पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • घोड़े के गोश्त के दम पर पदक की आस

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

घोड़े के गोश्त के दम पर पदक की आस

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

घोड़े का गोश्त कजाखस्तान के पारंपरिक भोजन में काफी पसंद किया जाता है

कजाखस्तान की ओलंपिक टीम लंदन ओलंपिक में अपनी सफलता की संभावनाएँ बढ़ाने के लिए घोड़े के गोश्त से बने सॉसेज या एक तरह के कबाब खासतौर पर ब्रिटेन ले जाना चाहती है.

मध्य एशियाई देश कजाखस्तान के खेल अधिकारियों का कहना है कि ये पारंपरिक खाना उनके एथलीटों का प्रदर्शन सुधारने में मदद करेगा.

मगर अभी तक ये स्पष्ट नहीं है कि उन्हें ये सॉसेज या कबाब ब्रिटेन में लाने की अनुमति मिलेगी या नहीं क्योंकि वहाँ किसी भी तरह के गोश्त के आयात से जुड़े कड़े नियम हैं.

कजाखस्तान के लंदन ओलंपिक में 114 एथलीट जाएँगे और दो हफ़्तों में ही ये खेल शुरू होने वाले हैं.

अलमाटी से बीबीसी के शोदियोर एशाएव का कहना है कि घोड़े का गोश्त पारंपरिक कजाख भोजन का अभिन्न अंग है और सुखाए हुए गोश्त से बने सॉसेज को वहाँ 'कैजी' कहा जाता है, जिसे लोग खासतौर पर काफी पसंद करते हैं.

टीम

कजाखस्तान की टीम में मुख्य तौर पर मुक्केबाज, पहलवान और भारोत्तोलक शामिल हैं. बीबीसी संवाददाताओं के अनुसार ये सभी खेल ऐसे हैं जिनमें प्रोटीन वाले भोजन की जरूरत ज्यादा होती है.

खेल अधिकारी एल्सियार कनागातोव ने कहा, "हम हर टीम के लिए घोड़े का गोश्त ले जाएँगे. और अगर एथलीटों को अच्छा खाना मिले तो वे उल्लेखनीय नतीजे हासिल कर सकते हैं."

तेल से भरे कजाखस्तान की पदकों को लेकर महत्वाकाँक्षा काफी है और उसने पदक जीतने पर एथलीटों को नकद इनाम देने की भी घोषणा की है. स्वर्ण जीतने पर दो लाख, रजत पर डेढ़ लाख और काँस्य पर 75 हजार डॉलर इनाम में दिए जाने हैं.

टीम ने 1996 से ओलंपिक में हिस्सा लिया है और तब से लेकर अब तक वे नौ स्वर्ण सहित कुल 39 पदक जीत चुके हैं.

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

और पढ़ें