Hindi News »Business» Indians 25% Higher Risks Financial Fraud

25% भारतीयों के ऑनलाइन ठगी का शिकार होने का खतरा, सिर्फ 6% लोग साझा किए पर्सनल डेटा पर नजर रखते हैं: रिपोर्ट

वित्तीय सूचना देने वाली वैश्विक कंपनी एक्सपीरियन की हाल ही में आई एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jun 19, 2018, 06:17 PM IST

25% भारतीयों के ऑनलाइन ठगी का शिकार होने का खतरा, सिर्फ 6% लोग साझा किए पर्सनल डेटा पर नजर रखते हैं: रिपोर्ट
  • डिजिटल हुए भारतीयों में से 65% ने मोबाइल से होने वाले लेनदेन को अपनाया
  • बैंकों के साथ डेटा साझा करने के मामले में भारतीय बहुत सहज होते हैं

मुंबई. डिजिटली सक्रिय हो रहे भारतीयों के ऑनलाइन ठगी का शिकार होने की आशंका बढ़ गई है। हर चार में से एक यानी 25% पर ठगी का खतरा मंडरा रहा है। वित्तीय सूचनाओं पर रिसर्च करने वाली वैश्विक कंपनी एक्सपीरियन की हाल ही में आई एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। कंपनी ने ऑस्ट्रेलिया, चीन, हांगकांग, भारत, इंडोनेशिया, जापान, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, थाइलैंड और वियतनाम में ऑनलाइन सर्वे किया। हालांकि, कंपनी ने यह नहीं बताया कि उसने कितने लोगों के बीच यह सर्वे किया।
रिपोर्ट में कहा गया है कि एशिया-प्रशांत क्षेत्र में जितने लोग डिजिटल सेवाओं का इस्तेमाल करते हैं, उनमें 90% भारतीय ही हैं। इनमें से 24% भारतीय ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के दौरान धोखाधड़ी का सीधे तौर पर शिकार होते हैं। तीन सेक्टर- टेलीकम्युनिकेशन (57%), बैंक (54%) और रिटेल सेक्टर (46%) में सबसे ज्यादा धोखाधड़ी होती है। रिपोर्ट में कहा गया कि 50% भारतीय बैंकों के साथ सहज तरीके से डेटा साझा कर लेते हैं।

पर्सनल डेटा पर नजर रखने के मामले में जापान के लोग आगे : डिजिटल हो चुके भारतीयों में से 65% ने मोबाइल ट्रांजैक्शंस को अपनाया है। 51% भारतीय अलग-अलग तरह की सेवाओं का फायदा लेने के लिए अपने निजी डेटा को आसानी से साझा कर देते हैं। लेकिन महज 6% उपभोक्ता ही साझा किए गए पर्सनल डेटा पर खुद नजर रखते हैं। इस मामले में जापान के लोग सबसे आगे हैं। वहां 8% लोग अपने पर्सनल डेटा पर नजर रखते हैं। रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि इलेक्ट्रॉनिक्स और ट्रैवल सेक्टर में बड़े स्तर पर उपभोक्ताओं का डेटा इकट्ठा किया जा रहा है। दोनों सेगमेंट में ऑनलाइन धोखाधड़ी का ज्यादा खतरा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×