पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda
  • वालिया की तलाश में विजिलेंस की छापामारी, काेर्ट से वारंट लेगी

वालिया की तलाश में विजिलेंस की छापामारी, काेर्ट से वारंट लेगी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम बठिंडा में क्लर्क रहते हुए करोड़ों रुपए की बेनाम संपत्ति बनाने वाले अकाउंटेंट रविंदर सिंह वालिया 46 दिन से फरार है। विजिलेंस विभाग के अधिकारी दावा जता रहे हैं कि उसे गिरफ्तार करने के लिए छापामारी की जा रही है।

उधर रविंदर वालिया केस दर्ज होने के 19 दिन बाद निगम की अधिकृत मेल में गंभीर रूप से बीमार होने का कारण बता छुट्टी अप्लाई कर रहा है। 12 से 15 जून तक लगातार छुट्टी का आवेदन करने वाले वालिया के मामले में जमीनी सच्चाई यह है कि लुधियाना से 21 मई को फारिग होने के बाद उसने बठिंडा नगर निगम में ज्वाइन ही नहीं किया। उसी दिन लोकल बाॅडीज विभाग ने उसके तबादले का पत्र जारी किया था और अगले दिन 22 मई को विजिलेंस विभाग ने उसके खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया तो वह फरार हो गया। दूसरी तरफ नगर निगम कमिश्नर डाॅ. रिशिपाल सिंह ने रविंदर वालिया के संबंध में लोकल बाॅडीज विभाग के डायरेक्टर को पत्र लिखकर स्पष्ट किया है कि वालिया 22 मई से लेकर आज तक करीब 46 दिनों से ड्यूटी से गैरहाजिर चल रहा है। इसके चलते उसके खिलाफ बनती विभागीय कार्रवाई की जाए।

विजिलेंस जांच में खुलासा हुआ है कि वालिया ने बठिंडा में क्लर्क रहते हुए अपने नाम पर कम अपने रिश्तेदार और ससुर के नाम पर बेनामी करोड़ों रुपए की संपत्ति बनाई है। विजिलेंस ने 2 दिसंबर 2015 को जांच नंबर 13 में केस दर्ज कर जांच शुरू की थी। विजिलेंस ने अप्रैल 2011 से मार्च 2016 तक बनाई जायदाद की जांच की। उसके और ससुर के पास करीब 4 करोड़ 19 लाख की संपत्ति का खुलासा किया था।

उसे पेश होना पड़ेगा
फरार चल रहे निगम अकाउंटेंट रविंदर वालिया की गिरफ्तारी के लिए विजिलेंस विभाग कोर्ट से जल्द ही उसके खिलाफ अरस्टेंट वारंट हासिल करेंगे, ताकि जल्द ही उसे पकड़कर अगली कार्रवाई की जा सके। वालिया के खिलाफ दर्ज मामले में उसे एक बार उनके समक्ष पेश होना ही पड़ेगा। भूपिंदर सिंह, एसपी विजिलेंस ब्यूरो।

खबरें और भी हैं...