पाकिस्तान

--Advertisement--

इमरान के करीबी डॉ. आरिफ अल्वी पाकिस्तान के 13वें राष्ट्रपति चुने गए, संसद के 49.3% वोट मिले; 9 को लेंगे शपथ

पेशे से डेंटिस्ट हैं आरिफ, 1967 में अयूब खान के समय शुरू किया था राजनीतिक सफर

Danik Bhaskar

Sep 04, 2018, 08:33 PM IST

इस्लामाबाद. डॉ. आरिफ अल्वी (69) मंगलवार को पाकिस्तान के 13वें राष्ट्रपति चुने गए। पेशे से डेंटिस्ट रहे आरिफ प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी माने जाते हैं। आरिफ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शामिल हैं। नेशनल असेंबली और सीनेट के कुल 430 वोटों में से आरिफ को 212 (49.3%) वोट मिले। उन्होंने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के उम्मीदवार ऐतजाज अहसान और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के मौलाना फजलुर रहमान को हराया। रहमान को 131 और 81 वोट मिले जबकि 6 वोट रद्द कर दिए गए।

चुनाव बैलेट पेपर से कराए गए थे। अल्वी को बलूचिस्तान के 60 सांसदों में से 45 के वोट मिले। पीपीपी के दबदबे वाली सिंध विधानसभा से अहसान को 100 वोट और अारिफ को 56 वोट मिले। रहमान को यहां से केवल एक वोट मिला। खैबर पख्तूनख्वा विधानसभा से आरिफ को 78, रहमान को 26 और अहसान को 5 वोट मिले। पंजाब विधानसभा से आरिफ को 186, रहमान को 141 और अहसान को 6 वोट मिले।

मुझ पर सभी का हक : राष्ट्रपति चुने जाने के बाद आरिफ ने इमरान खान का शुक्रिया जताया। अपने भाषण में उन्होंने कहा, "मैं केवल अपनी पार्टी नहीं बल्कि पूरे देश और हर पार्टी का राष्ट्रपति हूं। सभी का मुझ पर एक सा हक है।'' आरिफ 9 सितंबर को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। मौजूदा राष्ट्रपति ममनून हुसैन का कार्यकाल 8 सितंबर को खत्म हो रहा है।

'सभी को शपथ ग्रहण में न्योता': आरिफ ने कहा कि वे पूरे विपक्ष समेत सभी को शपथ ग्रहण में बुलाएंगे। उन्होंने कहा कि मेरा राजनीतिक जीवन 1967 में अयूब खान के वक्त शुरू हुआ। तब से लेकर अब तक देश राजनीतिक रूप से काफी जागरूक हुआ है। आरिफ 2006 से 2013 तक पीटीआई के महासचिव रहे। इस बार उन्होंने कराची से चुनाव जीता था। 2013 में भी नेशनल असेंबली के सदस्य रहे थे।

Click to listen..