--Advertisement--

फीफा: दूसरे सेमीफाइनल में आज इंग्लैंड का मुकाबला क्रोएशिया से, विश्व कप में पहली बार दोनों टीमें आमने-सामने

इंग्लैंड 1982 के बाद से एक विश्व कप में दो यूरोपीय टीमों को नहीं हरा पाया, इस बार वह स्वीडन से जीत चुका है।

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 08:53 AM IST

  • दूसरा सेमीफाइनल भारतीय समयानुसार रात 11:30 बजे से लुझनिकी स्टेडियम में खेला जाएगा
  • यह मैच जीतने वाली टीम 15 जुलाई को फ्रांस के खिलाफ फाइनल खेलेगी

मॉस्को. फुटबॉल विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में बुधवार को इंग्लैंड का मुकाबला क्रोएशिया से होगा। विश्व कप में दोनों टीमें पहली बार आमने-सामने होंगी। अब तक ये आपस में 7 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुकी हैं। इनमें इंग्लैंड ने चार और क्रोएशिया ने दो मैच जीते हैं। एक मैच ड्रॉ रहा। इंग्लैंड की टीम तीसरी बार विश्व कप का सेमीफाइनल खेलेगी। इससे पहले 1966 में उसने पुर्तगाल को 2-1 से हराया था और 1990 में उसे जर्मनी ने पेनल्टी शूट आउट में बाहर कर दिया था। क्रोएशिया दूसरी बार सेमीफाइनल में पहुंची है। इससे पहले, उसे 1998 में मेजबान फ्रांस ने 2-1 से हरा दिया था। पहला सेमीफाइनल मुकाबला मंगलवार को फ्रांस और बेल्जियम के बीच खेला गया। फ्रांस ने यह मैच 1-0 से जीता।

9 साल से दोनों टीमों के बीच नहीं हुआ कोई मैच

तारीख टूर्नामेंट नतीजा
24-4-1996 मैत्री मैच ड्रॉ
20-8-2003 मैत्री मैच इंग्लैंड जीता
21-6-2004 यूरो 2004 इंग्लैंड जीता
11-10-2006 यूरो 2008 क्वालीफाइंग क्रोएशिया जीता
21-11-2007 यूरो 2008 क्वालीफाइंग क्रोएशिया जीता
10-9-2008 विश्व कप 2010 क्वालीफाइंग इंग्लैंड जीता
9-9-2009 विश्व कप 2010 क्वालीफाइंग इंग्लैंड जीता

सुबासिच ने क्रोएशिया के खिलाफ 80% गोल की कोशिशें नाकाम कीं: क्रोएशिया के कप्तान लुका मोड्रिच और मीडफिल्डर इवान रकिटिच इस विश्व कप में अपनी टीम के लिए प्लेमेकर साबित हुए हैं। मोड्रिच ने दो गोल और एसिप्ट ने एक गोल किया है। मोड्रिच ने 2 गोल और 1 एसिस्ट किया हैं और रकिटिच ने 1 गोल किए हैं। पिछले दो पेनल्टी शूट आउट में मोड्रिच ने तीसरे और रकिटिच ने पांचवें नंबर पर आकर शॉट लेकर गेंद को गोलपोस्ट में डाला। इन दोनों के साथ-साथ पेरिसिच, रेबिच और गोलकीपर सुबासिच इंग्लैंड के लिए खतरा बन सकते हैं। सुबासिच ने क्रोएशिया के खिलाफ 80% गोल के प्रयास के नाकाम किया है। इंग्लैंड के स्ट्राइकर हैरी केन ने इस विश्व कप में सबसे ज्यादा 6 गोल किए हैं, जिसमें उन्होंने 3 गोल पेनल्टी के जरिए किए। रहीम स्टर्लिंग ने गोल तो नहीं किया, लेकिन अपनी तेजी और पास से विपक्षी टीमों को परेशानी में डाला है। इंग्लैंड के पास हैरी केन और स्टर्लिंग के अलावा जेसी लिंगार्ड, स्टोन्स और अनुभवी येरी मिना जैसे मजबूत खिलाड़ी है।

टीमें (संभावित):
इंग्लैंड: पिकफोर्ड (गोलकीपर), ट्रिपिएर, वाल्कर, स्टोन्स, मैगुएर, रोज, हेंडरसन, डेले अली, जेसी लिंगार्ड, रहीम स्टर्लिंग, हैरी केन।
क्रोएशिया: डेनियल सुबासिच (गोलकीपर), कोरलुका, लोवरेन, विदा, ब्रोजोविच, इवान रकिटिच, पेरिसिच, लुका मोड्रिच, रेबिच, मांजुकिच।