कैल्शियम और आयरल अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जो मसल्स और बोन के लिए फायदेमंद है। यह कार्बोहाडड्रेट का अच्छा सोर्स है जो दिनभर एनर्जी देने का काम करता है। यह मेटाबॉलिज्म को दुरुस्त कर गैस, अपच और कब्ज से भी बचाता है। शेफ संजीव कपूर से जानते हैं इसे साफ्ट और लजीज कैसे बनाएं...

साबूदाने की खिचड़ी
सामग्री:
डेढ़ कप साबूदाना, आधा कप मूंगफली के दाने, हरी मिर्च 4-5, एक आलू मीडियम साइज, देसी घी 3 टेबल स्पून, कढ़ी पत्ते, जीरा एक टेबलस्पून, सेंधा नमक स्वादानुसार, ताजा घिसा हुआ नारियल, हरी धनिया की पत्तियां।

विधि :
- साबूदाना साफ करके अच्छे से धो लें और 3-4 घंटे के लिए पानी में भिगो कर रख दें। बनाने से कुछ देर पहले पानी से निकालकर रख दें।
- गैस पर कड़ाही रखकर मूंगफली दाना भूनकर दानों के छिलके उतार लें। अब मूंगफली दानों को मिक्सर में दरदरा पीस लें।
- हरी मिर्च की डंठल हटाकर छोटा-छोटा काट लें। आलू को छीलकर छोटे-छोटे टुकड़े काट लें। हरी धनिया को बारीक काट लें।
- पैन में घी गर्म करें। इसमें कढ़ी पत्ते, जीरा और कटी हुई हरी मिर्च डालें। जब जीरा लाल होने लगे तो कटा हुआ आलू डालें।
- आलू लाल होने तक फ्राई करें। अब इसमें साबूदाना, घिसा हुआ नारियल और मूंगफली डालें। इसे 4-5 मिनट तक फ्राई करें और हिलाते रहें।
- अब इसमें थोड़ा सा पानी छिड़कें, सेंधा नमक डालें और अच्छे से मिलाएं। इसे बाउल में निकालें और धनिये की पत्तियां डालकर सर्व करें।

न्यूट्रिशनल वैल्यू
कैलोरी : 964
कार्बोहाइड्रेट : 158 ग्राम
प्रोटीन : 16.4 ग्राम
फैट: 29.5 ग्राम