पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • 25 गांवों में पहुंची टीम, 110 खेतों का दौरा कर बनाए 50 पंचनामे

25 गांवों में पहुंची टीम, 110 खेतों का दौरा कर बनाए 50 पंचनामे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
60 ग्रामसेवक व 22 पटवारी की टीम फसल पर बीमारी का प्रकोप देखने निकली

भास्कर संवाददाता|खरगोन

कृषि व राजस्व विभाग के ग्रामीण विस्तार अधिकारी प्रभावित कपास-सोयाबीन फसल का सर्वे कर रहे हैं। सहायक संचालक कृषि प्रकाश ठाकुर ने बताया 60 ग्रामीण विस्तार अधिकारी व 22 पटवारी की टीम बनाई है। अमले ने अब तक 110 खेतों का दौरा कर 250 किसानों से चर्चा की है। 25 गांव से 50 पंचनामे बनाए।

गोगांवा, खरगोन, झिरन्या, भीकनगांव व भगवानपुरा मंे जड़, सड़न, रसचूसक कीट, पत्ते लाल होने और इल्ली के अधिक प्रकोप सामने आया है। बड़वाह, महेश्वर व कसरावद मंे कपास के साथ सोयाबीन पर बीमारी का प्रकोप मिला। कृषि वैज्ञानिक व्हायके जैन, एमएल शर्मा, डॉ. अरुण खिरे, कृषि उप संचालक एमएल चौहान, आत्मा परियोजना संचालक एमएल वास्कले खेतों में भ्रमण कर रहे हैं।

ऑक्सीक्लोराईड, डब्ल्यूपी का िछड़काव करें

फसलों में कई कीट व्याधि सामने आई है। वैज्ञानिकों ने जड़, सड़न रोकने के लिए ऑक्सीक्लोराईड, डब्ल्यूपी का घोलकर िछडकाव करने, रसचूसक कीट पर नियंत्रण के लिए डायफेन्यूरान या इमिडाक्लोपीड का स्प्रे करने के सुझाव दिए हैं। पत्ते लाल होने पर डीएपी पोटास का घोल बनाकर छिड़काव करने व सोयाबीन में इल्ली व चक्र भृंग कीट पर नियंत्रण के लिए ट्राइजोफॉस या क्यूनालफॉस का छिड़काव करने की सलाह दी जा रही है।

खेतों में दल न पहुंचने की शिकायत

बीमारी की चपेट मंे आई कपास-मिर्च की फसल को लेकर किसानों के दो सप्ताह पूर्व सूचना पर भी दल के न पहुंचने की शिकायत की। मुलठान के किसान भारत यादव, सोनीराम नाना, सुरेश भोलू, संदीप माली, कैलाश धूमसिंह समेत 40 से ज्यादा किसानों ने बताया अब तक उन्हें मुआवजा मिला है न ही बीमा की रािश। प्रशासन किसानों पर ध्यान नहीं दे रहा है।

और इधर...कंपनी का सोयाबीन बीज खराब, देशी उगा

खरगोन |
सेगांव तहसील के ग्राम केली के किसान मिश्रीलाल सिसोदिया ने दो एकड़ में एक कंपनी का सोयाबीन बीज लगाया था, यह अंकुरण के बाद खराब हो गया। जबकि इसी खेत मंे ही दूसरी ओर लगाया देशी बीज की फसल लहलहा रही है। किसान ने बताया 10 जुलाई को खरगोन के बिस्टान रोड स्थित जैन बीज भंडार की दुकान से 5250 रुपए में 30 किलो सोयाबीन बीज लिया था। बोवनी में कंपनी का बीज खत्म हो गया तो घर का देशी बीज 8 किलो लगा दिया। किसान ने बीज कंपनी के विरुद्ध कार्रवाई कर नुकसान की भरपाई की मांग की है। मामले को लेकर कलेक्टर से शिकायत की है।

खबरें और भी हैं...