Hindi News »Business» IT Dept Have To Add 1 25 Crore New Tax Filer This Year

आयकर विभाग को इस साल 1.25 करोड़ नए टैक्स फाइलर जोड़ने का लक्ष्य, सीबीडीटी ने दिया टार्गेट

2017-18 में 1.06 करोड़ नए लोगों ने रिटर्न फाइल किया

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 23, 2018, 10:06 AM IST

आयकर विभाग को इस साल 1.25 करोड़ नए टैक्स फाइलर जोड़ने का लक्ष्य, सीबीडीटी ने दिया टार्गेट

- डेटा एनालिटिक्स के इस्तेमाल से संभावित करदाताओं की पहचान आसान

- टियर-2 और टियर-3 शहरों में जागरुकता अभियान चलाया जाएगा

नई दिल्ली. इनकम टैक्स की नीतियां तय करने वाली बॉडी सीबीडीटी ने आयकर अधिकारियों को कम से कम 1.25 करोड़ नए टैक्स-फाइलर (रिटर्न फाइल करने वाला) जोड़ने का लक्ष्य दिया है। सीबीडीटी ने 2018-19 के लिए अधिकारियों को भेजे सेंट्रल एक्शन प्लान में कहा है कि इकोनॉमी तेजी से आगे बढ़ रही है। संगठित और असंगठित दोनों क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों में तेजी से टैक्स बेस बढ़ने की गुंजाइश है। सेंट्रल एक्शन प्लान आयकर विभाग के लिए सालाना विजन डॉक्यूमेंट की तरह होता है। 2017-18 में 1.06 करोड़ नए टैक्स-फाइलर जुड़े थे।
डेटा माइनिंग और डेटा एनालिटिक्स के बाद संभावित करदाताओं की पहचान आसान हुई है। फील्ड अफसर इस डेटा का इस्तेमाल करें। ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए लोकल इंटेलिजेंस और बाजार-ट्रेड संगठनों और प्रोफेशनल बॉडीज के इनपुट पर भी गौर करने को कहा है। टियर 2-3 शहरों में जागरूकता अभियान चलाने का भी निर्देश दिया गया है।
टैक्स फाइलर का टैक्स पेयर होना जरूरी नहीं : जरूरी नहीं कि टैक्स फाइलर टैक्स पेयर भी हो। नियमों के मुताबिक छूट हासिल करने के बाद उसकी टैक्स लायबिलिटी शून्य हो सकती है। लेकिन आयकर विभाग के डेटाबेस में नाम आने के बाद किसी व्यक्ति द्वारा आय छिपाने की गुंजाइश कम रह जाती है।

सबसे ज्यादा लक्ष्य इन 5 क्षेत्रों को मिला

क्षेत्रटैक्स फाइलर जोड़ने का टार्गेट
उत्तर पश्चिम11,48,489
पुणे11,33,950
आंध्र-तेलंगाना10,40,218
तमिलनाडु10,36,645
गुजरात9,88,101
कर्नाटक, गोवा7,95,626

50 करोड़ से ज्यादा मामले दिसंबर तक निपटाने का निर्देश : सीबीडीटी ने अधिकारियों से 50 करोड़ से ज्यादा टैक्स डिमांड वाले मामले दिसंबर 2018 तक निपटाने को कहा है। अप्रैल 2018 को इनकम टैक्स अपील कमिश्नर के पास कुल 6.38 लाख करोड के मामले थे। इनमें से 87,035 करोड़ की टैक्स डिमांड पर इनकम टैक्स अपीलेट ट्रिब्यूनल, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा रखी है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Business

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×