पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • पीजी डॉक्टर ने बच्चे के कान से कागज निकालने के लिए 400 रु., नहीं दी रसीद

पीजी डॉक्टर ने बच्चे के कान से कागज निकालने के लिए 400 रु., नहीं दी रसीद

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सरकारी अस्पतालों में मरीजों के साथ लूट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसका जीता-जागता उदाहरण मजीठा रोड के ईएनटी अस्पताल में मिला है। यहां तैनात एक पीजी डॉक्टर ने पांच साल के बच्चे के कान से कागज निकालने के 400 रुपए ले लिए। खास बात तो यह रही कि इसकी रसीद भी नहीं दी।

बच्चे हर्ष कुमार के कान में कागज चला गया था और उसके पिता राजेश कुमार उसे यहां लेकर आए। इसके बाद एक पीजी डॉक्टर ने बच्चे के कान से कागज निकाला और उनसे 400 रुपए मांगे। सरकारी फीस समझ पैसे दे दिए जब रसीद मांगी तो पीजी ने कहा कि रसीद नहीं मिलती, यह फाइल चार्ज है। काफी बहस के बाद दवा के नाम पर एक निजी मेडिकल कंपनी का सैंपल पकड़ा दिया। आरटीआई एक्टिविस्ट राजिंदर शर्मा राजू ने बताया कि इस मामले से साबित होता है कि ईएनटी में भी भ्रष्टाचार का बोलबाला है। उनका कहना है कि सरकार ने फाइल चार्ज 500 रुपए तय किए हैं, लेकिन पीजी ने पैसे कम लेकर रसीद नहीं दिया और पैसे जेब में रख लिए।

खबरें और भी हैं...