--Advertisement--

आईपीएल-11 के अब तक के 22 मुकाबलों में गेंदबाजों का रहा दबदबा, 267 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा

अब तक 22 मुकाबलों में 13 में टॉस जीतने वाली टीम विजयी रही है।

Dainik Bhaskar

Apr 24, 2018, 03:17 PM IST
IPL-11: In 22 Matches, Bowlers Dominated, 267 Batsmen were sent to pavilion

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में अब तक 22 मुकाबले हो चुके हैं। इनमें से 13 में उन टीमों को जीत मिली है, जिनके कप्तान ने टॉस जीता। इतनी ही बार लक्ष्य का पीछा कर टीमों ने मैच में जीत हासिल की है। हालांकि, आईपीएल को बल्लेबाजों का टूर्नामेंट कहा जाता है, लेकिन इस सीजन में अब तक गेंदबाजों का दबदबा दिखा है। टूर्नामेंट की 8 टीमों के गेंदबाजों ने अब तक 22 मैच में 267 विकेट लिए हैं। पिछली बार 60 मुकाबलों में 650 विकेट ही गिरे थे। इस बार गेंदबाज जिस औसत से विकेट ले रहे हैं, उस हिसाब से 60 मैच में वे 728 विकेट ले सकते हैं।

गेंदबाजों के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब टॉप पर

- इस समय अंक तालिका में टॉप 4 में किंग्स इलेवन पंजाब, चेन्नई सुपरकिंग्स, कोलकाता नाइटराइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद हैं।
- किंग्स इलेवन पंजाब ने 6 में से 5 मैच जीते हैं। इनमें 3 मुकाबले उसने बाद में गेंदबाजी करते हुए जीते। यानी उसके गेंदबाजों ने विपक्षी टीम को लक्ष्य हासिल नहीं करने दिया। उसके गेंदबाजों ने 23 अप्रैल को फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में दिल्ली को 144 रन का टारगेट चेज नहीं करने दिया।
- कोलकाता नाइटराइडर्स ने 6 में से 3 मैच जीते हैं। 3 में से 2 जीते उसे पहले बल्लेबाजी करने वाले मैच में मिली। उसके गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन किया।
- सनराइजर्स हैदराबाद ने 5 में से 3 मैच जीते हैं। 5 में से 3 मैच लो स्कोरिंग रहे। सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजों ने एक मैच में राजस्थान रॉयल्स को 125, मुंबई इंडियंस को 147 और कोलकाता नाइटराइडर्स को 138 रन ही बनाने दिए।

इस सीजन में अब तक बने 7,366 रन
- आईपीएल-11 में दो बल्लेबाजों क्रिस गेल और शेन वाटसन ने शतक लगाए हैं। वहीं, टूर्नामेंट में अब तक 35 फिफ्टी लगी हैं। 2017 में 6 शतक और 95 फिफ्टी लगाए गए थे। इस सीजन में अब तक बल्लेबाजों ने 7,366 रन बनाए हैं। इनमें 4,380 रन बाउंड्री से बने हैं, जबकि 312 छक्के लगे हैं। पिछले सीजन में बल्लेबाजों ने 17,885 रन बनाए थे।
- इस टूर्नामेंट के 10 मैच में टीमों को 170 से कम का टारगेट मिला। वहीं, 44 में से 20 पारियों में ही टीमें 170 से अधिक रन बना सकीं।

मुंबई ने सिर्फ 20 लाख में खरीदा था मयंक को, 5 मैच में लिए 8 विकेट

- आईपीएल युवा खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दर्शाने का उत्कृष्ट मंच प्रदान करता है। हर साल इस टूर्नामेंट में कई ऐसे क्रिकेटर सामने आते हैं, जिनकी क्षमता का पहले किसी को बहुत पता नहीं होता है। इस बार मयंक मार्कंडे ने अपने प्रदर्शन से सबको चौंकाया है।
- आईपीएल-2018 की नीलामी में मुंबई इंडियंस ने मयंक को महज 20 लाख रुपये में खरीदा था। तब शायद टीम मैनेजमेंट को उम्मीद नहीं होगी कि वे पहले ही मैच में 3 विकेट झटक लेंगे। इनमें से एक विकेट चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का भी था।
- मयंक ने आईपीएल के 5 मैच में 7.52 की औसत से 8 विकेट लिए हैं। पर्पल कैप के दावेदारों में उनसे ऊपर एंड्रयू टाय (9 विकेट), ट्रेंट बोल्ट (9 विकेट) और सुनील नरेन (8 विकेट) ही हैं। हालांकि तीनों ने 6-6 मैच खेले हैं।
- मयंक ने आईपीएल में अपने डेब्यू मैच में 23 रन पर 3 विकेट लिए थे। डेब्यू में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ श्रीलंका के लसिथ मलिंगा का ही है। मलिंगा ने 2008 में 15 रन देकर 3 विकेट लिए थे। खास यह है कि तब मलिंगा भी मुंबई इंडियंस की ओर से खेले थे।

पेसर के रूप में शुरू किया था मयंक ने कॅरियर
- मयंक पहली बार चयनकर्ताओं की नजर में तब आए थे, जब विजय हजारे ट्रॉफी में खेलते हुए उन्होंने पंजाब की ओर से सर्वाधिक विकेट लिए।
- मयंक की गुगली में आज भले ही धोनी जैसे धुरंधर बल्लेबाज फंस रहे हों, लेकिन इस गेंदबाज ने अपने कॅरियर की शुरुआत एक पेसर के रूप में की थी।
- हालांकि वे धीमी गति से भी बहुत बढ़िया गेंदबाजी कर लेते थे। साथ ही गुगली फेंकने में सफल रहते थे। यह सब देखते हुए उनके कोच ने मयंक को लेग स्पिन पर ध्यान केंद्रित करने को कहा।
- मयंक 2016 में भारत की अंडर-19 टीम का भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। आज मयंक का नाम राशिद खान, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल जैसे स्पिनरों की फेहरिस्त में जोड़ा जा रहा है।

किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली डेयरडेविल्स को उसके घरेलू मैदान पर 144 रन का टारगेट चेज नहीं करने दिया। - फाइल किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली डेयरडेविल्स को उसके घरेलू मैदान पर 144 रन का टारगेट चेज नहीं करने दिया। - फाइल
मयंक मार्कंडे ने अपने डेब्यू मैच में 23 रन देकर 3 विकेट लिए। डेब्यू में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ लसिथ मलिंगा का ही है। - फाइल मयंक मार्कंडे ने अपने डेब्यू मैच में 23 रन देकर 3 विकेट लिए। डेब्यू में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ लसिथ मलिंगा का ही है। - फाइल
X
IPL-11: In 22 Matches, Bowlers Dominated, 267 Batsmen were sent to pavilion
किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली डेयरडेविल्स को उसके घरेलू मैदान पर 144 रन का टारगेट चेज नहीं करने दिया। - फाइलकिंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली डेयरडेविल्स को उसके घरेलू मैदान पर 144 रन का टारगेट चेज नहीं करने दिया। - फाइल
मयंक मार्कंडे ने अपने डेब्यू मैच में 23 रन देकर 3 विकेट लिए। डेब्यू में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ लसिथ मलिंगा का ही है। - फाइलमयंक मार्कंडे ने अपने डेब्यू मैच में 23 रन देकर 3 विकेट लिए। डेब्यू में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ लसिथ मलिंगा का ही है। - फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..