पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • वजन कंट्रोल करने से ही कई बीमारियों का बचाव संभव

वजन कंट्रोल करने से ही कई बीमारियों का बचाव संभव

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर| चिकित्सा से जुड़े विशेषज्ञों की राय है कि वजन कंट्रोल है तो आमजन की कई बीमारियों का शरीर में प्रवेश कहीं हदतक नहीं हो सकता है। चाहे वह डायबिटीज या बीपी हो या फिर घुटनों व जोड़ों का दर्द हो, जिनसे आमजन ग्रसित रहता है और वह बीमारियां आगे चलकर उसके लिए घातक बन जाती हैं।

मेडिसन विभाग की एचओडी डा. ज्योति गोयल का कहना है कि डायबिटीज लाइफ स्टाइल से जुड़ी बीमारी है। इसमें शरीर के वजन की महत्वपूर्ण भूमिका है, जिससे नियंत्रित करना जरूरी है। इसे दवा से नहीं खुद ही मेहनत, शारीरिक व्यायाम, सुबह-शाम का घूमना, डाइट प्लान जरूरी है। रोजाना 40 मिनट तेज गति से चलना जरूरी है। जितनी कैलोरी डाइट के जरिए ग्रहण की जाती हैं, उससे ज्यादा खर्च करने की जरूरत है। तभी हम स्वस्थ रह सकते हैं। डायबिटीज की जांच नियमित करानी चाहिए, डाक्टर से सलाह लेते रहें। एक बार दवा शुरू करने के बाद समय-समय पर डाक्टर को दिखाना जरूरी है। ब्लड प्रेशर और डायबिटीज की बीमारी का आपस में लिंक है और दोनों का सेंट्रल प्वाइंट मोटापा होता है। मोटापा से कोलस्ट्रॉल अधिक होता है और उससे बीपी बढ़ता है। वहीं महिलाओं में थाईराइड की बीमारी हार्मोंस की वजह से होती है, जिसके लिए दवा लेना जरूरी है। हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. जगवीर सिंह का कहना है कि आजकल घुटनों में दर्द व जोड़ों में दर्द की शिकायत आमजन में मिलता है। इसकी वजह खासकर वजन अधिक होना है, क्योंकि वजन घुटनों पर आता है और उससे घुटनों व जोड़ों का दर्द शुरू होता है। इससे बचने के लिए व्यायाम करें, योगा करें और आलती-पाल्ती मारकर न बैठें। शौच के लिए कमोड के शौचालय का उपयोग करें। खानपान पोष्टिक रखें, जिसमें दूध कैल्शियम की पूर्ति करता है। हरी सब्जी व फल का सेवन भी जरूरी है। खाना रात को 8 बजे पहले कर लेना चाहिए और फिर घूमना जरूरी है। सुबह भी घूमना व योगा करना आवश्यक है, तभी स्वस्थ रह सकते हैं। उन्होंने अपने हॉस्पिटल में छत पर प्रत्येक गुरुवार को सुबह 4.45 बजे स्टाफ व अन्य मिलने जुलने वालों के लिए योगा की क्लास शुरू की हैं।

विश्व स्वास्थ्य दिवस आज
खबरें और भी हैं...