--Advertisement--

टॉप बल्लेबाज-गेंदबाज के बावजूद दिल्ली प्लेऑफ से बाहर, लगातार छठे साल आखिरी 4 में नहीं पहुंची

इस बार भी चोकर्स का दाग नहीं मिटा पाई रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, पिछले 7 साल में सिर्फ दो बार प्लेऑफ में पहुंची है।

Dainik Bhaskar

May 21, 2018, 04:04 PM IST
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years

  • डेयरडेविल्स के रिषभ पंत सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में टॉप पर हैं
  • ट्रेंट बोल्ट सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में तीसरे नंबर पर हैं


नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लीग मुकाबले खत्म हो गए हैं। अब मंगलवार से प्लेऑफ मैच होंगे। सनराइजर्स हैदराबाद, चेन्नई सुपरकिंग्स, कोलकाता नाइटराइडर्स और राजस्थान रॉयल्स आखिरी चार में जगह बनाने में सफल हुए हैं। तीन बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस इस बार प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई। लीग के 55वें मुकाबले में दिल्ली डेयरडेविल्स ने उसे 11 रन से हराकर उसका फिर से चैम्पियन बनने का सपना चकनाचूर कर दिया। हालांकि, इस जीत से दिल्ली को सिर्फ 2 अंकों का इजाफा होने के अलावा कोई लाभ नहीं मिला। आईपीएल में लगातार छठी बार ऐसा हुआ है, जब दिल्ली प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई है। यह तब है जब उसके खिलाड़ियों का निजी प्रदर्शन बेहद शानदार रहा। रिषभ पंत इस सीजन के टॉप स्कोरर रहे। गेंदबाजों में ट्रेंट बोल्ट नंबर 3 पर हैं। बता दें कि पिछले 6 साल में उसका कोई भी बल्लेबाज टॉप-7 और कोई भी गेंदबाज टॉप-10 में जगह नहीं बना सका था।

6 टीमों से औसतन ज्यादा रन बनाए, फिर भी प्लेऑफ दूर की कौड़ी ही साबित हुई
- दिल्ली ने इस सीजन में 14 मैच में 258 ओवर में 2,297 रन बनाए। यानी प्रति ओवर औसतन 8.9031 रन। उसका यह आंकड़ा टूर्नामेंट की 6 टीमों से बेहतर है।
- चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइटराइडर्स को छोड़कर उसने हर टीम से औसतन ज्यादा रन बनाए हैं, इसके बावजूद वह प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी।
- दिल्ली ने प्लेऑफ में पहुंची राजस्थान रॉयल्स (8.3431 रन), टॉप पर रही सनराइजर्स हैदराबाद (8.1595 रन) के अलावा मुंबई इंडियंस (8.5488 रन), रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (8.7821 रन) और किंग्स इलेवन पंजाब (8.2339 रन) से औसतन ज्यादा रन बनाए।

रिषभ ने बनाए 684 रन, एक सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले विकेटकीपर

- ऐसा नहीं था कि दिल्ली के पास अच्छे खिलाड़ियों की कमी थी। बल्लेबाजी की बात करें तो दिल्ली के रिषभ पंत ने लीग मुकाबलों में सबसे ज्यादा 684 रन बनाए।

- रिषभ आईपीएल के किसी एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले यह रिकॉर्ड रॉबिन उथप्पा के नाम था। उन्होंने आईपीएल-2014 में 660 रन बनाए थे।

- टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा स्कोर बनाने का रिकॉर्ड भी रिषभ पंत के नाम है। शतकवीर रिषभ का इस सीजन में सर्वाधिक स्कोर 128* रन है, जो उन्होंने दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ लगाया था।
- रिषभ आईपीएल और टी-20 क्रिकेट में एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं।

सबसे ज्यादा छक्के-चौके लगाए लेकिन टीम को प्लेऑफ में नहीं पहुंचा पाए

- टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी रिषभ के नाम है। उन्होंने इस सीजन में 14 मैच में 37 छक्के लगाए हैं।
- वे एक सीजन में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वालों में दूसरे नंबर पर हैं। उनसे ज्यादा 38 छक्के रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली ने लगाए हैं।
- आईपीएल-11 में सबसे ज्यादा चौके मारने का रिकॉर्ड भी रिषभ के नाम है। उन्होंने इस सीजन में 68 चौके लगाए। एक पारी में सर्वाधिक 15 चौके लगाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है।

श्रेयस ने 8 में से 4 मैच जीते, लेकिन आखिरी 4 में पहुंचने का सपना अधूरा
- दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर का भी इस सीजन में प्रदर्शन शानदार रहा है। श्रेयस ने 14 मैच में 37.37 की औसत से 411 रन बनाए। उन्हें कप्तान बनाए

जाने के बाद से दिल्ली ने 8 में से 4 मैच में जीत हासिल की। उसके पहले गौतम गंभीर की कप्तानी में दिल्ली 6 में से 5 मैच हार गई थी।
- इसके अलावा पृथ्वी शॉ ने भी जिस आत्मविश्वास से बल्लेबाजी की वह काबिलेतारीफ है। उन्हें 9 मैच में खेलने का मौका मिला। उन्होंने 27.22 की औसत से 245 रन बनाए।
- इतना सब होने के बावजूद दिल्ली ने इस सीजन में 258 ओवर बल्लेबाजी की और 2297 रन बनाए। वहीं 252.3 ओवर गेंदबाजी की और 2,304 रन दिए, यानी नेटरनरेट में

भी वह पिछड़ गई। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट का औसत 150 से ऊपर रहा।

टूर्नामेंट का तीसरे नंबर का गेंदबाज दिल्ली का, लेकिन प्लेऑफ की राह नहीं बनी
- गेंदबाजी की बात करें तो दिल्ली के ट्रेंट बोल्ट ने 14 मैच में 8.84 की औसत से 18 विकेट लिए हैं। सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में वे तीसरे नंबर पर हैं।
- सिर्फ 3 मैच खेलने वाले संदीप लमिछने ने भी अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया। वे विपक्षी टीम के 5 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजने में सफल रहे।
- अमित मिश्रा ने 10 मैच में 37 ओवर गेंदबाजी कर 7.13 की औसत से 12 विकेट चटकाए। हर्षल पटेल ने 5 मैच में 9.54 की औसत से 5 विकेट लिए।
- हालांकि दिल्ली की टीम 14 में से सिर्फ एक बार (अपने आखिरी लीग मैच में) विपक्षी टीम के सभी खिलाड़ियों को पवेलियन भेज सकी। उसके गेंदबाज कुल 80 विकेट ही ले पाए।
- उसके खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखकर तो यही लगता है कि यदि 7 मैच में भी सबने समग्र प्रयास किया होता तो टीम की प्लेऑफ में जगह पक्की थी।

आईपीएल-2018 में दिल्ली डेयरडेविल्स का प्रदर्शन

मैच खिलाफ परिणाम
पहला किंग्स इलेवन पंजाब 6 विकेट से हार
दूसरा राजस्थान रॉयल्स 10 रन से हार
तीसरा मुंबई इंडियंस 7 विकेट से जीत
चौथा कोलकाता नाइटराइडर्स 71 रन से हार
पांचवां रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु 6 विकेट से हार
छठा किंग्स इलेवन पंजाब 4 रन से हार
सातवां कोलकाता नाइटराइडर्स 55 रन से जीत
आठवां चेन्नई सुपरकिंग्स 13 रन से हार
नौवां राजस्थान रॉयल्स 4 रन से जीत
10वां सनराइजर्स हैदराबाद 7 विकेट से हार
11वां सनराइजर्स हैदराबाद 9 विकेट से हार
12वां रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु 5 विकेट से हार
13वां चेन्नई सुपरकिंग्स 34 रन से जीत
14वां मुंबई इंडियंस 11 रन से जीत

सबसे ज्यादा रन और अनुभवी कप्तान, फिर चोकर्स ही रही आरसीबी

- पिछले 10 टूर्नामेंट में 3 बार फाइनल खेलने वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) इस बार प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी। वह 14 मैच में 6 जीत और 8 हार के साथ छठे स्थान पर रही। यानी आरसीबी खुद पर लगा आईपीएल चोकर्स होने का दाग इस सीजन में भी नहीं धो पाई।
- आरसीबी ने विराट कोहली की कप्तानी में 90 मैच में से 43 जीते और 42 हारे हैं। दो टाई रहे और 3 का फैसला नहीं हो सका।
- विराट कोहली आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 163 मैच की 155 पारियों में 4 शतक लगाते हुए 4948 रन बनाए हैं।
- आरसीबी के पास डिविलियर्स भी थे, जिन्होंने 141 मैच की 129 पारियों में 3 बार शतक लगाते हुए 3953 रन बनाए हैं। डिविलियर्स 2011 में आरसीबी का हिस्सा बने, लेकिन 8 सीजन बाद भी टीम चैम्पियन बनने का सिर्फ ख्वाब ही देख पाई है।

प्लेऑफ मुकाबले

22 मईः सनराइजर्स Vs चेन्नई सुपरकिंग्स
23 मईः कोलकाता नाइटराइडर्स Vs राजस्थान रॉयल्स

IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
X
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
IPL 2011: Delhi Daredevils not able to make it to playoffs in consecutive six Years
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..