Hindi News »Self-Help »Offbeat» JEE Main Exam 2018 Cut Off

JEE Main 2018 : इस बार कितना रह सकता है कट ऑफ? एक्सपर्ट से जानिए

15 हजार तक की रैंक हासिल करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से टॉप NIT मिल जानी चाहिए।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 11, 2018, 12:22 PM IST

JEE Main 2018 : इस बार कितना रह सकता है कट ऑफ? एक्सपर्ट से जानिए

एजुकेशन डेस्क। JEE Main का कटऑफ इस बार 75 से 80 के बीच रह सकता है। ऐसे में 15 हजार तक की रैंक हासिल करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से टॉप एनआईटी (NIT) मिल जानी चाहिए।

रविवार 8 अप्रैल को देशभर में JEE Main का ऑफलाइन एग्जाम हुआ था। उसमें आए सवालों के आधार पर एक्सपर्ट ने यह अनुमान लगाया है कि इस बार जेईई मेन का कटऑफ 75 से 80 तक हो सकता है। सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार का भी यही मानना है। गौरतलब है कि 2017 में जनरल की कटऑफ 81, ओबीसी की 49, एससी की 32 और एसटी की 27 थी।

अब 15 व 16 अप्रैल को जेईई मेन का ऑनलाइन एग्जाम होगा। इसके बाद 24 से 27 अप्रैल तक स्टूडेंट्स के रिस्पॉन्स और आंसर Key जारी की जाएगी। किसी जवाब पर शक होने पर स्टूडेंट्स एक हजार रुपए जमा करके अपनी आपत्ति दर्ज करा सकेंगे।


एक्सपर्ट एनालिसिस :
जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट अभिषेक पाण्डेय और शैलेन्द्र रावत से हमने पेपर का एनालिसिस करवाया। एक्सपर्ट एनालिसिस इस तरह रहा :


- एक्सपर्ट एनालिसिस के मुताबिक, 168 अंक के सवाल आसान थे।
- 160 अंक के मध्यम व 32 अंक के सवाल मुश्किल थे।
- यानी, आसान सवालों को हल करके भी स्टूडेंट्स एडवांस दे सकेंगे।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?
जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट अभिषेक पाण्डेय कहते हैं कि इस बार मेन्स में 50% सवाल एनसीईआरटी से पूछे गए थे। इससे एवरेज स्टूडेंट्स भी अच्छा परफॉर्म कर पाएंगे।

इसी तरह जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट शैलेन्द्र रावत कहते हैं कि एडवांस में अपीयर होने वाले स्टूडेंट्स की संख्या चार साल में डेढ़ लाख से बढ़ाकर 2.24 लाख कर दी गई है। यही वजह है कि कटऑफ में भी गिरावट आ रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Offbeat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×