विज्ञापन

आसान तरीका - कैसे देखें छोटे-छोटे कामों के लिए शुभ मुहूर्त

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 07:40 PM IST

कई लोगों के साथ परेशानी होती है कि वो कुछ अच्छा काम शुरू करने जाते हैं तो उन्हें शुभ मुहूर्त पता नहीं होता।

right process to see shubh muhurt from panchang
  • comment

रिलिजन डेस्क. कई लोगों के साथ परेशानी होती है कि वो कुछ अच्छा काम शुरू करने जाते हैं तो उन्हें शुभ मुहूर्त पता नहीं होता। अगर हम काम में पूरी मेहनत करने के साथ थोड़ा सा ध्यान इस बात का भी रखेंगे कि वो काम किसी अच्छे मुहूर्त में शुरू हो तो उसका काफी फायदा आपको देखने को मिलेगा। गाड़ी खरीदने से कोई प्रोजेक्ट बनाने तक अगर हम सिर्फ समय का थोड़ा ध्यान रखें तो काफी शुभ फल मिल सकता है।

हिंदु धर्म में पंचांग से शुभ मुहूर्त देखते हैं। पंचांग का अर्थ ही है जिसके पांच अंग हों, तिथि, वार, नक्षत्र, योग तथा करण। इन पांच का निर्धारण जिससे होता है उसे पंचांग कहते हैं। पंचांग में ही रोज के शुभ और अशुभ मुहूर्तों की भी लिस्ट होती है, जिसे चौघड़िया कहा जाता है। चौघड़िया देख कर ही हम शुभ और अशुभ समय का निर्धारण करते हैं। अगर आप चाहते हैं कि कोई काम करते समय आपको शुभ मुहूर्त और योग पता रहें तो इसका तरीका बहुत आसान है। कई कैलेंडर्स में चौघड़िया का कॉलम होता है। वहां आप अपने लिए शुभ मुहूर्त खुद ही देख सकते हैं। इसके अलावा आजकल पंचांग के कई एप्स भी हैं प्लेस्टोर में वहां से भी डाउनलो़ड करके आप खुद शुभ समय देख सकते हैं।

सात तरह के होते है मुहूर्त

चौघड़िए में आठ तरह के मुहूर्त होते हैं इनमें से 4 शुभ और 3 अशुभ होते हैं। शुभ मुहूर्त चर, लाभ, शुभ और अमृत होते हैं, अशुभ काल, रोग और उद्वेग। हमें जो भी काम करना हो उसके लिए चर, शुभ, लाभ और अमृत के मुहूर्त में करना चाहिए। इन चार शुभ मुहूर्त में भी आप ये तय कर सकते हैं कि जो काम आप करने जा रहे हैं वो इन चार में से किस मुहूर्त में करना चाहिए।

चर मुहूर्त - इसे चल मुहूर्त भी कहा जाता है। ऐसे काम जो आपको लंबे समय तक चलाना है। या कोई वाहन वगैरह लेना है जो लंबे समय चलता रहे। इस मुहूर्त में लिया जा सकता है।

शुभ मुहूर्त - शुभ का चौघड़िया नाम से ही स्पष्ट करता है कि सारे मांगलिक कार्य इस मुहूर्त में किए जा सकते हैं, शादी के रिश्ते, सगाई से लेकर सारे मांगलिक कार्य शुभ के चौघड़िए में किए जा सकते हैं।

लाभ मुहूर्त - ये लाभ देने वाला है, जिस काम में आपको लाभ चाहिए, जैसे बिजनेस शुरू करना, कोई प्रोजेक्ट बनाना या किसी लोन वगैरह के लिए अप्लाय करना।

अमृत मुहूर्त - ये मुहूर्त भी बहुत खास है, ये ऐसे कामों के लिए होता है जिसे आप लंबी जिंदगी देना चाहते हैं। कोई बड़ा प्रोजेक्ट, किसी बीमारी का इलाज जैसे काम इस मुहूर्त में शुरू किए जाते हैं।

इनके अलावा एक अभिजीत मुहूर्त भी होता है जो 30 मिनट के लिए दोपहर 12 से 1 के बीच होता है। अगर आपको किसी काम के लिए मुहूर्त नहीं मिल रहा हो तो अभिजीत मुहूर्त में यानी दोपहर 12 से 1 के बीच में सारे काम निपटा सकते हैं।

right process to see shubh muhurt from panchang
  • comment
X
right process to see shubh muhurt from panchang
right process to see shubh muhurt from panchang
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें