सेल्फ हेल्प

--Advertisement--

रांची : पुलिस मुख्यालय ने निकाली वैकेंसी, लास्ट डेट 31 जुलाई

बाहरी राज्यों के कैंडिडेट्स भी कर सकते हैं आवेदन।

Danik Bhaskar

Jul 23, 2018, 06:53 PM IST

एजुकेशन डेस्क। अब पुलिसवालों को पुलिस से जुड़े विषयों की पढ़ाई रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ही कराएंगे। इसके लिए पुलिस मुख्यालय ने रिटायर्ड अधिकारियों से आवेदन आमंत्रित किया है। झारखंड पुलिस के स्थायी, अस्थायी प्रशिक्षण इंस्टीटूट्स में संचालित होने वाले बुनियादी, प्रोन्नति व सेवाकालीन प्रशिक्षण कार्यक्रमों के दौरान पुलिस विषयों को पढ़ाने के लिए जानकार सेवानिवृत्त डीआईजी, एसपी, एएसपी, डीएसपी और इंस्पेक्टर आवेदन कर सकते हैं। सिलेक्शन संविदा के आधार पर होगी। प्रथम नियुक्ति एक साल के लिए होगी।

64 साल तक के कैंडिडेट्स कर सकते हैं आवेदन, 3 अगस्त को एडीजी लेंगे इंटरव्यू
- सेवा संतोषजनक पाए जाने पर अधिकतम तीन वर्षों का संविदा विस्तार भी मिल सकेगा। वेतन 25 हजार से 45 तक होगा।
- इसके अतिरिक्त सेवानिवृत्ति के दौरान जो-जो सुविधाएं मिलती थीं, वे सभी बहाल होने वाले सेवानिवृत्त अधिकारियों को मिलेंगी।
- कैंडिडेट्स की अधिकतम उम्र 64 साल निर्धारित की गई है। 31 जुलाई तक पुलिस महानिरीक्षक (प्रशिक्षण) के कार्यालय में डाक द्वाराया हाथों-हाथ आवेदन दिया जा सकता है।
- 3 अगस्त को एडीजी ट्रेनिंग इंटरव्यू लेंगे। उसी आधार परसिलेक्शन ली जाएगी।


छठा वेतनमान मिलेगा, सरकारी गाड़ी व आवास नहीं मिले तो मिलेंगे भत्ते
- छठे वेतनमान के अनुसार संविदा राशि का भुगतान होगा। तीन श्रेणियों में वेतन मिलेगा। ये श्रेणियां हैं-25, 35 और 45 हजार। संविदा पर नियुक्ति होने के बाद रिटायरमेंट के दौरान जो सुविधाए मिलती थीं, वे भी मिलेंगी।
- अगर सरकारी आवास नहीं मिला तो सेवानिवृत्ति के समय प्राप्त वेतन के आलोक में अनुमान्य आवास भत्ता का 75 प्रतिशत मिलेगा।
- सरकारी गाड़ी नहीं मिल सकी तो सेवानिवृत्ति के समय धारित ग्रेड वेतन के अनुसार महंगाई भत्ते के साथ परिवहन भत्ता भी मिलेगा।
- झारखंड के रिटायर्ड अधिकारियों को प्राथमिकता, बाहरी भी कर सकेंगे आवेदन :झारखंड राज्य से सेवानिवृत्त अफसरों को नियुक्ति में प्राथमिकता मिलेगी। बाहरी राज्यों के कैंडिडेट्स भी आवेदन कर सकते हैं।
- शर्त सिर्फ इतनी रखी गई है कि कैंडिडेट्स पुलिस विषयों के जानकार हो। आवेदन में कहा गया है कि वे जिस पुलिस विषय के जानकार हैं, उनका उल्लेख करेंगे।
- वहीं पुलिस प्रशिक्षण इंस्टीटूट्स में अनुदेशक का कार्य कर चुके पदाधिकारियों को भी प्राथमिकता सूची में रखा जाएगा।

राज्य सरकार के कर्मियों के अनुरूप मिलेगा अवकाश
- संविदा कर्मियों को राज्य सरकार के कर्मियों के अनुरूप आकस्मिक अवकाश मिल सकेगा।
- उनकी सेवानिवृत्ति के समय प्राप्त ग्रेड वेतन के अनुसार यात्रा भत्ते भी मिलेंगे।
- वे बीच में भी सेवा छोड़ सकते हैं, परंतु इसके लिए उन्हें एक महीने पहले अग्रिम जानकारी देनी होगी।

Click to listen..