--Advertisement--

विश्व कपः 12 साल बाद किसी टूर्नामेंट के पहले मैच में जीता इंग्लैंड, ट्यूनीशिया को 2-1 से हराया

इंग्लैंड के किसी खिलाड़ी ने विश्व कप के इतिहास में पहली बार (90+1)वें मिनट में गोल किया।

Danik Bhaskar | Jun 19, 2018, 05:29 AM IST
मैच के आखिरी क्षणों में इंग्लैंड के लिए गोल करते टीम के कप्तान हैरी केन। मैच के आखिरी क्षणों में इंग्लैंड के लिए गोल करते टीम के कप्तान हैरी केन।

  • इंग्लैंड ग्रुप जी में 3 अंक के साथ दूसरे और बेल्जियम एक पर है
  • इस विश्व कप में अब तक 14 मैच हुए, इनमें 8 पेनल्टी दी गईं, 6 गोल में बदलीं
  • विश्व कप इतिहास में इंग्लैंड के खिलाफ 5 पेनल्टी दी गईं, सभी गोल में बदलीं
  • इंग्लैंड के हैरी केन ने एक ही मैच में 2 गोलकीपर के खिलाफ गोल मारे, ऐसा करने वाले वे दूसरे खिलाड़ी
  • 2010 विश्व कप में उरुग्वे के डिएगो फोरलैन ने दो गोलकीपर (दक्षिण अफ्रीका) के खिलाफ गोल मारे थे
  • इंग्लैंड ने विश्व कप के पिछले 10 मुकाबलों में पहली बार 1 से ज्यादा गोल किया
  • इससे पहले इंग्लैंड ने 2006 में स्वीडन ने खिलाफ 2-2 से ड्रॉ खेला था

वोल्गोग्राद. विश्व कप में ग्रुप जी के दूसरे मैच में सोमवार रात इंग्लैंड ने ट्यूनीशिया को 2-1 से हरा दिया। इंग्लैंड ने 2006 के बाद पहली बार किसी बड़े टूर्नामेंट का अपना शुरुआती मैच जीता। टीम के लिए कप्तान हैरी केन ने दोनों (11वें और (90+1)वें मिनट) गोल किए। ट्यूनीशिया के लिए एकमात्र गोल फेर्जानी सासी ने 35वें मिनट में पेनल्टी के जरिए किया। 2018 विश्व कप में यह किसी अफ्रीकी देश के खिलाड़ी का पहला गोल है। ट्यूनीशिया विश्व कप में 40 साल से एक भी मैच नहीं जीता है। 1978 में उसने मैक्सिको को 3-1 से हराया था।

लाइनकर के बाद हैरी केन ने किए 2 गोल

- हैरी केन इंग्लैंड के पहले ऐसे खिलाड़ी बने, जिन्होंने 28 साल बाद विश्व कप के किसी मैच में अपनी टीम के लिए एक से अधिक गोल किए। उनसे पहले गैरी लाइनकर ने 1990 विश्व कप में कैमरून के खिलाफ मैच में एक से अधिक गोल किए थे।

पहला गोलः 10वें मिनट के आखिर में इंग्लैंड को कॉर्नर किक मिली। एशले यंग ने बिल्कुल सीधे क्रॉस से गेंद को गोलपोस्ट के सामने पहुंचाया।इसे जॉन स्टोन ने हेडर से अंदर डालने की कोशिश की। ट्यूनीशिया के गोलकीपर मौज हसन ने उस शॉट को रोक लिया, हालांकि, जैसे ही गेंद उनके हाथ से छूटी हैरी केन ने 11वें मिनट में उसे गोलपोस्ट के अंदर डाल दिया।

दूसरा गोलः इंग्लैंड के डिफेंडर केली वॉकर ने फखरेद्दीन बेन यूसुफ को पेनल्टी एरिया में हाथ मारकर गिरा दिया। इसके चलते ट्यूनीशिया को पेनल्टी मिली। 35वें मिनट में फेर्जानी सासी ने पेनल्टी को गोल में बदल दिया।

तीसरा गोल: मैच में जैसे ही एक्सट्रा 4 मिनट का ऐलान किया गया, इंग्लैंड की टीम ने तेज हमले शुरू किए। 90+1 मिनट में ट्रिपी के कॉर्नर पर मैग्वायर ने हेडर से गेंद को रोका और हैरी केन ने ट्यूनीशियाई डिफेंडरों की गैरमौजूदगी का फायदा उठाते हुए गेंद को गोलपोस्ट में डाल दिया।

यलो कार्डः 33वें मिनट में इंग्लैंड के काइल वॉकर को रेफरी ने यलो कार्ड दिखाया।

पास एक्यूरेसी में इंग्लैंड 10% आगे

टीम गोल का प्रयास कॉर्नर बॉल पजेशन पास पास एक्यूरेसी यलो कार्ड फाउल
ट्यूनीशिया 6 2 41% 323 81% 0 14
इंग्लैंड 17 7 59%

491

91%

1 8

मुस्तफा विश्व कप इतिहास के दूसरे कम समम में सबस्टीट्यूट गोलकीपर

- इससे पहले 16वें मिनट में ट्यूनीशिया के गोलकीपर मौज हसन एक शॉट को रोकने की कोशिश में घायल हो गए। उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। उनकी जगह बेन मुस्तफा ने ली।

- मुस्तफा विश्व कप इतिहास में किसी मैच के दौरान सबसे कम समय में सबस्टीट्यूट गोलकीपर बने। उनसे पहले 1990 में तत्कालीन सोवियत संघ में हुए विश्व कप के मैच के 11वें मिनट में अर्जेंटीना के नेरी पमपिदो सबस्टीट्यूट गोलकीपर बने थे।

- इंग्लैंड इस विश्व कप की तीसरी सबसे युवा टीम है। साथ ही वह ही ऐसी टीम है, जिसके सभी खिलाड़ी अपने देश के क्लब यानी इंग्लिश प्रीमियर लीग से जुड़े हैं।

टीमेंः

ट्यूनीशिया (शुरुआती एकादश): ट्यूनीशिया की शुरुआती लाइनअप - मौज हसन, यासीन मरिया, सैम बेन यूसुफ, डायलन ब्रॉन, अली मालौल, इलियास स्खिरी, ऐनिस बदरी, फेर्जानी सासी, फखरेद्दीन बेन यूसुफ, वबीबी खजरी, नैम स्लिटी।

इंग्लैंड (शुरुआती एकादश): जॉर्डन पिकफोर्ड, केली वॉकर, जॉन स्टोंस, हैरी मैगुइरे, ट्रिपपीयर, जेसी लिंगार्ड, जॉर्डन हैंडरसन, डेल एली, एशले यंग, रहीम स्टर्लिंग, हैरी केन।

18 जून को हुए अन्य मैच के नतीजे

- ग्रुप जी में बेल्जियम ने पनामा को 3-0 से हराया।

- ग्रुप एफ में स्वीडन ने दक्षिण कोरिया को 1-0 से हराया।

19 जून को होने वाले मुकाबले

मुकाबला ग्रुप वेन्यू शुरुआत का भारतीय समय
कोलंबिया v/s जापान एच मोरदोविया एरिना शाम 5:30 बजे
पोलैंड v/s सेनेगल एच स्पार्टक स्टेडियम शाम 8:30 बजे
मिस्र v/s रूस सेंट पीटर्सबर्ग स्टेडियम रात 11:30 बजे
इंग्लैंड के लिए गोल करने के बाद जश्न मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन। इंग्लैंड के लिए गोल करने के बाद जश्न मनाते इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन।
सिर के ऊपर से किक लगाकर गेंद को गोलपोस्ट के अंदर पहुंचाने की कोशिश करते इंग्लैंड के रहीम स्टर्लिंग। सिर के ऊपर से किक लगाकर गेंद को गोलपोस्ट के अंदर पहुंचाने की कोशिश करते इंग्लैंड के रहीम स्टर्लिंग।
मैच के 13वें मिनट में ट्यूनीशिया के गोलकीपर हसन को चोट लग गई, जिसके बाद उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। मैच के 13वें मिनट में ट्यूनीशिया के गोलकीपर हसन को चोट लग गई, जिसके बाद उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा।
अपनी टीम की हौसलाअफजाई करने रूस पहुंचे इंग्लैंड टीम के समर्थक। अपनी टीम की हौसलाअफजाई करने रूस पहुंचे इंग्लैंड टीम के समर्थक।