विज्ञापन

कन्फ्यूज रहना, रिश्तों में ब्रेकअप सहित 30 से कम की उम्र वालों के साथ होती है 5 समस्याएं, परफेक्ट पर्सनालिटी के लिए करने चाहिए मेडिटेशन के साथ 4 काम

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 06:25 PM IST

लाइफ स्टाइल और ग्रहों के कारण अक्सर 20 से 30 साल की उम्र के लोगों को इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

Astrological remedies for common problems of career and love
  • comment

रिलिजन डेस्क। 30 साल से कम के युवाओं के साथ कई तरह की समस्याएं होती हैं। ज्योतिष के अनुसार देखा जाए तो इस उम्र के लोगों में 5 कॉमन समस्याएं होती हैं। 1. कन्फ्यूजन होना, 2. व्यवहार में अस्थिरता होना, 3. काम पर फोकस ना रहना, 4. वाणी में प्रभाव नहीं होना और 5. रिश्ते बार-बार टूटना। ये पांचों समस्या ज्योतिष में बताई गई हैं। कुछ लाइफ स्टाइल के कारण और कुछ ग्रहों के हेरफेर के कारण अक्सर 20 से 30 साल की उम्र के लोगों को इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

ज्योतिष में इन समस्याओं के बहुत आसान उपाय दिए गए हैं। ज्योतिषाचार्य पं. एस.के. पाठक के अनुसार कुछ आसान तरीकों से युवा अपने जीवन की इन समस्याओं को मिटा सकते हैं। वास्तव में ये समस्याएं राहु, शनि, बुध. चंद्र के दोषों के कारण होती हैं। राहु कन्फ्यूजन देता है, शनि कई बार आलस देता है और चंद्रमा के कारण मन में विचलन, दिमाग में अस्थिरता रहती है और बुध कमजोर होने से वाणी में प्रभाव नहीं रहता है। ऐसे में आपकी बात को अक्सर कोई महत्व नहीं दिया जाता। ये सभी परेशानियां ऐसी हैं जिन्हें बहुत बड़ा नहीं कह सकते हैं लेकिन अक्सर इनके कारण युवा डिप्रेशन तक के शिकार हो जाते हैं। जो लोग ज्योतिष में ज्यादा विश्वास नहीं करते हैं वो भी चाहें तो इन समस्याओं का आसानी से समाधान कर सकते हैं।

ये 5 काम अपने डेली रुटीन में शामिल करें

1 . मेडिटेशन - रोज सुबह कम से कम 5 से 10 मिनट मेडिटेशन जरूर करना चाहिए। ऊँ शब्द का लंबा उच्चारण करते हुए मेडिटेशन करें। धीरे-धीरे इसे 20 मिनट तक ले जाएं। इससे आपको एकाग्रता और काम या पढ़ाई में फोकस करने की जो परेशानी आ रही है वो दूर होगी।

2 . सूर्य को जल चढ़ाएं - सूर्य आत्मा के कारक माने गए हैं। अगर नहाने के बाद आप सूर्य को एक तांबे के लोटे से जल चढ़ाते हैं, तो ये प्रयोग आपमें आत्मविश्वास बढ़ाएगा। सूर्य आत्मविश्वास बढ़ाता है।

3 . गणपति के दर्शन - स्कूल, कॉलेज या ऑफिस जाने से पहले कोशिश करें कि गणपति के दर्शन कर लें। घर में ही गणपति की एक मूर्ति या तस्वीर लगा लें, घर से निकलने के पहले दर्शन करें। गणपति के दर्शन से आपको बुध का शुभ प्रभाव मिलेगा, इससे आपकी वाणी में प्रभाव बढ़ेगा।

4 . सुबह या शाम को करें जॉगिंग - शनि को श्रम पसंद है। इंसान के पसीने में भी शनि का वास माना गया है। अगर आप सुबह या शाम को 15 से 20 मिनट जॉगिंग या कोई और एक्सरसाइज करके पसीना बहाते हैं तो शनि आपको शुभ फल देगा।

X
Astrological remedies for common problems of career and love
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें