1932 का खतियान लागू हुअा ताे रांची-धनबाद के 75% लाेग

News - 1932 का खतियान लागू हुअा ताे रांची-धनबाद के 75% लाेग हाे जाएंगे बाहरी, पूरा जमशेदपुर शहर टाटा का हाेगा उन्हाेंने ही...

Jan 16, 2020, 07:50 AM IST
1932 का खतियान लागू हुअा ताे रांची-धनबाद के 75% लाेग हाे जाएंगे बाहरी, पूरा जमशेदपुर शहर टाटा का हाेगा

उन्हाेंने ही यूपी अाैर बिहार से खदानाें में काम करने के लिए लाेगाें काे बुलाया, जाे यहां बसते चले गए। फिर 1952 में सिंदरी उर्वरक कारखाना शुरू हाेने के बाद यहां काम करने के लिए बाहरी लाेग अाए अाैर यहीं बस गए। शहरी क्षेत्राें में एेसे लाेगाें की संख्या अधिक है। जमशेदपुर में ताे पूरा शहर ही टाटा स्टील का हाे जाएगा। क्याेंकि 1932 में जमशेदपुर शहर की करीब 24 हजार बीघा जमीन का रैयतदार टाटा स्टील था। बिहार सरकार ने 1956 में बिहार भूमि सुधार अधिनियम लागू किया ताे जमींदारी प्रथा खत्म हाे गई। टाटा स्टील की जमीन का मालिक बिहार सरकार हाे गई अाैर टाटा काे यह जमीन लीज पर दी गई। अगर 1932 का खतियान लागू हुअा ताे शहर की पूरी जमीन का स्वामित्व टाटा स्टील का हाे जाएगा। बस संथाल परगना में 1932 के खतियान काे अाधार नहीं बनाया जा सकेगा, क्याेंकि वहां अंतिम सर्वे 1908 में हुअा था। जबकि राज्य के 80 फीसदी क्षेत्राें में 1932 में केडेस्ट्रल सर्वे हुअा था।

गुरुजी ने फिर दाेहराया-सरकार जल्द 1932 का कट अाॅफ डेट लागू करेगी : दुमका. झामुमाे सुप्रीमाे शिबू साेरेन ने बुधवार काे फिर दाेहराया कि तत्कालीन रघुवर सरकार द्वारा 1985 की डेट से स्थानीय नीति परिभाषित करना गलत है। यह अादिवासी-मूलवासियाें के अधिकाराें का हनन है। हमारी सरकार इसमें अविलंब बदलाव करेगी। खिजुरिया में अपने अावास पर उन्हाेंने कहा कि अादिवासियाें-मूलवासियाें के हक के लिए 1932 का कट अाॅफ डेट लागू की जाएगी। इसके बाद यहां के जंगल-झाड़ में रहने वाले खतियानी रैयत वाले अादिवासी-मूलवासियाें काे पलायन नहीं करना पड़ेगा। मसानजाेर डैम पर उन्हाेंने कहा कि बंगाल सरकार इस पर जबरन कब्जा किए हुए है। डैम हमारे क्षेत्र में है अाैर बिजली-पानी का लाभ बंगाल उठा रहा है। सरकार इस पर भी विचार करेगी। गाैरतलब है कि मंगलवार काे बरवाअड्डा में गुरुजी ने कहा था कि झारखंड सरकार माैज्ूदा स्थानीय नीति में संशाेधन करेगी। 1932 के खतियान के अाधार पर स्थानीय नीति बनाई जाएगी।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना