--Advertisement--

विश्व कप प्री-क्वार्टर फाइनलः मैक्सिको के खिलाफ ब्राजील का मैच आज, पहली बार आखिरी 8 में पहुंचना चाहेगा जापान

विश्व कप में मैक्सिको 2 तो ब्राजील 13 बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहा है।

Danik Bhaskar | Jul 02, 2018, 04:59 PM IST

  • बेल्जियम ने ग्रुप स्टेज के 3 मैच में 9 गोल किए, उसके खिलाफ सिर्फ 2 गोल हुए
  • ब्राजील ने ग्रुप स्टेज के 3 मैच में 5 गोल किए, उसके खिलाफ सिर्फ 1 गोल हुआ
  • मैक्सिको ने ग्रुप स्टेज में गोल कम किए और खाए ज्यादा, लेकिन अगले दौर में पहुंच गई
  • जापान ने ग्रुप स्टेज के 3 मैच में 4 गोल किए, उसके खिलाफ इतने ही गोल हुए हैं

मॉस्को. फुटबॉल विश्व कप में सोमवार को प्री-क्वार्टर फाइनल स्टेज के दो मैच खेले जाने हैं। पहला- ब्राजील और मैक्सिको, दूसरा- बेल्जियम और जापान के बीच। ब्राजील इस मैच को जीतकर जहां छठी बार चैम्पियन बनने का दावा मजबूत करना चाहेगा, वहीं मैक्सिको 32 साल बाद टूर्नामेंट के आखिरी 8 में जगह बनाने की कोशिश करेगा। दूसरी ओर 2014 में छठे स्थान पर रहने वाली बेल्जियम इस बार भी अपना अभियान जारी रखना चाहेगी। जापान विश्व कप में कभी भी प्री-क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ पाया है। ऐसे में वह बेल्जियम को हराकर इस बाधा को तोड़ना चाहेगा।

फुटबॉल विश्व कप का यह 21वां संस्करण है। 1930 से शुरू हुए इस टूर्नामेंट को अब तक 8 अलग-अलग चैम्पियन मिल चुके हैं। सबसे ज्यादा 5 बार इसे ब्राजील ने जीता है। हालांकि, इस बार अभी प्री-क्वार्टर फाइनल स्टेज के मुकाबले चल ही रहे हैं, लेकिन पिछले 3 चैम्पियन (जर्मनी, अर्जेंटीना और स्पेन) दौड़ से बाहर हो चुके हैं। 2006 की चैम्पियन इटली इस बार क्वालिफाई ही नहीं कर सकी। यानी अन्य टीमों के अलावा सिर्फ 4 पूर्व चैम्पियन (ब्राजील, फ्रांस, इंग्लैंड और उरुग्वे) ही इस विश्व कप को जीतने की दौड़ में बचे हैं।

2 जुलाई को होने वाले मुकाबले

मुकाबला जगह शुरुआत का भारतीय समय
ब्राजील v/s मैक्सिको समारा एरिना शाम 7:30 बजे
बेल्जियम v/s जापान रोस्तोव एरिना रात 11:30 बजे

मैक्सिको के मुकाबले ब्राजील ने दोगुने से ज्यादा मैच जीते: ब्राजील पहले दौर में ग्रुप-ई में था। उसने ग्रुप स्टेज के 3 में से 2 मुकाबले जीते, एक ड्रॉ कराया। मैक्सिको ग्रुप-एफ में दूसरे स्थान पर रहा था। उसने 2 मैच जीते, एक हारा। ब्राजील और मैक्सिको 41वीं बार आमने-सामने हैं। इससे पहले हुए 40 मैच में ब्राजील 23, जबकि मैक्सिको सिर्फ 10 जीतने में सफल रहा। विश्व कप में दोनों एक दूसरे के खिलाफ 4 मैच खेल चुके हैं। इनमें से ब्राजील ने 3 जीते और एक ड्रॉ कराया। मैक्सिको एक भी मैच नहीं जीत सका। यहां तक कि वह विश्व कप में ब्राजील के खिलाफ एक गोल तक नहीं कर सका। ब्राजील 1990 में आखिरी 8 में पहुंचने में सफल नहीं हो पाया था। हालांकि, उसके बाद से वह हर बार क्वार्टर फाइनल में जरूर पहुंचा है।

जापान का रिकॉर्ड बेहतर, लेकिन पलड़ा बेल्जियम का भारी: ग्रुप-जी से क्वालिफाई करके अगले दौर में पहुंची बेल्जियम इस विश्व कप में अब तक अपराजेय है। उसने ग्रुप स्टेज के अपने तीनों मैच जीते हैं। ग्रुप-एच में जापान सिर्फ एक मैच जीतने के बावजूद फेयरप्ले नियम के तहत आखिरी 16 में जगह बनाने में सफल रहा था। ओवरऑल मुकाबलों की बात करें तो जापान के मुकाबले बेल्जियम का रिकॉर्ड कमजोर है। दोनों के बीच अब तक 5 मुकाबले हुए हैं, उनमें से जापान ने 2 और बेल्जियम ने 1 जीता है। दो मैच ड्रॉ रहे हैं। इसके बावजूद इस विश्व कप में बेल्जियम का पलड़ा भारी माना जा रहा है। बेल्जियम ने इस विश्व कप में ग्रुप स्टेज में 9 गोल किए थे, जो किसी भी दूसरी टीम से ज्यादा हैं। आखिरी बार दोनों टीमें नवंबर 2017 में आमने-सामने हुईं थी। रोमेलु लुकाकू के गोल की बदौलत बेल्जियम वह मुकाबला 1-0 से जीतने में सफल रहा था। पिछले 7 विश्व कप में से बेल्जियम छठी बार नॉकआउट दौर में पहुंचा है। हालांकि, वह अब तक सिर्फ दो बार 1986 और 2014 में ही क्वार्टर फाइनल तक पहुंच सका है।