विज्ञापन

ये है घर में कलश रखने की सही तरीका, मुहूर्त और सावधानियां

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 05:59 PM IST

जरूरी नहीं है कि घर की सुख-शांति के लिए कोई बड़ा उपाय किया जाए, महानगरों में आजकल ये संभव भी नहीं है।

right process of Kalash sthapana, shubh muhurt and important things
  • comment

रिलिजन डेस्क. जरूरी नहीं है कि घर की सुख-शांति के लिए कोई बड़ा उपाय किया जाए, महानगरों में आजकल ये संभव भी नहीं है। अगर घर में नेगेटिव एनर्जी को खत्म कर सुख-समृद्धि लानी है तो बस एक छोटा सा प्रयास ही काफी अच्छा फल दे सकता है। घर में हर बुधवार को एक कलश स्थापित करने से भी आपकी कई समस्याओं का समाधान संभव है। बुधवार भगवान गणेश का दिन है, इस दिन घर में कलश रखने से कई शुभ प्रभाव होते हैं।

घर में कलश रखने के कई फायदे हैं। ज्योतिषाचार्य पं. आर.के. भारद्वाज के मुताबिक घर में कलश इसीलिए रखा जाता है कि घर की सारी नेगेटिव एनर्जी वो खत्म कर दे। एक कलश आपको कई परेशानियों से बचाता है। अगर आप हर सप्ताह घर में एक कलश की स्थापना करते हैं तो इसका अधिकतम खर्च 20 होता है। आपको सिर्फ बाजार से एक अच्छा पानी वाला नारियल लाना होता है, इसके अलावा कोई खर्च नहीं है। नारियल जहां भी होता है वो अपने आसपास की नेगेटिव एनर्जी को सोख लेता है। जिससे घर में पॉजीटिव एनर्जी एक्टिव होने लगती है।

ये फायदे देता है घर में रखा कलश

1 - अपने आसपास की नकारात्मक ऊर्जा को एब्जार्व करता है।

2 - घर में शांति और सुख लाता है। नारियल को शुभ फल देने वाला माना जाता है।

3 - घर के मंदिर में रखा गया कलश वहां का माहौल भक्तिमय बनाता है। आपको पूजा में एकाग्रता देता है।

4 - घर में बीमारियां हों तो नारियल का कलश उसको दूर करने में मदद करता है।

5 - कलश को भगवान गणेश का प्रतिरुप भी माना जाता है, इसलिए हमारे कामों में आ रही रुकावटों को दूर करता है।

ऐसे स्थापित करें कलश

1 - बुधवार को सुबह एक पानी वाला नारियल लाएं।

2 - नहाने के बाद पूजन से पहले उसकी जटाओं को साफ कर लें।

3 - नारियल पर कुंकुम से एक स्वस्तिक बनाएं।

4 - तांबे के लोटे में पानी भर कर उसमें अशोक या पीपल के सात पत्ते रखें। फिर थोड़े से चावल रखकर उस पर कलश को रख दें।

5 - फिर उसमें नारियल को स्थापित करें। इस पूरी विधि के दौरान मन ही मन ऊं गं गणपतये नमः मंत्र बोलते रहें।

6 - कलश की पूजा करें, कुंकुम चावल और अबीर गुलाल चढ़ाएं।

7 - उसके बाद भगवान गणपति की पूजा करके गणेश अथर्वशीर्ष का पाठ करें।

8 - अगर नारियल सूख जाए या उसमें कोई दरार पड़ जाए तो ये मंगलवार को इस नारियल को नदी में बहा दे या किसी सुनसान जगह जमीन में दबा दें।

right process of Kalash sthapana, shubh muhurt and important things
  • comment
X
right process of Kalash sthapana, shubh muhurt and important things
right process of Kalash sthapana, shubh muhurt and important things
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें