आईएएस बनना चाहता है साइंस टॉपर अंकित

Aurangabad News - इंटर का रिजल्ट आने के बाद छात्रों ने आगे की पढ़ाई के लिए प्लानिंग करनी शुरू कर दी है। कोई डॉक्टर बबना चाहता तो...

Mar 27, 2020, 06:56 AM IST
Dev News - ias wants to become science topper

इंटर का रिजल्ट आने के बाद छात्रों ने आगे की पढ़ाई के लिए प्लानिंग करनी शुरू कर दी है। कोई डॉक्टर बबना चाहता तो आईएएस एवं आईपीएस बनकर देश की सेवा करना चाहता है। साइंस टॉपर अंकित पाल ने बताया कि वह आईएएस बनना चाहता है। कैमूर जिले के मझियांव निवासी अंकित ने सासाराम में किराये का रूम लेकर पढ़ाई कर रहा था। समाज के निचले वर्ग से आने के कारण उसे पढ़ाई के दौरान आर्थिक समस्याओं का भी सामना करना पड़ा। लेकिन पिता रामचंद्र पाल व माता सरस्वती देवी ने हमेशा से हीं उसका हौंसला बढ़ाने का काम किया। जिसकी बदौलत अंकित ने इंटर परीक्षा में साइंस टॉपर का खिताब हासिल किया। उसने बताया कि पढ़ाई के दौरान स्टूडेंट्स मैथमेटिक्स इंस्टीट्यूट के निदेशक विकास सर ने मुझे काफी प्रोत्साहित किया।

वे हमेशा हीं मुझे 2प्रेरित करते रहते थे कि तुम एक दिन अपनी कठिन परिश्रम एवं लगन के बल अपने मुकाम को हासिल करने में सफल होगे। विकास सर के मार्गदर्शन की बदौलत ही मुझे गणित में 98 अंक प्राप्त हुआ है। अंकित ने अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता रामचंद्र पाल एवं माता सरस्वती देवी के अलावे गणित टीचर विकास सर को दिया है।

नीतीश का लक्ष्य, इंडियन आर्मी में ऑफिसर बनना है


वहीं, साइंस संकाय में ही संयुक्त टॉपर रहे सासाराम प्रखंड के लेरूआं गांव निवासी नीतीश कुमार ने बताया कि वह एनडीए

चाय दुकानदार का बेटा बना दावथ का इंटर टॉपर

सूर्यपुरा/दावथ | इंटरमीडिएट का रिजल्ट आने से दावथ प्रखंड के छात्र-छात्राओं में खुशी का माहौल देखा गया। इस बार अगले साल से अलग हट कर रिजल्ट आया है। करीब 80 प्रतिशत छात्र इस वर्ष के इंटरमीडिएट परीक्षा में सफल रहे। दावथ निवासी अनिल प्रसाद का बेटा 419 अंक प्राप्त कर प्रखंड का टॉपर रहा। जानकारी के अनुसार इंटर परीक्षा में प्रखंड टॉपर बने अमित कुमार एक गरीब परिवार का छात्र है। उसके पिता अनिल प्रसाद मालियाबाग में चाय का दुकान चलाते हैं।

क्वालिफाई कर देश सेवा करना चाहता है। नीतीश ने बताया कि गरीब फैमिली से होने के कारण हमेशा मन में यहीं चिंता रहती थी कि कैसे हम अपने सपनों को पूरा करेंगे। लेकिन पिता साहेब सिंह एवं माता सुकेशरी देवी की प्रेरणा से आज मैं साइंस का संयुक्त टॉपर का तमगा हासिल कर सका है। नीतीश ने अपनी सफलता श्रेय माता एवं पिता के अलावे केमिस्ट्री टीचर नीतीश सर को दिया है। अन्य सफल छात्रों ने अपने आगे के लक्ष्यों को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि देया भर में लॉकडाउन होने के कारण उन्हें अभी कुछ दिन तक इंतजार करना पड़ सकता है।

साइंस का संयुक्त टॉपर नीतीश।

X
Dev News - ias wants to become science topper

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना