उत्तरायण हुए सूर्य, मकर संक्रांति पर सैकड़ों श्रद्धालुअों ने स्वर्ण रेखा में लगाई डुबकी

News - मध्य रात्रि बाद सूर्य के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही माघ कृष्ण पंचमी बुधवार की सुबह से मकर संक्रांति का स्नान-दान...

Jan 16, 2020, 07:55 AM IST
Ranchi News - hundreds of devotees took a dip in the golden line on uttarayan sun makar sankranti
मध्य रात्रि बाद सूर्य के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही माघ कृष्ण पंचमी बुधवार की सुबह से मकर संक्रांति का स्नान-दान शुरू हो गया। इसके साथ खरमास खत्म हाे गया अाैर मांगलिक कार्य शुरू हाे गए। बुधवार का दिन व शाेभन याेग के शुभ संयाेग के बीच 15 जनवरी को आस्था और उल्लास के माहाैल में मकर संक्रांति मनाई गई। गुनगुनी धूप के बीच राजधानी के स्वर्ण रेखा, जुमार नदी, डैम और तालाबों में श्रद्धालुअाें ने डुबकी लगाई। श्रद्धालुओं ने स्नान, दान व पूजा के बाद दही-चूड़ा व तिलकुट का सेवन किया। वहीं जगह-जगह लाेग एक-दूसरे के घर जाकर मंकर संक्रांति की बधाई देते रहे। साथ ही दही-चूड़ा, अालू दम का भोज खाने-खिलाने का क्रम भी देर शाम तक जारी रहा। इस दौरान पहाड़ी मंदिर समेत राजधानी के अधिकांश मंदिरों में पूजा-पाठ के लिए सुबह से ही लाेागें के अाने का सिलसिला जारी रहा। लोगों ने पहले भगवान को चूड़ा चढ़ाया, फिर खुद चूड़ा-दही ग्रहण किया। कई जगह श्री सत्यनारायण स्वामी की कथा भी हुई। लोगों ने गाय को चारा भी खिलाया और आशीर्वाद लिया। वहीं मंदिराें के पास चूड़ा-दही, तिलकुट के साथ गर्म कपड़े व कंबल अादि का भी लाेगाें ने जरूरतमंदाें के बीच वितरण किया।

आस्था
मकर संक्राति के अवसर पर बुधवार को रांची पहाड़ी बाबा का शृंगार तिलकुट से किया गया। बाबा के इस अदभुत शृंगार को देखने और दर्शन के लिए इस मौके पर सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मंदिर पहुंचे।

छतों पर दिखा पतंगबाजी का नजारा

सूर्य के दक्षिणायण से उत्तरायण होने और सूर्य के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही स्नान-दान के बाद घर-घर में श्रद्धालुओं ने दही-चूड़ा, तिलकुट, सब्जी आदि खाकर मकर संक्रांति का त्योहार मनाया। दोपहर बाद जगह-जगह छतों पर और पतंगबाजी का नजारा भी दिखा। बच्चे-बुजुर्ग छत पर पतंग उड़ाने के साथ ही खिली धूप का अानंद लिए।

गरीबों के बीच बांटे कंबल और बिस्कुट

श्री कृष्ण प्रणामी सेवा धाम ट्रस्ट व स्वामी सदानंद प्रणाली चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से मकर संक्रान्ति पर बुधवार को खूंटी के 213 बुजुर्ग के बीच कंबल और बिस्कुट पैकेट बांटे गए। सोमा मुंडा और स्वामी सदानंद महाराज के शिष्यों ने कंबल, बिस्कुट, लाई और तिलकुट का वितरण किया। संस्था के अध्यक्ष डुंगरमल अग्रवाल, उपाध्याय राजेन्द्र अग्रवाल, बिष्णु सोनी, सुरेश चौधरी, नंद किशोर, रमेन्द्र, आलोक आदि मौजूद थे।

X
Ranchi News - hundreds of devotees took a dip in the golden line on uttarayan sun makar sankranti
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना